समस्या:कुराली-चंडीगढ़ मार्ग पर जमा दूषित पानी की निकासी की मांग कर रहे हैं लोग

कुराली25 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

पिछले कई वर्षों से शहर के कुराली-चंडीगढ़ मार्ग पर बस स्टैंड के पास बरसाती पानी के निकास का सही प्रबंध न होने कारण लोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। सड़क किनारों पर भरने वाले बरसाती पानी के निकास का कोई प्रबंध नहीं हो सका है। सड़कों के किनारों पर बरसाती पानी के बने तालाब कारण पैदल,साइकिल सवार और अन्य दो पहिया चालकों को निकलने में भारी परेशानी झेलनी पड़ रही है, और सड़क के बीच चलने कारण हादसों का शिकार होना पड़ रहा है।

शहर वासियों ने चंडीगढ़ मार्ग पर सड़क किनारे भरे पड़े बरसाती पानी के निकास के लिए ठोस प्रबंध किए जाने की मांग की है। शहर में कुराली बस स्टैंड से लेकर चनालों तक के बरसाती पानी के निकास के लिए पहले बड़े निकासी नाले बनाए हुए थे जिनमें से बरसाती पानी का निकास होता था लेकिन शहर में सीवरेज डालने के बाद इन नालों को बंद कर दिया गया जिसके बाद से ही चंडीगढ़ रोड पर पानी के निकास की भारी समस्या बनी हुई है।

बारिश के बाद कई सप्ताह तक सड़कों के किनारों पर पानी भरा रहता है और कई दिनों तक भरे इस पानी से बदबू और मच्छरों की भरमार पैदा हो जाती है। सड़कों पर बने ये पानी के तालाब राहगीरों के लिए भारी सिरदर्दी बने हुए है। सड़क के किनारे पैदल और साइकिल सवारों के अतिरिक्त अन्य दो पहिया वाले वाहनों का निकलना मुश्किल हो जाता है तथा बीच सड़क पर जाने कारण वे कई बार हादसों का शिकार हो जाते है।

नेशनल हाईवे पर सड़क के बीच चलने वाले बच्चे कभी भी किसी बड़े हादसे का शिकार हो सकते है। शहर वासियों ने कहा कि एक तरफ डेंगू की बीमारी फैली हुई है और सड़क पर पिछले कई सप्ताह से दूषित पानी इस बीमारी को बढ़ावा दे रहा है।

शहर के चंडीगढ रोड पर लंबे समय से बरसाती पानी का निकास न होने कारण बने छप्पड़ों संबंधी का मुद्दा पिछले कई वर्षों से काउंसिल की मीटिंगों में उठाया जाता रहा है लेकिन नगर काउंसिल और प्रशासन लोगों की समस्या को हल करवाने में नाकाम रहा है। शहर वासियों ने नई बनी काउंसिल और प्रशासन से सड़को पर भरे खड़े इस दूषित पानी की निकासी का ठोस प्रबंध किए जाने की मांग की है।

खबरें और भी हैं...