पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

कोरोना का असर:आतंकवाद के दौर में नहीं हुई थी रामलीला, 28 साल बाद फिर मंचन नहीं होगा

मोहाली7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • प्रशासन ने दी परमिशन, पर रामलीला कमेटियों ने नहीं की तैयारी
  • कोरोना के चलते वर्षों से चल रही परंपरा पर इस बार लगेगा विराम

(मोहित शंकर) जिला प्रशासन ने रामलीला मंचन की परमिशन दे दी है। कहा है कि रामलीला कमेटियां एसडीएम की इजाजत के साथ और कोविड के सुरक्षा प्रोटोकाॅल के नियम अपनाते हुए रामलीला मंचन करवा सकती हैं। लेकिन जिले की रामलीला कमेटियों का कहना है कि जिला प्रशासन ने उन्हें बहुत कम समय में परमिशन दी है। इसलिए रामलीला को लेकर कोई तैयारियां नहीं की गई।

इस कारण इस बार जिले में रामलीला का मंचन नहीं होगा। मोहाली में वर्षों से चली आ रही रामलीला के मंचन पर इस वर्ष विराम लग जाएगा। इस बार कोरोना के कारण न तो जिले में रामलीला का मंचन हो रहा है और न ही दशहरे वाले दिन रावण दहन का कार्यक्रम किया जाएगा।

क्योंकि रामलीला में जुटने वाली भीड़ को कंट्रोल करना मुमकिन नहीं है। इसलिए कोरोना के सुरक्षा प्रोटोकॉल के नियम को देखते हुए इस बार रामलीला मंचन पर विराम लगाने का फैसला किया गया है।

इस बार रामायण पाठ होगा: इस साल कोरोना के चलते रामलीला मंचन नहीं किया जा रहा है। लेकिन जिले में वर्षों से चली रही आ रही रामलीला मंचन की परंपरा न टूटे इसलिए कुछ रामलीला कमेटियों ने फैसला लिया है कि वे रामलीला मंचन के बजाए हर बार कि तरह पंडाल लगाकर श्री रामायण पाठ और श्री राम परिवार की आरती करेंगे। ताकि सालों से चली आ रही रामलीला की परंपरा को टूटने से बचाया जा सके।

9 दिन होगा रामायण पाठ
बलौंगी में श्री राम लीला कमेटी की ओर से पिछले 24 साल से रामलीला और दशहरा कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है। कमेटी के अध्यक्ष मनजीत सिंह ने बताया कि इस बार कोरोना काल के चलते फैसला लिया गया है कि हर बार कि तरह पंडाल सजाया जाएगा और 9 दिन रामलीला के बजाए श्री रामायण पाठ का कार्यक्रम होगा।

शाम 2 घंटे रामायण पाठ होगा और उसके बाद आरती करके कार्यक्रम समाप्त कर दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि ऐसा इसलिए किया गया है ताकि रामलीला में जुटने वाली भीड़ को रोका जा सके। फेज-5 के नवयुवा क्लब के अध्यक्ष अरूण शर्मा ने कहा कि इस बार रामलीला मंचन की जगह 3 दिन के लिए रामायण पाठ का आयोजन किया जाएगा।

जीरकपुर, डेराबस्सी में भी नहीं होगी रामलीला...
जीरकपुर के पभात में रामलीला का मंचन किया जाता है। जबकि डेराबस्सी और लालडू एरिया में 5 रामलीला कमेटियां अलग-अलग तौर पर 5 स्थानों पर रामलीला मंचन करती हैं। लेकिन इस बार कोरोना काल के चलते अब तक रामलीला की परमिशन नहीं मिली है। जिसके चलते कमेटियों का कहना है कि अब अगर परमिशन मिल भी जाए तो भी रामलीला मंचन करना मुश्किल है। इसलिए इस बार रामलीला मंच नहीं किया जा रहा।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज ग्रह स्थितियां बेहतरीन बनी हुई है। मानसिक शांति रहेगी। आप अपने आत्मविश्वास और मनोबल के सहारे किसी विशेष लक्ष्य को प्राप्त करने में समर्थ रहेंगे। किसी प्रभावशाली व्यक्ति से मुलाकात भी आपकी ...

और पढ़ें