टूटी सड़कें नगर निगम करवाएगा ठीक:खस्ताहाल सड़कों पर 18 करोड़ की प्री-मिक्स डलेगी

मोहालीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

नगर निगम ने बरसात के बाद अब शहर की मुख्य सड़कों को ठीक करने के लिए कमर कस ली है। जिसके तहत सड़कों पर प्री-मिक्स डालने के लिए करीब 18 करोड़ खर्च किए जाएंगे। 14 करोड़ रुपए की राशि निगम सिर्फ सेक्टर-76 से 80 की सड़कों को ठीक करने पर खर्च करेगा, जबकि 4 करोड़ रुपए से 3 मुख्य मार्गों को ठीक किया जाएगा।

पूरे काम को लेकर निगम की ओर से इंजीनियरिंग विंग को निर्देश जारी किए गए हैं कि पूरा काम सर्दी के मौसम से पहले किया जाए। निगम मेयर अमरजीत सिंह सिद्धू की ओर से भी हाउस मीटिंग में साफ किया गया था कि जो भी सड़कें ठीक होने वाली हैं उन्हें समय रहते ठीक किया जाएगा।

चंडीगढ़ को जोड़ने वाली 3 सड़कों पर होंगे 4 करोड़ खर्चः निगम की ओर से चंडीगढ़ को जोड़ने वाली सड़कों पर प्री-मिक्स डालने के लिए 4 करोड़ रुपए की राशि खर्च की जाएगी। इन मार्गों में वाईपीएस चौक से लेकर गुरुद्वारा सिंह शहीदां तक का मार्ग शामिल है।इसके साथ ही चंडीगढ़ की फर्नीचर मार्केट से लेकर राधास्वामी सत्संग भवन तक और स्पाइस चौक से लेकर एयरपोर्ट रोड तक के इंडस्ट्री एरिया को जोड़ने वाले मार्ग पर प्रीमिक्स डाली जाएगी।

डिप्टी मेयर कुलजीत सिंह बेदी ने बताया कि इसके बाद अन्य सड़कों पर खर्च किया जाएगा। यह 3 मार्ग ऐसे हैं जो सबसे ज्यादा चंडीगढ़ आने-जाने के लिए शहर और पंजाब के अन्य हिस्सों के लोग इस्तेमाल करते हैं इसलिए इन्हें प्राथमिकता दी गई है। सड़कों की खस्ता हालत को लेकर शहर का जो एरिया चर्चा में है वह सेक्टर 76 से 80 की सड़कें हैं। यह एरिया पहले ग्रेटर मोहाली एरिया डेवलपमेंट अथॉरिटी के पास था।

उस समय भी यहां रहने वाले लोग और एसोसिएशन की ओर से गमाडा को बार-बार इन सड़कों को ठीक करने के लिए कहा गया। यहां की मुख्य सड़कें बुरी तरह से टूटी हुई थी। अब यह एरिया नगर निगम के पास आ गया है और इसे ठीक करने के लिए अथॉरिटी की ओर से भी पैसे दिए गए हैं, इसलिए यहां की मुख्य सड़कों को ठीक करने पर नगर निगम 14 करोड़ रुपए खर्च करेगा।

सेक्टर-78 में नगर निगम के मेयर अमरजीत सिंह सिद्धू भी रहते हैं। इसलिए नगर निगम ने इस क्षेत्र की सड़कों को प्राथमिकता के आधार पर प्रीमिक्स डालकर ठीक करने का निर्णय लिया है। जिसको लेकर फाइनेंस एंड अकाउंट कमेटी में भी प्रस्ताव पारित किया गया था जिसे बाद में हाउस से परवानगी मिली थी।

अंदरूनी सड़कें दूसरे चरण में होंगी ठीक
नगर निगम के डिप्टी मेयर कुलदीप सिंह बेदी ने बताया कि इस समय उन मुख्य मार्गों को ठीक किया जा रहा है जिन पर ट्रैफिक प्रेशर है और जिन्हें बनाए 5 वर्ष का समय पूरा हो चुका है। ऐसी सड़कों पर प्री-मिक्स डाली जा रही है। शहर के अंदरूनी मार्गों में भी गर्मी के दौरान कई जगह पर काम किया गया है। जहां पर अभी काम नहीं हुआ है उसे दूसरे फेज में तैयार किया जाएगा। नगर निगम के इंजीनियर विंग ने शहर में सड़कों को ठीक करने के लिए व्यापक स्तर पर प्लान तैयार किया है। जिस पर आने वाले समय में काम होगा और शहर के लोगों को इसका असर भी दिखाई देगा। इस समय नगर निगम ने सेक्टर्स के अंदर की सड़कें भी कई जगह री-कार्पेटिंग की हैं। लेकिन बीच-बीच में होने वाली बरसात के चलते रोकना पड़ा था। सभी मार्केट्स के पीछे की रोड पर भी काम हुआ है।

बरसात खत्म होने पर किया गया था पैच वर्क
इस बार हुई बरसात के चलते सड़कों पर प्रीमिक्स डालने के काम में देरी हो रही थी। इसी के मद्देनजर नगर निगम की ओर से शहर की उन सभी सड़कों को चुना गया जहां पर बरसात के कारण गड्ढे बन गए थे। पिछले डेढ़ महीने से इन सड़कों के गड्ढे भरने के लिए पैच वर्क नगर निगम की ओर से किया गया है। जिन मार्गों पर प्रीमिक्स डालने की जरूरत नहीं है उन पर लंबे-लंबे पैच लगाए गए हैं, ताकि सड़क को टूटने से बचाया जा सके।
इन सड़कों पर फिलहाल प्रीमिक्स नहीं डाली जाएगी, बल्कि गर्मी के मौसम में यहां प्रीमिक्स का काम होगा। इनमें शहर के कई अंदरूनी मार्ग शामिल हैं जहां पर पैच लगे हुए दिखाई देंगे। बरसात के दौरान जहां पर भी पानी की निकासी नहीं हुई थी उस एरिया की सड़क टूटी थी। इसलिए उसे पहले ठीक किया गया, ताकि और बरसात होने पर पानी इस सड़क को खराब न करे।

खबरें और भी हैं...