बेरहम मौसम / सड़कों पर कहीं पेड़ गिरे तो कहीं पर पोल, जगतपुरा में घर पर आसमानी बिजली गिरी

If the trees fell on the streets, then the pole fell, lightning fell at home in Jagatpura
X
If the trees fell on the streets, then the pole fell, lightning fell at home in Jagatpura

  • मोहाली में सुबह सात बजे पहले आसमान में काली घटा छाई, फिर बारिश और आंधी चली

दैनिक भास्कर

May 11, 2020, 05:00 AM IST

मोहाली. कोरोना काल के बीच शहर में मौसम ने भी अपना कहर दिखाया और रविवार सुबह सात बजे से आसमान में काली घटा छा गई। देखते ही देखते सुबह के समय अंधेरा छा गया गया। एकाएक तेज बारिश और तेज हवाएं शुरू हो गई। हवाएं इतनी ज्यादा तेज थी कि धीरे-धीरे बारिश और हवाओं ने तूफान का रूप धारण कर लिया। इससे शहर में कई जगह सड़कों पर पेड़ गिरे। इतना ही नहीं कहीं बिजली के पाेल तक उखड़ गए तो कहीं आसमान से बिजली घरों पर गिरी। गनीमत यह रही कि शहर में कहीं भी कोई जानी नुकसान नहीं हुआ है। हालांकि, लोगों की गाड़ियों के ऊपर पेड़ गिरने से गाड़ी क्षतिग्रस्त जरूर हुई। साथ ही एक घर पर आसमानी बिजली गिरने से नुकसान हुआ और एक जगह पर बिजली का पोल उखड़ गया।
फेज-7 यहां तूफान से एक स्कोडा गाड़ी के ऊपर एक बड़ा पेड़ आकर गिर गया। गाड़ी के पिछली साइड पर यह पेड़ गया जिससे की कार बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गई। कार मालिक ने बताया कि पेड़ गाड़ी के ऊपर गिरा तो बहुत जोर से धमाके की आवाज आई। एक बार तो ऐसा लगा कि जैसे कोई बम ब्लॉस्ट हाे गया है। लेकिन जब उन्होंने बाहर निकल कर देखा कि पेड़ गाड़ी के ऊपर गिर गया था और इसके चलते गाड़ी को काफी नुकसान हुआ है। 
बिजली का पोल उखड़ा, सप्लाई पर पड़ा असर
तेज आंधी के चलते फेज-7 में ही एचई क्वाटर्स में जहां कई पेड़ गिरे वहीं, एक बिजली का पोल भी उखड़ कर सड़क के बीचों-बीच गिर गया। पेड़ और बिजली का पोल किसी गाड़ी या किसी व्यक्ति के ऊपर नहीं गिरा। इससे कोई जानी नुकसान नहीं हुआ। लेकिन बिजली का पोल गिरने से एरिया की बिजली सप्लाई जरूर प्रभावित हो गई थी। कुछ समय बाद जब तूफान थमा तो बिजली विभाग के कर्मचारी मौके पर पहुंचे और उन्होंने बिजली सप्लाई दोबारा से चालू करने के लिए काम शुरू किया। फेज-3बी2 रोज गार्डन के सामने सड़क के बीचों-बीच एक विशाल पेड़ टूट कर गिर गया, जिसके चलते पूरा रोड ब्लॉक हो गया। कांग्रेस पार्षद कुलजीत सिंह बेदी ने नगर निगम सूचना दी गई। निगम कर्मी प्रूनिंग मशीन लेकर मौके पर पहुंचे और गिरे पेड़ को हटाने का काम शुरू किया गया। 

आसमानी बिजली गिरी, उपकरण खराब

सुबह तेज हवा व बरसात के साथ आसमानी बिजली भी पूरे जोर से कड़क रही थी। उसी दौरान गांव जगतपुरा के एक मकान पर बिजली का कहर दिखा। मकान के छज्जे का कुछ हिस्सा टूटा और अंदर चल रहे दो एलसीडी और एक पंखा अचानक से खराब हो गया। इसी प्रकार आस-पास के गांव कंडाला, नडियाली, तथा धर्मगढ़ में करीब एक दर्जन लोगों के घरों में बिजली के उपकरण खराब हुए हैं। गांव जगतपुरा में इस बिजली के गिरने के कारण लोगों में दहशत थी और परिवार में भी खौफ बना हुआ है। मकान मालिक पुष्पिंदर सिंह ने बताया कि जब बिजली गिरी तो बहुत जोर से धमाका हुआ।

जीरकपुर में पांच घंटे बंद रही बिजली

सुबह हुई बारिश और आंधी से जीरकपुर शहर के आधे हिस्से में बिजली गुल हो गई। करीब 7 बजे से शुरू हुई बारिश के बाद तेज आंधी भी चली। आंधी से ढकोली सब स्टेशन से जुड़े करीब सात फीडर की बिजली लाइन में खराबी आई। सुबह 7 बजे से लेकर 12 बजे तक बिजली सप्लाई बंद रही। ढकोली की ही करीब 12 से ज्यादा कॉलोनियों में बिजली बंद रही। ढकोली के साथ-साथ बलटाना के आधे हिस्से में बिजली सप्लाई बाधित रही। इस वजह से पानी की सप्लाई भी रुक गई। बलटाना की 20 से ज्यादा कॉलोनियों में पानी की आपूर्ति नहीं हो पाई। ढकोली सब डिविजन के एसडीओ एचएस कंग ने बताया कि ढकोली और बलटाना एरिया में बिजली लाइन को नुकसान पहुंचा है। इसके चलते ही बिजली की सप्लाई बाधित हुई। हमारी टीम काम कर रही है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना