एक ही घर में ब्याही दो बहनों की पिटाई:सड़क पर बेहोश पड़ी बहनों को सदर अस्पताल में करवाया भर्ती

सुपौल3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अस्पताल में इलाजरत पीड़ित महिलाएं। - Dainik Bhaskar
अस्पताल में इलाजरत पीड़ित महिलाएं।

दहेज की मांग पूरा न करने पर एक ही घर में ब्याही दो बहनों को ससुराल वालों ने पहले फंदे से लटका कर मारा फिर जख्मी हालत में घर से बाहर निकाल दिया। जख्मी हालत में सड़क पर बेहोश पड़ी दोनों बहनों को ग्रामीणों के सहयोग से सदर अस्पताल में भर्ती करवाया गया। सदर अस्पताल में इलाजरत सदर थाना क्षेत्र अंतर्गत जगतपुर निवासी मनीष कामत की पत्नी पीड़िता सोनी देवी ने बताया कि 08 वर्ष पहले जगतपुर निवासी दीपक कामत से उसकी बड़ी बहन रानी देवी की शादी की शादी हुई थी। 02 वर्ष पूर्व मैंने मनीष कामत के छोटे भाई दीपक कामत से प्रेम विवाह किया। हम दोनों जमशेदपुर में रहते है।

बताया कि पहले करीब डेढ़ साल तक सब ठीक रहा उसके बाद मनीष दहेज की मांग को मेरे साथ रोज मारपीट करता था। जिसकी शिकायत लेकर मैं वहां पर थाना भी गई थी। पुलिस ने मामले में हस्तक्षेप करते हुए इकरार-नामा भरवा कर मनीष को सही वर्ताव रखने की हिदायत दी। जिसके बाद वहां कुछ दिनों तक सब ठीक रहा। 15 दिन पहले मनीष की दादी की मृत्यू होने पर कर्म क्रिया में हमलोग गांव आ गए। जिसके बाद यहां सास ससुर पति का बड़ा भाई दीपक कामत ननद सभी मिलकर हम दोनों बहनों को प्रताड़ित एवं मारपीट करने लगे। जिसकी सूचना मैंने घर वालों को दी।

इसकी शिकायत लेकर जब मेरे पिता गोपाल मंडल मेरे ससुराल पहुंचे तो इन लोगों उनके साथ भी मारपीट की। पीड़िता ने बताया कि ससुराल वालों ने हम दोनों को छत से लटका पीटा।

घटना को लेकर पीड़िता के पिता ने सदर थाना में आवेदन देकर कार्रवाई की मांग की है। थानाध्यक्ष मनोज कुमार महतो ने बताया कि आवेदन प्राप्त हुआ है। पुलिस कार्रवाई में जुट गई है।

खबरें और भी हैं...