मौसम का हाल:आज 2 डिग्री बढ़कर 41 डिग्री हो जाएगा अधिकतम पारा

सीवान11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • 30 जिले में गर्मी परवान पर फिर भी स्कूलों का संचालन समय नहीं हुआ कम

जिले में गर्मी परवान पर आ गई है, कारण कि शनिवार को अधिकतम तापमान 39 डिग्री और न्यूनतम तापमान 27 डिग्री था। जबकि हवा की रफ्तार 16 किलोमीटर प्रति घंटा था। इससे लोग गर्मी से परेशान रहे। जनजीवन अस्त व्यस्त रहा। स्कूली बच्चों को काफी परेशानी हो रही है। करण कि स्कूलों से बच्चों को घर लौटने के दौरान उन्हें तेज धूप का सामना करना पड़ रहा है, फिर भी संचालन समय कम नहीं किया जा रहा है। जबकि शिक्षक संगठनों ने जिला शिक्षा पदाधिकारी को आवेदन देकर स्कूलों का संचालन करने की अनुरोध किया है। मौसम विभाग की वेबसाइट से मिली जानकारी के अनुसार रविवार को अधिकतम तापमान में 2 डिग्री की और बढ़ोतरी हो जाएगी। अधिकतम तापमान 41 डिग्री और न्यूनतम तापमान 27 डिग्री पर रहेगा। इस वजह से गर्मी का असर और ज्यादा होगी। जिले में रोज पुरवा हवा चल रही है। इस वजह से गर्म हवा का असर हो रहा है। पुरवा हवा की वजह से रात में भी लोगों को उमस भरी गर्मी से राहत नहीं मिल रही है। जबकि रात में अगर पछुआ हवा चलती तो उमस भरी गर्मी से लोगों को कुछ राहत मिल सकती थी। मौसम खराब होने की वजह से लोग अस्त व्यस्त हो गए हैं। हालांकि अगले दो दिनों तक आकाश पूरी तरह से साफ रहेगा। इससे तेज रोशनी से लोगों को परेशानी होगी।
सब्जी की खेती पर पड़ रहा असर
शनिवार को कुछ सुबह में कुछ देर के लिए आकाश में बादल छाए हुए थे। इस वजह से लोगों को लगा कि दिन में भी बादल छाए रहने से गर्मी से निजात मिल जाएगी, लेकिन सुबह 10:00 बजे के बाद मौसम पूरी तरह साफ हो गया। इससे गर्मी भी तेज हो गई। तेज गर्मी की वजह से सब्जी की फसलों को भी नुकसान पहुंच रहा है। कारण कि खेत सूख जा रहे हैं। इससे किसानों को रोज पानी चला कर सब्जी की खेती बचानी पड़ रही है। इससे सब्जी के उत्पादन में किसानों को अधिक खर्च करना पड़ रहा है। इससे किसानों को आर्थिक नुकसान उठाना पड़ रहा है।

डीएम को सौंपा ज्ञापन
बिहार राज्य प्राथमिक शिक्षक संघ के सदर अनुमंडल के उप प्रधान सचिव राकेश कुमार सिंह, पचरूखी सचिव जयप्रकाश सिंह एवं जिला प्रतिनिधि भूपेश कुमार ने जिला शिक्षा पदाधिकारी को आवेदन देकर विद्यालय के समय में परिवर्तन की मांग की है। शिक्षक नेताओं ने प्रचंड गर्मी के मद्देनजर बीमारी की आशंका को देखते हुए विद्यालय का समय साढ़े दस बजे तक करने की मांग की है। शिक्षक नेताओं ने बताया कि प्रचंड गर्मी के कारण कै-दस्त,लू का प्रकोप ,बुखार आदि का प्रकोप बढ़ गया है।इसलिए विद्यालय के समय में परिवर्तन जरूरी है।

खबरें और भी हैं...