आपदा में सेवा:सांसें चलती रहें, इसलिए लगाया ‘ऑक्सीजन का लंगर’, रोज 150 सिलेंडर ऑक्सीजन की फ्री सप्लाई

मोहाली6 महीने पहलेलेखक: लखवंत सिंह
  • कॉपी लिंक
  • ऑक्सीजन की कालाबाजारी के बीच मोहाली की कंपनी की सेवा

देश में जैसे ही कोरोना संक्रमण फैला तो कोरोना मरीजों की सांसें उखड़ने लगीं। सबसे ज्यादा जरूरत पड़ रही है ऑक्सीजन की। कोरोना के इस मुश्किल दौर में मरीजों की मदद करने के लिए आगे आई है मोहाली की हाईटेक इंडस्ट्री।

यहां ‘ऑक्सीजन का लंगर’ लगाया गया है। कंपनी की तरफ से रोज 150 से ज्यादा ऑक्सीजन सिलेंडर फ्री में भरे जा रहे हैं। हाईटेक इंडस्ट्री के बाहर लोगों की लाइन लगी रहती है। खाली सिलेंडर लाओ और भरावकर ले जाओ। इसके लिए कोई पैसा नहीं लिया जा रहा। जितने भी लोग यहां आ रहे हैं, सभी को ऑक्सीजन दी जा रही है।

दूसरे शहरों में भी भेज रहे ऑक्सीजन

हाईटेक इंडस्ट्री पिछले 5-6 दिनों से रोज 150 से अधिक जरूरतमंद लोगों के ऑक्सीजन सिलेंडर फ्री में भर रही है। ट्राईसिटी के मरीजों के अलावा इंडस्ट्री देश के अन्य हिस्सों में भी गैस भेज रही है। बुधवार को ऑक्सीजन से भरा टैंकर छत्तीसगढ़ के लिए चंडीगढ़ से एयरलिफ्ट करवाया गया।

खाली सिलेंडरों में भरी जा रही है गैस

हाईटेक इंडस्ट्री मोहाली के इंडस्ट्री एरिया फेज-9 में है। यहां पर वीरवार को कई एंबुलेंस और सिलेंडर लेकर लोग पहुंचे हुए थे। चंडीगढ़ व आसपास के इलाकों से ऑक्सीजन सिलेंडर भरवाने के लिए लोग यहां पहुंचे हुए थे। इंडस्ट्रीज के प्रमुख आरएस सचदेवा और अन्य प्रबंधक हैं। इनका कहना है कि जरूरतमंद अपना सिलेंडर लेकर आता है तो उससे मरीज के बारे पूछताछ करके फ्री में ऑक्सीजन भर दी जाती है।

प्रशासन की टीम ने किया रिकॉर्ड चेक

मोहाली प्रशासन की एक टीम वीरवार को हाईटेक इंडस्ट्रीज लिमिटेड में गई और यहां रिकॉर्ड चेक किया। एडीसी विकास राजीव गुप्ता के अनुसार जिले के अस्पतालों में जितनी ऑक्सीजन की जरूरत है, वह पूरी की जा रही है। किसी प्रकार की कोई कमी नहीं है। जिले के 14 अस्पतालों में रोजाना औसतन 23 मीट्रिक टन ऑक्सीजन की सप्लाई की जा रही है।

खबरें और भी हैं...