पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मैराथन दौड़:एसिड अटैक से 86% जल गया था, बचने की आस नहीं थी

मोहाली2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • 65 दिन तक न देख सकता था, न बोल सकता था, मात्र सुनना ही सहारा था

(मनोज जोशी) एसिड अटैक को लेकर कई तरह की दुर्घटनाएं सामने आती हैं, लेकिन कुछ समय के लिए हाईलाइट होने के बाद समाज में बात धुंधली पड़ जाती है, लेकिन जिसके साथ एसिड अटैक का इंसीडेंट होता है वह उसे जिंदगी भर नहीं भूल पाता। उसके लिए यह अटैक हर पल एक नई चुनौती होता है और हर दिन जिंदादिली से जीने की हिम्मत देता है।

एसिड अटैक हुआ उसके बाद ऐसे लगा मानो जिंदगी खत्म हो गई। न आंखों से दिखता था और न ही मुंह से आवाज निकलती थी, सिर्फ कानों से कुछ सुनाई देना ही बच गया था, वजन कम होकर 35 किलो तक पहुंच गया था। शरीर मानो हड्डियों का ढांचा ही बन गया हो और डॉक्टर बोलते थे 86 फ़ीसदी तक बर्न हुआ है। बचना बहुत मुश्किल है।

इसी दौरान मेरे मन में यह विचार आया कि मेरे बच्चों को मेरी पत्नी संभाल लेगी लेकिन मेरी पत्नी को कौन संभालेगा। मैं सोचता था कि कोई उससे शादी करने वाला मिल जाए ताकि उसका सहारा बन जाए। यह विचार एसिड अटैक अंधेरे से बाहर आकर हिम्मत के साथ हर काम करने में जुटे चंडीगढ़ निवासी राकेश कुमार रिखी ने अपने एसिड अटैक पर लिखी गई पुस्तक के विमोचन कार्यक्रम के दौरान लोगों के समक्ष रखें। वे अपने पर लिखी पुस्तक के विमोचन कार्यक्रम में लोगों को संबोधित कर रहे थे।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- व्यस्तता के बावजूद आप अपने घर परिवार की खुशियों के लिए भी समय निकालेंगे। घर की देखरेख से संबंधित कुछ गतिविधियां होंगी। इस समय अपनी कार्य क्षमता पर पूर्ण विश्वास रखकर अपनी योजनाओं को कार्य रूप...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser