• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Siwan
  • In charge Headmaster Caught Stealing Children's Morsel In Siwan, The Teacher Was Going To Fill The Mid day Meal In The Trunk, The Villagers Caught

बच्चों का निवाला चोरी करते पकड़े गए प्रभारी प्रधानाध्यापक:सीवान में मिड-डे-मील का चालव डिक्की में भरकर जा रहे थे टीचर, ग्रामीणों ने पकड़ा

सीवान11 दिन पहले
लाल घेरे में आरोपी शिक्षक।

सीवान में एक विद्यालय के प्रभारी प्रधानाध्यापक को मिड-डे-मील का चावल चोरी करते हुए ग्रामीणों ने रंगे हाथ पकड़ लिया। इसके बाद चोरी का वीडियो बनाकर लोगों ने सोशल मीडिया पर शेयर कर दिया है। मामला 16 सितंबर की दोपहर सिसवन प्रखंड के उत्क्रमित मध्य विद्यालय सरौत का है। इस मामले में स्थानीय ग्रामीणों ने प्रभारी प्रधानाध्यापक परमेश्वर सिंह के खिलाफ ब्लॉक शिक्षा पदाधिकारी से शिकायत की। साथ ही आरोपी पर कार्रवाई की मांग की है।

बाइक की डिक्की में भरकर रोज ले जाते थे चावल।
बाइक की डिक्की में भरकर रोज ले जाते थे चावल।

वीडियो में साफ तौर पर देखा जा सकता है कि विद्यालय के प्रभारी प्रधानाध्यापक अपनी बाइक में स्कूल से मिड डे मील का चावल डिक्की में भर रहे है। इसके बाद मौके पर कुछ लोग शिक्षक चावल ले जाने का विरोध करते हैं। स्थानीय ग्रामीण चंद्रप्रकाश सिंह, शिक्षक जितेंद्र कुमार पांडे, सुमंत कुमार, अनिता कुमारी, राज किशोर सिंह दिनेश सिंह इत्यादि लोगों ने शिक्षक के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है।

रोज करते थे चोरी लोगों ने रंगे हाथ पकड़ा
ग्रामीणों का आरोप है कि प्रभारी प्रधानाध्यापक विद्यालय से मिड डे मील का चावल प्रत्येक दिन छुट्टी के बाद घर जाते वक्त अपने बाइक की डिक्की में चावल भरकर ले जाते हैं। इससे पहले भी लोगों ने इसकी शिकायत वरीय अधिकारियों से किया था लेकिन कार्रवाई नहीं हुई। 16 सितंबर की दोपहर छुट्टी के बाद प्रभारी प्रधानाध्यापक परमेश्वर सिंह विद्यालय के किचन में अपनी बाइक लगाकर मिड डे मील का चावल बोरी से निकाल कर डिक्की में भर रहे थे, इसी दौरान स्थानीय ग्रामीणों ने उनका वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया।

कहते हैं प्रभारी प्रधानाध्यापक

इस मामले में प्रभारी प्रधानाध्यापक परमेश्वर सिंह ने बताया कि मैं विद्यालय का प्रभार चलाने में असमर्थ हूं। बकायदा उन्होंने इसकी जानकारी ब्लॉक शिक्षा पदाधिकारी को दी है। जब चावल चोरी के मामले में उनसे बात की गई तो उन्होंने टाल-मटोल करते हुए संतोषजनक जवाब नहीं दिया। उन्होंने अपने ऊपर लगे आरोप को बेबुनियाद बताया है।

कहते हैं डीईओ

इधर वायरल वीडियो के मामले में जिला शिक्षा पदाधिकारी मिथिलेश कुमार ने बताया कि मामला संज्ञान में है संबंधित बीईओ से मामले की जांच करने की बात कही गई है।

खबरें और भी हैं...