बीच सड़क पत्नी ने पकड़ी कमर, कहा- घर चलो:2 साल से परिवार से दूर भागते टीचर की कहानी; बोला- फैमिली मेरे कंट्रोल में नहीं

हाजीपुर (वैशाली)5 महीने पहले

वैशाली के हाजीपुर कलेक्ट्रेट परिसर में पति-पत्नी और बेटे के बीच हाई वोल्टेज ड्रामा चला। पत्नी पति को कमर से पकड़ कर घर ले जाना चाहती थी। बेटा भी अपने पिता का हाथ पकड़ कर खींच रहा था लेकिन वो उनके साथ जाना नहीं चाहते थे। पत्नी का कहना था हम छोड़ेंगे नहीं, ये घर नहीं आते हैं। बच्चों को दो साल से छोड़ दिया है। वहीं पति का कहना है कि वे पत्नी के साथ रहना ही नहीं चाहते। वह मायके के इशारे पर चलती है। बच्चे भी उनकी नहीं सुनते हैं।

सड़क पर हुए फैमिली ड्रामे की पूरी खबर पढ़ने से पहले पोल में हिस्सा लेकर अपनी राय दें।

दरअसल, पति परिवार को छोड़ दो साल से फरार चल रहा था। जैसे ही महिला को कलेक्ट्रेट परिसर में पति के पहुंचने की जानकारी मिली, वो वहां बेटे के साथ पहुंच गई। अभय कुमार सिंह शिक्षक हैं और सदर प्रखंण्ड के दिघी कला के निवासी हैं।

वकील से मिलने सिविल कोर्ट आए थे

उनकी पत्नी ममता कुमारी ने बताया कि दोनों एक 20 साल का बेटा और एक 18 साल की बेटी है। अभय बीते 2 वर्षों से घर से घर नहीं आए हैं। गुरुवार को वे सिविल कोर्ट हाजीपुर में किसी मामले को लेकर अभय कुमार सिंह वकील से मिलने आए थे। इसकी जानकारी उनकी पत्नी ममता कुमारी और उनके बच्चों को हुई तो वो भी वहां पहुंच गए।

इसके बाद सिविल कोर्ट से निकलते ही समाहरणालय परिसर में हाई वोल्टेज ड्रामा शुरू हो गया। ममता कुमारी ने अभय कुमार सिंह को पीछे से पकड़ लिया और वह भागने का प्रयास करते रहे। कुछ देर तक तो आम लोगों के समझ में ही नहीं आया कि मामला क्या है। लोगों ने बीच-बचाव किया तो दोनों अपनी-अपनी दलीलें देने लगे।

दंपती के बीच समाहरणालय परिसर में हाई वोल्टेज ड्रामा शुरू हो गया।
दंपती के बीच समाहरणालय परिसर में हाई वोल्टेज ड्रामा शुरू हो गया।

अभय कुमार सिंह ने कहा कि मेरी पत्नी अपने मायके के इशारे पर चलती है। इसलिए वह घर पर नहीं रहते। वहीं, पत्नी का आरोप है कि यह बिना वजह के किसी और चक्कर में 2 साल से घर से फरार हैं। इस बीच कई बार उनको पकड़ने का प्रयास किया गया लेकिन यह पकड़ में नहीं आए। इधर, हंगामे की सूचना मिली तो मौके पर पुलिस पहुंची और पूछताछ के लिए दोनों को थाना ले गई।