पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मौसम में बदलाव:20 पेड़ और 7 बड़े टहने गिरे, बिजली 2 से 13 घंटे बाद हो सकी चालू

चंडीगढ़6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • जीरकपुर में वीआईपी रोड पर बने शोरूम्स का नक्शा ही बिगाड़ दिया

मंगलवार रात 11:30 बजे से लेकर 12 बजे तक चली तेज आंधी ने चंडीगढ़ में 20 पेड़ और 7 पेड़ों के बड़े-बड़े टहने गिरा दिए। शहर में कई जगहों पर बिजली 2 से 12:30 घंटे तक बंद रही। सेक्टर-8बी में साबुल के पेड़ के बिजली लाइन पर गिरने से तीन पोल उखड़ गए। इन्हें बिजली विभाग की टीम ने बुधवार दोपहर 12 बजे तक रिपेयर किया। बहलाना में एक पेड़ के लाइन पर गिरने से एक पोल टूट गया। इससे गांव की बिजली दोपहर 1 बजे तक चालू हो सकी।

टहनियां रात को हटा बिजली चालू की

बिजली विभाग के सभी 10 सब डिविजन की टीमों ने रात की शिकायत में लगे कर्मचारियों के जरिए गिरी हुईं टहनियों को कुल्हाड़ी या बूम लैडर से हटाया और बिजली चालू की। बड़े पेड़ सुबह हटाने के लिए एमसी के हॉर्टिकल्चर की टीम बुलाई गई। दिन में बिजली विभाग की सभी 10 सब डिविजन अपने मीटर सेक्शन के तीन-तीन कर्मचारियों को बिजली बहाल करवाने में लगी रही, लेकिन रात को ऐसा कुछ नहीं हो पाता है।

रात को बड़े पेड़ों को हटाने के लिए कोई साधन नहीं...

बिजली विभाग के सभी 10 सब डिविजन में रात को शिकायत अटेंड करने वाले 60 कर्मचारी हैं। इनमें 10 जेई होते हैं। 3-3 कर्मचारियों की दो-दो टीमें हर सब डिविजन में तैनात रहती हैं। इनके पास कुल्हाड़ी होती है। ये लाइनों पर गिरने वाली छोटी टहनियों को बिजली बंद करके बूम लैडर के जरिए हटा देते हैं। लेकिन बड़ा टहना या पेड़ गिरने की सूरत में बिजली कर्मचारी कुछ नहीं कर पाते।

सुबह निगम या प्रशासन के हॉर्टिकल्चर डिपार्टमेंट को पेड़ों को हटाने के लिए मैसेज करते हैं। लोगों को बिजली के चालू होने का इंतजार करना पड़ता है। सभी 10 सब डिविजन के पास 12 मोबाइल ट्राला हैं, जिनमें ट्रांसफार्मर फिटेड होता है। अगर कहीं बड़ा फॉल्ट आ जाता है तो उसे वहां लगाया जाता है।

बिजली की तारें अंडरग्राउंड नहीं होने तक ऐसे ही पेड़ों से टूटती रहेंगी...

बिजली की वायर अंडरग्राउंड करने का काम सेक्टर-8 में पूरा होने को है। शहर में 2773 करोड़ का काम करवाने की प्रपोजल मिनिस्ट्री ऑफ पावर को भेजी गई थी। लेकिन बिजली के निजीकरण करने के चलते इस प्रपोजल को डंप कर दिया गया। जब तक शहर की बिजली की ओवर हेड वायर अंडरग्राउंड नहीं होती, तब तक आंधी, तेज हवाओं और बरसात में पेड़े गिरते रहेंगे और इनसे बिजली गुल होती रहेगी।

5 घंटे तक नहीं आई बिजली...

बिजली की तारें टूटने से कई सेक्टर्स में 11:30 से 2 बजे तक बिजली गुल रही। 1 घंटे से 5 घंटे तक बिजली गुल रही। सुबह के समय कुछ सेक्टर्स में पीने की पानी की सप्लाई नहीं आई। कुछ सेक्टर्स में कम प्रेशर से पानी आया।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- ग्रह स्थिति अनुकूल है। मित्रों का साथ और सहयोग आपकी हिम्मत और हौसले को और अधिक बढ़ाएगा। आप अपनी किसी कमजोरी पर भी काबू पाने में सक्षम रहेंगे। बातचीत के माध्यम से आप अपना काम भी निकलवा लेंगे। ...

    और पढ़ें