पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कोरोना टीकाकरण:वैक्सीन की कमी से प्राइवेट कैंप स्थगित; एसडीएम की निगरानी में प्राइवेट संस्थाएं लगाती हैं वैक्सीनेशन कैंप

मोहालीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

जिले में ज्यादा से ज्यादा लोग कोरोना से बचाव के लिए वैक्सीन लगवाएं, इसके लिए सरकारी अस्पतालों, डिस्पेंसरियों के साथ-साथ प्राइवेट संस्थाओं को भी हिस्सेदार बनाया गया है। जिले में सामाजिक, धार्मिक और संस्कृतिक संस्थाएं आगे आकर वैक्सीनेशन कैंप लगवा रही हैं। हालांकि, अब वैक्सीन की कमी के चलते अब कैंप प्रभावित होने लगे हैं। इसको देखते हुए शनिवार को लगने वाले प्राइवेट कैंप वैक्सीन की उपलब्धता कम होने के चलते स्थगित कर दिए गए हैं।

इन सभी शिविरों को लेकर परमिशन खरड़, मोहाली और डेराबस्सी के एसडीएम की ओर से दी जाती है और वे ही इनकी निगरानी भी करते हैं। शनिवार को भी वैक्सीन की 8 हजार डोज पहुंची। इस कारण कई जगह कैंप में वैक्सीन लगवाने आए लोगों को बिना टीका लगवाए वापस लौटना पड़ा।

इसी को देखते हुए शनिवार के कैंप भी स्थगित किए गए हैं। क्योंकि शनिवार को कितनी वैक्सीन आएगी, उस पर निर्भर करता है कि वह कैंपों में दी जाएगी या नहीं क्योंकि सबसे पहले वैक्सीन सरकारी वैक्सीनेशन सेंटर्स को दी जाती है। ताकि यहां आने वाले लोगों को कोई परेशानी ना उठानी पड़े।

इनमें वैक्सीन की पहली तथा दूसरी दोनों डोज लगाई जाती है। सिविल सर्जन डॉ. आर्दशपाल कौर ने कहा कि सभी लोगों वैक्सीन लगे, इसका प्रबंध किया जाता है। लेकिन प्राइवेट संस्थाएं जो कैंप लगाती हैं, उसकी जानकारी और मॉनिटरिंग एसडीएम की ओर से की जाती है।

खबरें और भी हैं...