विरोध:रुड़की पुख़्ता के लोगों की घडूंआ पंचायत के लिए ना

खरड़एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
गांव वालों ने कहा कि सरकार ने उन्हें खरड़ नगर काउंसिल में शामिल करें। - Dainik Bhaskar
गांव वालों ने कहा कि सरकार ने उन्हें खरड़ नगर काउंसिल में शामिल करें।
  • गांव के लोगों का कहना अगर सरकार उन्हें खरड़ काउंसिल में शामिल करेगी तो इसका स्वागत है

खरड़ तहसील के अंतर्गत पड़ते गाँव रुड़की पुख़्ता के लोगों की ओर से पंजाब सरकार की तरफ से नई बनाई जा रही नगर पंचायत घडूंआ को लेने की चल रही कार्यवाही को लेकर ऐतराज जताया जा रहा है। गांव वालों का कहना कि वह घडूंआ नगर पंचायत में शामिल नहीं होंगे।

गांव रुड़की पुख़्ता के निवासी कुलवंत सिंह,शिंग़ारा सिंह, प्यारा सिंह, सुरिन्द्र सिंह, दलविन्द्र सिंह, अमरीक सिंह, गुरबख्श सिंह, बलदेव सिंह, दर्शन सिंह, भाग सिंह, राजा, ओंकार सिंह, यादविन्दर सिंह, परमजोत सिंह, दलजीत सिंह, अमरायो सिंह समेत अन्य गांव निवासियों ने पत्रकारों को जानकारी देते हुए बताया कि किसी भी कीमत पर हम नगर पंचायत घडूंआ में शामिल नहीं होंगे और इस कार्यवाही पर वह ऐतराज करते हैं और सरकार का फ़ैसला हमें यह मंजूर नहीं है।

यदि पंजाब सरकार की तरफ से गांव को शहरी क्षेत्र में शामिल करना है तो काउंसिल खरड़ में कर सकती है जिसका हम स्वागत करेंगे। गांव रुड़की पुख़्ता की हद नगर काउंसिल खरड़ की सीमा के साथ लगता है। गांव के लोगों ने पंजाब सरकार से मांग की है कि वह गाँव के निवासियों की भावनायों को देखते हुए अपने फैसले पर फिर विचार करें और खरड़ काउंसिल में शामिल करने का काम किया जाए।

खबरें और भी हैं...