पुलिस को पता बताया...रेप के आरोपी ने पीट-पीटकर मार डाला:वैशाली में बोलकर गया, एक-एक लड़के का मर्डर करूंगा; अगले दिन लाश मिली

वैशाली4 महीने पहले

वैशाली में रेप के मामले में आरोपी ने एक नाबालिग को पीट-पीट कर मार डाला। 15 साल के नीरज की गलती सिर्फ इतनी थी कि वो पुलिस की गाड़ी में बैठकर आरोपी के घर तक गया था। और उसने उसके घर का पता बताया था। रविरंजन ने पहले गांव में घुसकर एक-एक लड़के की हत्या की धमकी दी। सोमवार को अचानक गायब हो गाय अगले दिन उसका शव गड्ढे में मिला। आरोपी फरार है। पुलिस उसकी तलाश कर रही है।

पोल में हिस्सा लेकर अपनी राय दीजिए...

घटनास्थल पर पहुंची पुलिस की टीम।
घटनास्थल पर पहुंची पुलिस की टीम।

ग्रामीणों ने शव उठाने से किया मना

मामला पातेपुर थाना इलाके के भेरोखरा गांव का है। यहां के बंगरी गाछी के पास गड्डे से नीरज का शव मिला। इसकी जानकारी मिलते ही मौके पर भारी संख्या में ग्रामीणों की भीड़ जुट गई। पातेपुर पुलिस भी घटनास्थल पर पहुंची। आक्रोशित लोगों ने शव को उठाने से मना कर दिया। कड़ी मशक्कत के बाद लोगों को शांत कराया गया। इसके बाद शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए सदर अस्पताल हाजीपुर भेज दिया गया।

पुलिस ने शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा।
पुलिस ने शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा।

नीरज की फोटो मांग रहा था आरोपी रविरंजन

मृतक नीरज के नाना गणेश भगत ने पुलिस को दिए गए आवेदन में बताया कि 'सोमवार को गांव के ही राम दरस भगत के बेटे रविरंजन कुमार गांव के ही एक युवक सुनील भगत के मोबाइल पर फोन कर कहा कि नीरज कुमार का फोटो चाहिए जल्द भेजो।

सुनील भगत ने फोटो नहीं होने की बात कही। फिर रविरंजन ने कहा कि बलात्कार के केस में मेरी मां को गांव के लोगों ने पकड़वाया है। उस टोले के एक-एक लड़के का मर्डर करूंगा।' इसके बाद सोमवार की शाम पांच बजे से गणेश भगत का नाती नीरज कुमार गायब हो गया।

नीरज के गायब होने पर उसके परिजनों ने काफी खोजबीन। लेकिन, उसका पता नहीं चला। गांव में काली पूजा को लेकर चल रहे सांस्कृतिक कार्यक्रम को लेकर परिजनों ने सोचा कि नाच देख रहा होगा। लेकिन, मंगलवार की सुबह किशोर के घर से महज 500 मीटर की दूरी पर ही गड्ढे से उसकी लाश मिली। उस रास्ते से लौट रहे लोगों की नजर पड़ी।

घटनास्थल पर ग्रामीणों की भीड़।
घटनास्थल पर ग्रामीणों की भीड़।

क्या है मामला

मृतक के परिजन और ग्रामीणों ने बताया कि आरोपी रविरंजन कुमार कई मामलों में पहले भी जेल जा चुका है। गांव के ही एक नाबालिग लड़की को बहला फुसला कर शादी का झांसा देकर बीते दो वर्षों से यौनशोषण करता था।

मामला सामने आने के बाद कई बार गांव के लोगो ने पंचायत के माध्यम से दोनों को शादी करने का फैसला सुनाया। इसपर दोनो के बीच सहमति भी बनी थी।फिर रविरंजन लड़की को अपने घर भी ले गया था। लड़की के घर पहुंचने पर लड़के के घर वालों ने लड़की के साथ मारपीट और गालीगलौज कर भगा दिया था।

मृतक के परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल।
मृतक के परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल।

रविरंजन की मां को थाने ले गई थी पुलिस

लड़की के परिजनों ने मामले को लेकर महिला थाना हाजीपुर में लिखित शिकायत दी थी। शिकायत मिलने के बाद महिला थाना की पुलिस मामले की जांच करने भेरोखरा गांव पहुंची। इस दौरान पुलिस ने गांव के ही एक किशोर को आरोपी के घर का पता बताने के लिए अपनी गाड़ी पर बैठाकर आरोपी के घर पहुंची थी। पूछताछ के लिए आरोपी रविरंजन की मां मलेट्री देवी को अपने साथ थाने ले गई थी।