लॉकडाउन में शुरू हुआ बिजनेस:67 साल की दादी ऑनलाइन बेच रहीं चटनी, 16 साल के शिवम ने बनाया गेम क्राफ्ट स्टूडियो

लुधियाना2 महीने पहलेलेखक: रागिनी कौशल
  • कॉपी लिंक
लॉकडाउन में उम्र को बाधा न मान बुजुर्ग, बच्चे सपनों को दे रहे उड़ान। (प्रकाश मिगलानी और शिवम) - Dainik Bhaskar
लॉकडाउन में उम्र को बाधा न मान बुजुर्ग, बच्चे सपनों को दे रहे उड़ान। (प्रकाश मिगलानी और शिवम)

काम और नया करने की चाह हो तो उम्र किसी तरह की बाधा नहीं बन सकती। जरूरत होती है सच्ची लगन, मेहनत और कुछ कर गुजरने की। इसी बात को साबित कर रही हैं 67 साल की प्रकाश मिगलानी और 16 साल का शिवम। दोनों ही उम्र को परे रख अपने जज्बे को आगे बढ़ा रहे हैं। प्रकाश कौर ने जहां कोविड महामारी के दौर में अपने शौक को बिजनेस में ढाल लिया। वहीं, शिवम ने बचपन की गेमिंग क्षेत्र से जुड़ने की ख्वाहिश को न सिर्फ बिजनेस में तब्दील किया बल्कि अपने साथ 30 लोगों को भी रोजगार दिया है।

अपने खाने को बनाए थे अचार मुरब्बे, बेटों ने ऑनलाइन कर दिया तो मिला अच्छा रिस्पाॅन्स

रिषी नगर की प्रकाश मिगलानी ने बताया कि मेरा ज्यादा समय तीर्थ यात्राओं में बीतता था। लॉकडाउन में बाहर जाना बंद था। बच्चों ने मेरे बनाए अचार, चटनी, मुरब्बे को ऑनलाइन शेयर किए। अब ऑर्डर लुधियाना ही नहीं मोहाली, अमृतसर, चंडीगढ़ भी जाते हैं।

8वीं में गेमिंग शुरू की, अगले साल 3 गेम करेंगे रिलीज

11वीं के स्टूडेंट शिवम (16) ने 8वीं क्लास में गेमिंग से शुरुआत की थी। अब अपना गेम क्राफ्ट स्टूडियो चला रहे हैं। शिवम ने बताया कि क्राफ्ट स्टूडियो में 30 लोग जुड़े हैं। जिसमें सिर्फ गेम्स ही नहीं मूवी, सीजीआई, वीएफएक्स, आर्किटेक्चरल सॉल्यूशन और एनीमेशन भी तैयार की जाती हैं। उनका काम ऑनलाइन ही है। विभिन्न शहरों से लोग उनके साथ जुड़े हुए हैं।

खबरें और भी हैं...