पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बसपा की मंथन मीटिंग:पोस्ट मैट्रिक स्कॉलरशिप व वैक्सीन घपले पर कांग्रेस का चेहरा होगा बेनकाब: गढ़ी

मोहाली13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
बहुजन समाज पार्टी पंजाब के राज्य प्रधान ने कई आरोप लगाए। - Dainik Bhaskar
बहुजन समाज पार्टी पंजाब के राज्य प्रधान ने कई आरोप लगाए।
  • 10 जून को होगी बसपा की मंथन मीटिंग, पंजाब सरकार को घेरेगी पार्टी

बहुजन समाज पार्टी पंजाब के राज्य प्रधान जसवीर सिंह गढ़ी ने रविवार को मोहाली में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान पंजाब के उभर रहे मसलों पर बोलते हुए कहा कि जब पंजाबी कोरोना महामारी के साथ मर रहे थे तब कांग्रेस सरकार के मुख्यमंत्री व सेहत मंत्री वैक्सीन को प्राइवेट अस्पताल को बेचकर मुनाफा कमाने की योजना को लागू करने में लगे थे।

उन्होंने आरोप लगाया कि 400 रुपए की कोरोना वैक्सीन 1060 रुपए में दी गई जिसकी 42 हजार डोज को अपने चहेते 20 हस्पताल को बेच दिया गया। उन्होंने कहा कि बसपा के राष्ट्रीय प्रधान कुमारी मायावती का इस मुद्दे पर बयान आने के साथ कांग्रेस सरकार ने बेची हुई वैक्सीन डोज वापिस लेने के लिए निर्देश जारी किया है।

बसपा पंजाब ने इस घपले का जिम्मेदार सेहत मंत्री बलवीर सिंह सिद्धू को ठहराते हुए उनसे मंत्री पद से इस्तीफा देने की मांग की है। पंजाब सरकार के खिलाफ आरोप लगाते हुए गढ़ी ने कहा कि पोस्ट मैट्रिक स्कीम के तहत 2 लाख विद्यार्थियों के रोल नंबर रोकने व पंजाब सरकार का 1549.6 करोड रुपए का कॉलेज का बकाया पड़ा होने का मामला अभी तक अधर में लटक रहा है।

कांग्रेस के कैबिनेट मंत्री मनप्रीत सिंह बादल, चरणजीत सिंह चन्नी, साधू सिंह धर्मसोत, तृप्त राजिंदर सिंह बाजवा ने 15 जनवरी को सांझी कांफ्रेंस में कॉलेजों को 3 दिनों में विद्यार्थियों के हक को पूरा करने का अल्टीमेटम दिया था जोकि लिफाफा बाजी ही सिद्ध हुआ है। ऐसे हालातों में सफाई कर्मचारियों को रेगुलर होने के मद्देनजर उठाई गई आवाज को बुलंद करने के लिए सारी काउंसिल के बाहर सफाई कर्मचारी धरने पर बैठे हैं उनकी आज तक सुनवाई नहीं हुई।

पिछड़े वर्ग के लिए मंडल कमीशन रिपोर्ट, दलित मुलाजिमों का बैकलॉग, 85वीं संविधानिक शोध को लागू करना, पंजाब एग्रीकल्चर यूनिवर्सिटी में टीचिंग स्टाफ व आरक्षण, पोस्ट मैट्रिक स्कॉलरशिप, 51 हजार शगुन स्कीम, दलितों के बैंकों के कर्ज की माफी आदि सभी मुद्दे जो कि दलित, पिछड़े वर्ग के लिए आज भी अधूरे पड़े हैं।

जिसकी जिम्मेवार कांग्रेस सरकार है। बसपा पंजाब द्वारा इस संबंधी अगली रणनीति के लिए 10 जून को राज्य स्तरीय मंथन मीटिंग करवाने जा रही है जिसके तहत सरकार को दलित पिछड़े वर्ग व पंजाबियों के हितों के लिए घेरा जाएगा।

खबरें और भी हैं...