पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

बढ़ती बिजली दरें-AAP विधायकों का पैदल मार्च:बोले- मेनिफेस्टो में वायदे के मुताबिक कैप्टन ने न रिव्यू, न रद्द किए बिजली के रेट; 25 साल में राज्य को लगेगा 87 हजार करोड़ का चूना

चंडीगढ़2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
AAP के सामूहिक विधायक दल ने बुधवार को MLA हॉस्टल से पंजाब विधानसभा तक पैदल मार्च किया। - Dainik Bhaskar
AAP के सामूहिक विधायक दल ने बुधवार को MLA हॉस्टल से पंजाब विधानसभा तक पैदल मार्च किया।

पंजाब में लगातार बढ़ रहीं बिजली की दरों के विरोध में AAP के सामूहिक विधायक दल ने बुधवार को MLA हॉस्टल से पंजाब विधानसभा तक पैदल मार्च किया। इस मौके पर LOP हरपाल सिंह चीमा ने कहा कि 2017 में जब विधानसभा चुनाव हुए तो मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने पंजाब की जनता से ये वादा किया था कि पावर पर्चेज, महंगी बिजली के एग्रिमेंट किए हैं, उन्हें रिव्यू कर रद्द करेंगे। पंजाब में सस्ती बिजली उपलब्ध करेंगे। उन्होंने कहा कि बिजली के बढ़े दामों को कम करने का मुद्दा इनके चुनाव मेनिफेस्टो में था।

उन्होंने कहा कि कैप्टन सरकार को पंजाब में चार साल बीत गए हैं लेकिन सरकार ने न रिव्यू किया और न ही बिजली के रेटों को कैंसिल किया। रेट कम करना तो दूर, 14 बार बिजली के रेट बढ़ाए गए। बोले, उन्होंने पिछले विधानसभा सेशन में ऐलान किया था कि वाइट पेपर जारी करूंगा। लेकिन आज तक उन्होंने इस बुकलेट को पेश नहीं किया। उन्होंने आगे कहा कि AAP नेताओं ने ये वादा किया था कि दिल्ली की तर्ज पर हम पंजाब में बिजली की दरें करेंगे। हमने जो भी बिल पेश किए, उन्हें भी रद्द कर दिया गया। हमें बोलने का मौका भी नहीं दिया जाता।

2002 से लूट रही पंजाब की जनता

वहीं इस मौके पर सुनाम विधायक अमन अरोड़ा ने कहा कि मैं जब कॉल अटेंशन मोशन लेकर आया तो उसे यह कहकर रद्द कर दिया कि ये मामला ताजा नहीं है। मैं ये पूछना चाहता हूं कि क्या आज बिजली सस्ती हो गई है? हर पल पंजाब की जनता लूटी ज रही है। पहले 10 साल अकाली-भाजपा सरकार और अब कैप्टन सरकार पंजाब की जनता को लूट रही है। वे बोले, पंजाब की जनता 2002 में कैप्टन सरकार के वक्त जब लुटना शुरू हुई तो तब के इंजीनियर एसोसिएशन ने कहा था कि पंजाब में 1-1 हजार मेगावाट के दो थर्मल प्लांट लगने चाहिए लेकिन तक इन्होंने 3940 मेगावाट के प्लांट लगा दिए। फिर रोपड़ और बठिंडा थर्मल प्लांट के पुराने प्लांटों पर 737 करोड़ खर्च किए गए और अब उन्हें बंद किया जा रहा है। इस वजह से पंजाब को हर साल 35 सौ करोड़ का चूना लगता है और 25 साल के एग्रिमेंट में पंजाब को 87 हजार करोड़ रुपए का चूना लगेगा।

अकालियों ने फूंका पंजाब सरकार का पुतला।
अकालियों ने फूंका पंजाब सरकार का पुतला।

दूसरी ओर SAD विधायकों ने भी कैप्टन सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। बिक्रम सिंह मजीठिया के नेतृत्‍व में विधानसभा की कार्यवाही में हिस्सा लेने जाने से पहले विधायकों ने पंजाब विधानसभा के गेट पर पंजाब सरकार का पुतला फूंका। राज्‍य के ठेका कर्मचारियों को पक्‍का करने और राज्य के कर्मचारियों के लिए छठे वेतन आयोग की सिफारिशों को लागू करने की मांग के चलते अकाली विधायकों ने कैप्टन सरकार का विरोध किया था।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- सकारात्मक बने रहने के लिए कुछ धार्मिक और आध्यात्मिक गतिविधियों में समय व्यतीत करना उचित रहेगा। घर के रखरखाव तथा साफ-सफाई संबंधी कार्यों में भी व्यस्तता रहेगी। किसी विशेष लक्ष्य को हासिल करने ...

और पढ़ें