पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Chandigarh
  • AAP MP Bhagwant Mann Said Central Government Should Stop The Partisanship With The States In The Fight Against The CORONA Epidemic

केंद्र सरकार पर भेदभाव का आरोप:AAP सांसद भगवंत मान ने कहा- CORONA महामारी के खिलाफ लड़ाई में प्रदेशों के साथ किया जा रहा पक्षपात बंद करे केंद्र सरकार

चंडीगढ़एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
AAP सांसद भगवंत मान ने केंद्र सर� - Dainik Bhaskar
AAP सांसद भगवंत मान ने केंद्र सर�
  • बिगड़ते हालातों के लिए पंजाब सरकार को तैयार रहना चाहिए,दवा और ऑक्सीजन के लिए केंद्र दबाव बनाए मुख्यमंत्री

AAP पंजाब के प्रधान और सांसद भगवंत मान ने PM नरेंद्र मोदी से अपील की है कि कोरोना महामारी के खिलाफ लड़ाई में पंजाब के साथ किया जा रहा पक्षपात बंद किया जाए और कोरोना मरीजों को बचाने के लिए ऑक्सीजन गैस, मेडिकल उपकरण और दवाओं में किसी प्रकार की कमी नहीं आने देनी चाहिए। मान ने कहा कि पंजाब सरकार को भी केंद्र सरकार पर दबाव बना कर रखना चाहिए जिससे जरूरत के हिसाब से दवा और ऑक्सीजन गैस मिलने में कोई कमी न हो। उन्होंने कहा कि प्रदेश में डॉक्टर,नर्सिंग स्टाफ और कर्मचारियों की कमी के लिए पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह जिम्मेवार है।

केंद्र सरकार दवा व ऑक्सीजन गैस सप्लाई नहीं कर रही

शुक्रवार को पार्टी के मुख्य दफ्तर से जारी एक बयान में भगवंत मान ने कहा कि कोरोना वायरस ने पूरे देश को बुरी तरह से प्रभावित किया है। पंजाब देश का महत्वपूर्ण प्रदेश है। पंजाब में कोरोना पीड़ितों की संख्या में हर रोज बढ़ोतरी हो रही है और मौत दर ज़्यादा है, जो बहुत ही चिंता का विषय है।उन्होंने कहा कि प्रदेश में डाक्टरों, नर्सों, पैरा मैडीकल स्टाफ की कमी के साथ साथ जीवन रक्षक उपकरणों, ऑक्सीजन गैस और दवाओं की भी कमी बनी हुई है। भले ही डाॅक्टर और अन्य स्टाफ की भर्ती करने के लिए पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह जिम्मेदार हैं, परन्तु ऑक्सीजन और दवाओं की सप्लाई के लिए केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार जिम्मेदार है। पीड़ितों के इलाज के लिए जितनी ऑक्सीजन और टीकों की जरूरत है, उतनी सप्लाई केंद्र सरकार नहीं दे रही। इस के उलट भाजपा शासित प्रदेशों में इनकी सप्लाई ज्यादा प्रदान की जा रही है।

बिगड़ते हालात के लिए तैयार रहे पंजाब सरकार

भगवंत मान ने कहा कि कोरोना महामारी के साथ पंजाब में बिगड़ते हालात से निपटने के लिए पंजाब सरकार को तैयार रहना चाहिए। मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह को प्रदेश के अस्पतालों में जरूरी दवाएं और ऑक्सीजन के लिए केंद्र सरकार पर दबाव बनाना चाहिए। उन्होंने कहा कि दिल्ली प्रदेश के साथ भी केंद्र सरकार पक्षपात कर रही है, परन्तु दिल्ली की अरविन्द केजरीवाल सरकार अपने लोगों की जान बचाने के लिए जरूरत के मुताबिक ऑक्सीजन लेने के लिए दिल्ली की हाईकोर्ट तक भी लड़ाई लड़ रही है और दिल्ली हाई कोर्ट की केंद्र को कई बार फटकार के बाद ही पहली बार 700 टन मैडीकल-ग्रेड ऑक्सीजन की सप्लाई पूरी की गई। दिल्ली सरकार के यत्नों का पंजाब के कांग्रेसी सांसदाें ने भी स्वागत किया है और मुख्यमंत्री को सलाह दी है कि प्रदेश के लोगों की जान बचाने के लिए दिल्ली की तर्ज पर केंद्र सरकार पर दबाव बनाएं।

खबरें और भी हैं...