सुविधा / 30 जून तक 10% रिबेट, बिना पेनल्टी जमा करवा सकेंगे टैैक्स

X

  • प्राॅपर्टी टैक्स, पानी के बिल का बकाया जमा करवाने के लिए राहत
  • तीसरी बार बढ़ाई गई प्रॉपर्टी टैक्स का बकाया जमा करवाने की तारीख

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 05:00 AM IST

मोहाली. शहर में प्रॉपर्टी टैक्स और पानी के बिलों का बकाया जिन लोगों ने अभी जमा नहीं करवाया है उनको सरकार ने एक बार फिर राहत देने का ऐलान किया है। जिसके तहत अब टैक्स जमा करवाने वाले लोग 30 जून तक अपना टैक्स जमा करवा सकेंगे। उन्हें उसी प्रकार राहत दी जाएगी जो 31 मार्च तक टैक्स जमा करवाने वालों को दी गई थी।

निगम कमिश्नर कमल शर्मा ने बताया कि जो लोग 30 जून तक प्रॉपर्टी टैक्स जमा करवाते हैं। उन्हें 10 फीसदी रिबेट और बिना कोई पेनल्टी लिए टैक्स जमा करवाने की राहत दी गई है। निगम ने पीने के पानी को लेकर भी 31 मार्च तक कोई पेनल्टी न लेने का फैसला लिया है। पीने का पानी निगम, गमाडा और पब्लिक हेल्थ विभाग की ओर से अपने-अपने तौर पर किया जाता है और इसी तरह वे इसके बिल भी इकट्ठा करते हैं।

तीसरी बार लॉकडाउन के चलते लोगों को राहत: शहर में प्रॉपर्टी टैक्स को लेकर नगर निगम हमेशा लोगों को राहत देने के लिए अभियान चलाता आया है और मार्च में इसके लिए स्पेशल कैंप भी लगाए जाते हैं। 31 मार्च तक पिछले साल प्रॉपर्टी टैक्स जमा करवाया जाना था। 31 मार्च तक जमा करवाने वालों को कोई पेनल्टी नहीं लगनी थी और इसके साथ 10 फीसदी रिबेट भी दी गई थी।

इसी दौरान सरकार ने रिबेट की समय सीमा 31 मई तक कर दी, लेकिन लॉकडाउन के चलते मार्च से ही सारे आॅफिस बंद हो गए थे। लोगों को इसका फायदा नहीं मिल पाया। अब लॉकडाउन 4 के खुलने के साथ ही 31 मई तक दी गई रिबेट को बढ़ाकर 30 जून कर दिया गया है। ताकि लोगों को इस रिबेट का फायदा मिल सके और सरकारी खजाना भी भर सके।
निगम का 6 करोड़ रुपए प्रॉपर्टी टैक्स बकाया
नगर निगम का प्रॉपर्टी टैक्स का करीब 6 करोड़ रुपए लाेगाें की ओर बकाया खड़ा हुआ है। नगर निगम के सुपरिंटेंडेंट भीमसेन ने बताया कि वर्ष 2020 में 28 करोड़ प्रॉपर्टी टैक्स का लक्ष्य रखा गया था। उसमें से करीब 26 करोड़ रुपए प्रॉपर्टी टैक्स आ गया है। 2 करोड़ का इस साल का और करीब 4 करोड़ रुपए पिछले साल का खड़ा है। ज्यादातर टैक्स सरकारी इमारतों का है।
30 जून के बाद 20 % पैनल्टी देनी होगी...
सरकार की ओर से जो तीसरी बार टैक्स में लोगों को राहत दी गई है उसका मकसद लोगों को पैनल्टी और ब्याज से बचाना है। 30 जून के बाद जो भी व्यक्ति प्रॉपर्टी टैक्स जमा करवाएगा उसे टैक्स की राशि पर 20% पैनल्टी और 18% ब्यॉज अदा करना होगा। इससे लोगों को बचाने के लिए सरकार की इस रिबेट नीति का फायदा उठाना चाहिए।
सरकारी संस्थानों की ओर भी प्रॉपर्टी टैक्स बकाया...
पुलिस विभाग की ओर 80 लाख रुपए बकाया है। जिसमें एनआरआई फेज-7, स्टेट क्राइम ब्रांच फेज-4, शहर के सभी पुलिस स्टेशंस, पुलिस रेजिडेंस काॅलोनियां शामिल हैं। जबकि गमाडा की ओर 50 लाख बकाया है। जिला प्रशासन ने भी नगर निगम को प्रॉपर्टी टैक्स तौर पर डिस्ट्रिक्ट एडमिनिस्ट्रेशन कॉम्प्लैक्स 10 लाख रुपए देना है।
पानी के बकाया बिल पर 10 % रिबेट मिलेगी...
पीने के पानी को लेकर जो लोगों की तरफ बकाया खड़ा है उसे भी 30 जून तक रिबेट में रखा गया है। पीने के पानी की व्यवस्था नगर निगम, गमाडा और पब्लिक हेल्थ विभाग कर रहा है। पीने के पानी को लेकर लोगों की तरफ से 35 लाख रुपए बकाया है। 30 जून तक जो भी बकाया किसी भी साल जमा करवाएगा उसे 10 फीसदी रिबेट दी जाएगी।
डेराबस्सी, जीरकपुर सहित जिले के सभी काउंसिल निवासियों को होगा फायदा
लोकल बॉडीज विभाग की ओर से 30 जून तक प्रॉपर्टी टैक्स और वॉटर सप्लाई बिल एरियर करने को लेकर जो निर्देश जारी किए गए हैं। उसका सभी नगर निगम, नगर काउंसिल, नगर परिषद और ग्राम पंचायत में रहने वाले लोगों को फायदा मिलेगा। डेराबस्सी, जीरकपुर, कुराली, खरड़, नयागांव, बनूड़, लालडू में भी विभाग के नियमों के तहत लोग रिबेट का फायदा उठा सकते हैं। लॉकडाउन के चलते जो 31 मई तक की छूट दी गई थी। उसको लोग ठीक प्रकार से लाभ नहीं ले सके हैं। अब लॉकडाउन 4 में छूट के कारण लोगों के लिए करीब डेढ़ महीना इस रिबेट को लेने के लिए समय सीमा बढ़ा दी है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना