पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Chandigarh
  • AAP MP Bhagwant Mann Said Captain Amarinder Singh Should Not Defame The Farmers' Movement In The Name Of Hot Parties And Khalistanis

CM पंजाब पर लगाए आरोप:AAP के सांसद भगवंत मान ने कहा- कैप्टन अमरिंदर सिंह किसान आंदोलन को गर्म दल व खालिस्तानियों के नाम पर बदनाम न करें

चंडीगढ़11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
AAP के सांसद भगवंत मान ने कहा किसान आंदोलन को कैप्टन आतंकवाद के नाम पर खत्म करवाना चाहते है। - फाइल फोटो - Dainik Bhaskar
AAP के सांसद भगवंत मान ने कहा किसान आंदोलन को कैप्टन आतंकवाद के नाम पर खत्म करवाना चाहते है। - फाइल फोटो
  • आतंकवाद का डर दिखा कर किसानों और आम लोगों में दरार डालने की कोशिश कर रहे हैं कैप्टन

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह की ओर से गर्म दल और खालिस्तान के नाम पर किसान आंदोलन को खत्म करवाने के लिए प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी को की गई अपील को दुर्भाग्यपूर्ण करार देते AAP पंजाब के प्रधान और सांसद भगवंत मान ने कहा कि कैप्टन सरहद पार के आतंकवाद का डर दिखा कर किसानी आंदोलन को खत्म करने की कोशिश कर रहे हैं।

शनिवार को पार्टी मुख्य दफ्तर से जारी बयान में प्रदेश प्रधान भगवंत मान ने कहा कि मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह को कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलन कर रहे किसानों को गर्म दल या खालिस्तानी कह कर बदनाम करने से बचना चाहिए, क्योंकि देश के किसान अपनी ही सरकार से अपनी फसलों के सही दाम लेने के लिए शांतिमय आंदोलन कर रहे हैं, न कि हथियारबंद आंदोलन चला रहे हैं।

मान ने कहा कि किसानों के आंदोलन की भारत समेत दुनिया के प्रसिद्ध व्यक्तियों ने तारीफ की है, परन्तु पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह किसानी आंदोलन को सरहद पार से आतंकवाद के साथ जोड़ने की भद्दी चाल चल रहे हैं। उन्होंने कहा कि कैप्टन ने एक बार भी सीधे तौर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से अपील नहीं की है कि केंद्र सरकार की तरफ से लागू किए कृषि कानून गलत हैं और किसानों के हितों के विरुद्ध हैं और यह रद्द किए जाएं, परन्तु किसानी आंदोलन को दबाने और बदनाम करने के लिए कैप्टन गलत बयानबाजी कर रहे हैं।

भगवंत मान ने आरोप लगाया कि कैप्टन अमरिंदर सिंह और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मिलीभगत करके किसानी आंदोलन को बदनाम करने के लिए काम कर रहे हैं। देश का बच्चा-बच्चा जानता है कि किसानी आंदोलन और सरहद पार आतंकवाद के बीच कोई संबंध नहीं है, परन्तु कैप्टन अमरिंदर सिंह किसानों के सिर दोष मढ़ रहे हैं। कैप्टन से सवाल करते भगवंत मान ने कहा- क्या कैप्टन सिद्ध कर सकेंगे कि किसानों और खालिस्तान समर्थकों में कोई संबंध है।

उन्होंने कहा कि वास्तव में कैप्टन सरहद पार आतंकवाद का डर दिखा कर किसानों और आम लोगों में दरार डालने की कोशिश कर रहे हैं। कैप्टन अमरिंदर सिंह की आलोचना करते मान ने कहा कि वे अपनी कुर्सी बचाने के लिए जितने चक्कर दिल्ली दरबार में लगाए हैं। अगर उनमें से एक बार भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पास जाकर किसानों के आंदोलन की हिमायत की होती तो अब तक किसानों का आंदोलन हल हो जाना था, परन्तु कैप्टन अमरिंदर सिंह ने हमेशा पंजाब के किसानों की पीठ में छुरा मारने का काम जरुर किया। आप नेता ने कहा कि कैप्टन अमरिंदर सिंह किसानों के शांतिमय आंदोलन को खत्म करने के लिए घटिया राजनीति कर रहे हैं।

खबरें और भी हैं...