पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

फेरबदल को लेकर एसडीएम से मिले:एतराज दर्ज करवाने के बावजूद वोटर लिस्ट में नहीं हुआ संशोधन

खरड़2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

नगर काउंसिल चुनावों के मद्देनजर शहर के विभिन्न वार्डों की प्रशासन द्वारा तैयार की गई वोटर सूचियों में बड़े पैमाने पर हुए फेरबदल को लेकर चुनाव लड़ने के इच्छुक भावी प्रत्याशियों में भारी रोष पाया जा रहा है। जिनके द्वारा इस गंभीर समस्या को लेकर एसडीएम खरड़ से मुलाकात की गई है।

इन लोगों ने आरोप लगाया है कि इन लोगों द्वारा पूर्व में तैयार की गई वोटर सूचियों के संबंध में प्रशासन के पास ऐतराज दर्ज करवाए गए थे। जिसके बावजूद इनके एतराज पर कोई कार्रवाई नहीं की गई और ना ही वोटर सूचियों दुरुस्त की गई ।

पूर्व पार्षद कमल किशोर शर्मा एवं समाज सेवक हरजीत सिंह गंजा की अध्यक्षता में भावी प्रत्याशियों का एक प्रतिनिधिमंडल एसडीएम खरड़ हिमांशु जैन से मिला इस मौके पर इन लोगों द्वारा एसडीएम को वोटर सूचियों में हुए भारी फेरबदल के बारे में जानकारी दी गई और बताया गया कि प्रशासन द्वारा जब पूर्व में वोटर लिस्ट जारी की गई तो ऐतराज मांगे गए थे। जिस दौरान इन वोटर सूचियों में हुए फेरबदल संबंधी इन लोगों द्वारा ऐतराज दर्ज भी करवाए गए लेकिन वोटर सूचियों में ऐतराज दूर नहीं किए गए।

अब प्रशासन द्वारा जो फाइनल वोटर सूचियां जारी की गई है उनमें बड़े पैमाने पर हेराफेरी सामने आई है। वोटर तो ऐसे भी सूचियों में दर्ज किए गए हैं जिनके घर संबंधित वार्ड में है ही नहीं और कई वार्डों में ऐसीं वोटों को शामिल कर दिया गया है जिस नाम का कोई वोटर ही वार्ड में नहीं रहता ।

इन लोगों ने आरोप लगाया है कि जो वोटर सूचियां प्रशासन द्वारा फाइनल की गई है एवं राजनीतिक दबाव में आकर भारी फेरबदल करते हुए बनाई गई है। यहां तक कि कुछ प्रत्याशी ऐसे भी है जो पूर्व में खरड़ से चुनाव लड़ चुके हैं और उनके नाम वोटर सूचियों में है ही नहीं ।

पूर्व पार्षद कमल किशोर शर्मा ने बताया कि वार्ड नंबर 22 की जो वोटर सूचियां जारी की गई थी उनमें बहुत सारी बातें आसपास की कॉलोनियों में विकसित हुए फ्लैट में रहने वाले निवासियों की थी जबकि वार्ड नंबर 22 में कोई फ्लैट है ही नहीं।

इस संबंध में उनके द्वारा ऐतराज भी दर्ज करवाया गया था लेकिन वोटर सूचियों में दुरुस्ती नहीं की गई। इन लोगों ने प्रशासन से जोरदार मांग की है कि फाइनल की गई वोटर सूचियों की उच्च स्तरीय जांच की जाए ताकि सच्चाई सामने आ पाए ।

इस संबंध मे खरड़ के एसडीएम हिमांशू जैन ने बताया कि प्रतिनिधिमंडल की बात गंभीरता से सुनी गई है। जिसके बाद उनके द्वारा मामले में सुनवाई करते हुए इन लोगों को 8 जनवरी तक उनके दफ़्तर में वोटर संबंधी अपने ऐतराज 11 बजे तक पेश करने के लिए कहा गया है जिससे चैक करवाकर वोटर सूची में संशोधन करके वोटर सूची जारी कर दी जाएगी।

एसडीएम ने यह भी स्पष्ट किया है कि जो पहली वोटर सूची जारी की गई है उस में यदि किसी भी तरह बीएलओ की लापरवाही पाई जाती है तो उसके खिलाफ भी बनती कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज समय कुछ मिला-जुला प्रभाव ला रहा है। पिछले कुछ समय से नजदीकी संबंधों के बीच चल रहे गिले-शिकवे दूर होंगे। आपकी मेहनत और प्रयास के सार्थक परिणाम सामने आएंगे। किसी धार्मिक स्थल पर जाने से आपको...

    और पढ़ें