वैशाली के चर्चित स्वर्ण व्यवसाई पंकज हत्याकांड का खुलासा:लूटपाट में तीन अपराधियों ने मारी थी गोली, फिर हो गए थे फरार; पुलिस ने दिल्ली से किया गिरफ्तार

हाजीपुर (वैशाली)13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
प्रेस कॉन्फ्रेंस कर मीडिया को जानकारी देते हुए एसडीपीओं एस के पंजियार और थानाध्यक्ष। - Dainik Bhaskar
प्रेस कॉन्फ्रेंस कर मीडिया को जानकारी देते हुए एसडीपीओं एस के पंजियार और थानाध्यक्ष।

संजीत कुमार / वैशाली

-- चर्चित स्वर्ण व्यवसाई पंकज हत्याकांड का खुलासा,लूटपाट में तीन अपराधियों ने मारी थी गोली।घटना के बाद दिल्ली भाग गए थे दो अपराधी,वैशाली पुलिस ने दिल्ली से किया गिरफ्तार।

वैशाली जिले के सहदेई ओपी क्षेत्र के सहरिया गांव के स्वर्ण व्यवसाई पंकज कुमार की हत्याकांड का खुलासा करते हुए पुलिस ने तीन अपराधी को गिरफ्तार कर लिया जिसके पास से पुलिस ने एक देशी पिस्टल,एक देशी कट्टा और चार कारतूस बरामद किया है।महनार एसडीपीओ एस के पंजियार ने बताया कि लूटपाट का विरोध करने पर अपराधियों ने व्यवसाई को गोली मारी थी जिसके कारण ईलाज के दौरान व्यवसाई की मौत हो गई थी।उन्होंने बताया कि गिरफ्तार अपराधियों ने घटना में अपनी संलिप्तता स्वीकार की है।वहीं एसडीपीओ ने कहा कि गिरफ्तार अपराधियों की पुराना अपराधिक इतिहास है और वैशाली के अलावा समस्तीपुर जिले में भी कई घटना में शामिल रहें है। मालूम हो कि बीते 22 अप्रैल की देर शाम बाइक सवार तीन अपराधियों ने स्वर्ण दुकानदार को गोली मार दी थी जब वह अपनी आभूषण की दुकान बंद कर भाई के साथ बाइक से घर लौट रहा था उसी दौरान अपराधियों ने लूटपाट करने के दौरान विरोध करने पर गोली मार दिया था।परिजनों ने आनन फानन में इलाज के लिए हाजीपुर सदर अस्पताल लाया था जहाँ इलाज के दौरान मौत हो गई थी।