• Hindi News
  • Local
  • Chandigarh
  • A Conspiracy Is Being Hatched To Implicate Sukhbir Majithia In A False Case Of Sacrilege And Drugs; Akali Will Arrest Outside CM House In Chandigarh

​​​​​​​चंडीगढ़ में SAD का हल्ला बोल:सुखबीर बादल समेत बड़े अकाली नेता हिरासत में; मजीठिया बोले- ठोको ताली को मरणव्रत पर बिठाकर रहेंगे

चंडीगढ़6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
चंडीगढ़ में हिरासत में लिए गए सुखबीर बादल - Dainik Bhaskar
चंडीगढ़ में हिरासत में लिए गए सुखबीर बादल

चंडीगढ़ में पुलिस ने शिरोमणि अकाली दल के प्रधान सुखबीर बादल को पुलिस ने हिरासत में ले लिया गया है। उनके साथ साथ बिक्रम मजीठिया, दलजीत चीमा, प्रेम सिंह चंदूमाजरा समेत सभी बड़े नेता पुलिस ने हिरासत में लिए हैं। उन्होंने पैदल मार्च करते हुए CM हाउस के बाहर प्रदर्शन करना था। उससे पहले ही पुलिस ने उन्हें हिरासत में लेकर बस में बिठाकर ले गए।

इस दौरान इस मौके बिक्रम मजीठिया ने कहा कि इंसाफ के लिए उनकी लड़ाई जारी है। उन्होंने नवजोत सिद्धू पर निशाना साधा कि वह ठोको ताली को मरणव्रत पर बिठाकर रहेंगे। कांग्रेस के लिए पंजाब का किसान और व्यापारी मुद्दा नहीं बल्कि सीएम की कुर्सी है। सिद्धू इस बात से नाराज हैं कि उन्हें सीएम नहीं बनाया गया।

मजीठिया को हिरासत में लेकर जाती पुलिस
मजीठिया को हिरासत में लेकर जाती पुलिस

यह प्रदर्शन श्री गुरू ग्रंथ साहिब की बेअदबी और ड्रग्स के केस में पार्टी प्रधान सुखबीर बादल और पूर्व मंत्री बिक्रम मजीठिया को फंसाने की साजिश रचने के आरोप में किया जा रहा है।

अकाली दल ने चंडीगगढ़ में पैदल मार्च किया
अकाली दल ने चंडीगगढ़ में पैदल मार्च किया

सिद्धू किस संवैधानिक अधिकार से कार्रवाई के लिए कह रहे

इस मौके सुखबीर बादल ने कहा कि अखबारों में हमें धमकी दी जा रही है कि केस कर देंगे। बादल परिवार और बिक्रम मजीठिया को फंसाने की साजिश रची जा रही है। सुखबीर ने पूछा कि कांग्रेस प्रधान नवजोत सिद्धू का क्या संवैधानिक अधिकार है कि वह सरकार को पर्चा दर्ज करने के लिए कह रहे हैं। एक महीना रह गया, इसलिए पंजाब के मुद्दों और वादों से जनता को भटकाने के लिए अब यह सब बातें की जा रही हैं। उन्होंने कहा कि सीएम चन्नी को जनता के मुद्दों पर ध्यान देना चाहिए। कांग्रेस सरकार उन मुद्दों को हल करे, जिन पर उन्होंने 2017 में सरकार बनाई थी।

अकाली नेताओं को पहले बैरिकेड पर रोका गया लेकिन फिर आगे जाने दिया गया
अकाली नेताओं को पहले बैरिकेड पर रोका गया लेकिन फिर आगे जाने दिया गया

सुखबीर बादल ने कहा कि अकाली दल कांग्रेस सरकार से डरने वाला नहीं है। चंडीगढ़ में प्रदर्शन के बाद जिला स्तर पर जेल भरो आंदोलन किया जाएगा। पंजाब में साढ़े 3 महीने बाद चुनाव हैं, ऐसे में जहां सरकार पर बेअदबी और ड्रग्स का मुद्दा हल करने का दबाव है। वहीं अकाली दल को इसमें घेरे जाने की चिंता है।

सुखबीर बादल ने दी सीएम चन्नी को चुनौती।
सुखबीर बादल ने दी सीएम चन्नी को चुनौती।

सीएम चन्नी, सिद्धू, रंधावा ने मिलकर रची साजिश
सुखबीर बादल ने कहा कि सीएम चरणजीत चन्नी, पंजाब कांग्रेस प्रधान नवजोत सिद्धू, डिप्टी सीएम सुखजिंदर रंधावा और डीजीपी इकबालप्रीत सहोता ने इस बारे में मीटिंग की है, जिसमें मजीठिया के खिलाफ ड्रग्स केस दर्ज करने के लिए कहा गया है। सुखबीर ने अफसरों को भी चेतावनी दी कि वह सरकार के दबाव में आकर गलत काम न करें, वर्ना सरकार आने पर उन्हें इसका अंजाम भुगतना पड़ेगा।

सिद्धू डाल रहे दबाव
सुखबीर ने यह भी आरोप लगाया कि नवजोत सिद्धू हर हाल में मजीठिया के खिलाफ ड्रग्स केस दर्ज करवाना चाहते हैं। इसलिए सरकार पर दबाव डालने के लिए मरणव्रत पर बैठने की धमकी दी। इससे साफ है कि यह झूठा केस होगा। ड्रग्स को लेकर स्पेशल टास्क फोर्स (STF) की रिपोर्ट हाईकोर्ट में सीलबंद है। ऐसे में सिद्धू कैसे दावा कर रहे कि उसमें मजीठिया का नाम होगा।

खबरें और भी हैं...