पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Chandigarh
  • Mohali
  • AC Has Been Banned By The Government To Reduce Power Consumption, But Wastage Of Electricity Was Seen In Government Offices.

अनदेखी:सरकार की ओर से बिजली खपत को कम करने के लिए एसी पर पाबंदी लगाई गई है, लेकिन सरकारी दफ्तरों में बिजली की बर्बादी दिखी

मोहालीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पंजाब स्कूल एजुकेशन बोर्ड - Dainik Bhaskar
पंजाब स्कूल एजुकेशन बोर्ड
  • ज्यादातर दफतरों में एसी बंद, कुछ में लाइट और पंखे चल रहे थे

पंजाब में चल रहे बिजली संकट को लेकर सीएम पंजाब कैप्टन अमरिंदर सिंह ने आदेश जारी किए हैं कि बिजली बचत के लिए सभी सरकारी दफ्तरों में एसी बंद रहेंगे और सरकारी दफ्तर भी दोपहर 2 बजे तक ही काम करेंगे। उसके बाद सारा काम बंद कर दिया जाएगा।

सीएम के यह आदेश जमीनी स्तर पर कितने लागू होते हैं इसे चेक करने के लिए मोहाली भास्कर टीम ने जिले के सरकारी दफ्तरों का रियलिटी चेक किया। सेक्टर-76 के डिस्ट्रिक्ट एडमिनिस्ट्रेटिव कॉम्प्लेक्स जहां पर सभी विभागों के दफ्तर हैं।

वहां पर चेक करने पर पाया गया कि सीएम के आदेशों का पालन करते हुए एसी तो बंद किए हुए थे और दोपहर 2 बजे दफ्तरों का काम-काज भी बंद था, लेकिन दोपहर 2 बजे के बाद इस इमारत के कुछ कमरों में पंखे और लाइटें चल रही थी।

सीएम की ओर से जो आदेश दिए गए थे वो इसलिए थे ताकि बिजली की बचत की जा सके। लेकिन उसके बावजूद अगर इस प्रकार से बिजली की बर्बादी होगी तो बचत का भी क्या फायदा होगा। बिजली की कमी के चलते जो आदेश सीएम पंजाब की ओर से दिए गए थे।

उसके तहत डिस्ट्रिक्ट एडमिनिस्ट्रेटिव कॉम्प्लेक्स में पूरा दिन एसी बंद रहे और पंखों के सहारे से ही काम चलाना पड़ा। इतना ही नहीं जो पब्लिक डीलिंग के दफ्तर थे जैसे सांझ केंद्र, तहसील ऑफिस, कैफेटेरिया और आरटीए ऑफिस वहां पर लोगों की भीड़ थी और एसी बंद होने के चलते काफी ज्यादा गर्मी महसूस हो रही थी।

खबरें और भी हैं...