पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Chandigarh
  • 37 Thousand 840 Doses Were Sold To 19 Private Hospitals In Mohali District, 30 Thousand Doses Were Given To Max Alone.

मामला गरमाने पर वापस मंगाई को-वैक्सीन:मोहाली जिले के 19 प्राइवेट अस्पतालों को 37 हजार 840 डोज बेची गई थी, अकेले मैक्स को 30 हजार डोज दी गई

चंडीगढ़4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पंजाब सरकार पर वैक्सीन प्राइवेट अस्पतालों को बेचने के आरोप लगने के बाद वैक्सीन वापस मंगवा ली गई है। डेमो फोटो - Dainik Bhaskar
पंजाब सरकार पर वैक्सीन प्राइवेट अस्पतालों को बेचने के आरोप लगने के बाद वैक्सीन वापस मंगवा ली गई है। डेमो फोटो
  • शनिवार शाम तक 37,360 डोज प्राइवेट अस्पतालों से आ चुकी थी वापस
  • आज आम आदमी पार्टी हेल्थ मिनिस्टर के घर का घेराव करेगी इसी मुद्दे को लेकर

पंजाब सरकार के स्वास्थ्य विभाग पर सरकार की ओर से मिली वैक्सीन को महंगे दामों पर प्राइवेट अस्पतालों को बेचने के मामले को लेकर दो दिनों से विपक्षी दलों की ओर से आरोप लगाए जा रहे है। जब इन आरोपों से सरकार को दिक्कत होने लगी तो आनन फानन में प्राइवेट अस्पतालों से वापस वैक्सीन मंगवाने की प्रक्रिया शुरू की गई। प्राइवेट अस्पतालों को जो को-वैक्सीन की डोज दी गई थी उसे वापस मंगाने के आदेशों के साथ ही शुक्रवार शाम से जिला स्वास्थ्य विभाग हरकत में आ गया था। शनिवार शाम तक जिले के सभी प्राइवेट अस्पताल प्रबंधकाें से यह वैक्सीन वापस मंगवा ली गई थी।

आप आज कर रही हेल्थ मिनिस्टर के घर का घेराव

आम आदमी पार्टी की ओर से आज हेल्थ मिनिस्टर पंजाब बलबीर सिंह सिद्धू के घर का घेराव कर रही है। पार्टी की ओर से कहा गया है कि एक तरफ पंजाब में लोगों को वैक्सीन मिल नहीं रही है तो दूसरी ओर कम कीमत में मिली वैक्सीन को प्राइवेट अस्पतालों को सरकार ज्यादा कीमतों को बेच कर घोटाला कर रही है। आम आदमी पार्टी के विनीत वर्मा ने कहा कि सरकार के इस वैक्सीन घोटाले को लेकर आज हेल्थ मिनिस्टर के घर के सामने पुतला फूंका जाएगा और जांच की मांग की जाएगी।

19 प्राइवेट अस्पतालों को बेची थी वैक्सीन

मोहाली जिले में 19 प्राइवेट अस्पतालों को 37 हजार 840 डोज सरकारी कोटे से बेची गई थी, जिसमें से 37 हजार 360 डोज वापस ले ली गई है। अभी तक इन अस्पतालों ने मात्र 480 डोज ही लोगों को लगाई थी। डायरेक्टर हेल्थ एंड फैमिली वेलफेयर पंजाब ने 29 मई को पंजाब के सभी सिविल सर्जंस को लेटर जारी कर प्राइवेट अस्पतालों को वैक्सीन देने के आदेश जारी किए थे। मोहाली जिले में 19 प्राइवेट अस्पतालों को वैक्सीन दी गई। सोमवार तक वैक्सीन प्राइवेट अस्पतालाें में पहुंचाने का काम किया गया। केंद्र सरकार से सस्ते रेट में लेकर प्राइवेट अस्पतालाें को महंगे रेट पर बेचने का गोरखधंधा जब सामने आया तो 4 जून को पंजाब के सभी प्राइवेट अस्प्तालों को दी गई वैक्सीन की डोज वापस लेने के निर्देश दिए गए। रजिस्ट्रार कॉ-ऑपरेटिव सोसाइटी कम स्टेट इंचार्ज फॉर कोविड वैक्सिनेशन विकास गर्ग की ओर से लेटर जारी कर सभी सिविल सर्जन को इन निर्देशाें का पालन करने के लिए कहा गया।

मोहाली में 37 हजार से ज्यादा डोज प्राइवेट अस्पताल को दी

जिला स्वास्थ्य विभाग की ओर से मोहाली जिले में 19 प्राइवेट अस्पतालों को 37 हजार 840 डोज दी गई। इनमें से अकेले मैक्स अस्पताल को ही 30 हजार डोज दी गई थी। यह डोज मैक्स ने अपने सभी अस्पतालाें को मुहैया करवानी थी, इसलिए मोहाली में खरीदी गई। मोहाली के फोर्टिस अस्पताल की ओर से कोई भी डोज जिला स्वास्थ्य विभाग से नहीं खरीदी गई। सिविल सर्जन मोहाली डॉ. आदर्श पाल कौर ने बताया कि जिन अस्पतालाें को वैक्सीन दी गई थी वो सरकार के निर्देशों के बाद वापस मंगवा ली गई है

मोहाली इलाके के इन प्राइवेट अस्पतालों को बेची गई थी वैक्सीन

मैक्स अस्पताल मोहाली 30000 डोज

शेलवी मोहाली 2000 डोज

मेहर अस्पताल जीरकपुर 1500 डोेज

इंडस अस्पताल डेराबस्सी 1000 डोेज

इंडस मोहाली 800 डोेज

गुरु हरकृष्ण अस्पताल सोहाना 500 डोेज

सीएमसी मोहाली 300 डोेज

ग्रेशियन अस्पताल मोहाली 240 डोेज

जेपी अस्पताल जीरकपुर 100 डोेज

कौशल्या ग्रीन अस्पताल 100 डोेज

ओसिमेड जीरकपुर को 100 डोेज

एमकेय जीरकपुर को 100 डोेज

ट्राईसिटी जीरकपुर को100 डोेज

टच अस्पताल 50 डोेज

काेस्मो अस्पताल 20 डोेज