चंडीगढ़ नगर निगम चुनाव 24 को:3500 जवानों की होगी तैनाती, 35 वार्ड में बनाए 694 मतदान केंद्र, 6.90 लाख मतदाता करेंगे मत का प्रयोग

चंडीगढ़6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
चंडीगढ़ नगर निगम। - Dainik Bhaskar
चंडीगढ़ नगर निगम।

चंडीगढ़ नगर निगम के चुनाव 24 दिसंबर को होने जा रहे हैं। चुनाव को लेकर चंडीगढ़ प्रशासन ने शुक्रवार को छुट्‌टी की घोषणा कर दी है। दूसरी ओर नगर निगम चुनाव में मतदान पर कानून व्यवस्था बनाने के लिए यूटी पुलिस की आधी फोर्स तैनात होगी। करीब 3500 पुलिस कर्मचारी नियुक्त होंगे।

एसएसपी कुलदीप सिंह चहल के सुपरविजन में एसपी केतन बंसल, एसपी मनोज कुमार मीणा सहित सभी डीएसपी, इंस्पेक्टर, आइआरबी (इंडियन रिजर्व बटालियन), एसआई, एएसआई, महिला पुलिसकर्मी, कंट्रोल रुम, पीसीआर और नाकाबंदी करने वाली ट्रैफिक के कुल 3500 जवानों की ड्यूटी निर्धारित की गई। इसके अलावा विभाग की मांग पर कुल छह कंपनियां भी तैनात होगी। इस बार वार्ड 26 से बढ़ाकर 35 हैं। 35 वार्ड में 694 मतदान केंद्र बनाए गए है। करीब 6.90 लाख मतदाता वोटिंग में हिस्सा लेंगे।

पीपीई किट में होगी पुलिस कर्मचारियों की टीम

एसएसपी कुलदीप चहल ने बताया कि ऐसे वार्डों व बूथों के बारे जानकारी जुटाई जा रही है, जहां माहौल खराब होने की आशंका है। विभिन्न राजनीतिक दलों से इसको लेकर बातचीत की जा रही है। हल्लोमाजरा, बापू धाम, राम दरबार, कॉलोनी नंबर चार, मलोया, धनास, सेक्टर-25 कॉलोनी, इंदिरा कॉलोनी, किशनगढ़, डड्डूमाजरा समेत कई इलाके हैं, जहां झगड़े का अंदेशा रहता है। इन संवेदनशील बूथों की जिम्मेदारी पैरामिलिट्री फोर्स को होगी।

सभी बूथों पर स्वास्थ्य टीम के साथ पीपीई किट में जवान

इस बार निगम के चुनाव में कोरोना संक्रमित मरीज किसी को अथॉरिटी देकर अपना मतदान कर सकेंगे। वहीं, प्रत्येक बूथ पर बिना मास्क और थर्मल स्कैनिंग के मतदान नहीं कर सकेंगे। इसके लिए सभी बूथों पर तैनात स्वास्थ्य कर्मियों की टीम के साथ पुलिस कर्मियों की टीम पीपीई किट में तैनात होगी। किसी भी तरह की अप्रिय घटना होने पर गिरफ्तार करेगी।

सिर्फ आपातकालीन स्थितियों में छुट्टी के आदेश

आपातकालीन स्थितियों को छोड़कर पुलिस कर्मियों की छुट्टियां लेने पर पाबंदी लगा दी गई है। सीआईडी टीम ने स्थानीय पुलिस की मदद से संवेदनशील बूथों की ग्राउंड स्तर पर फीडबैक लेने की प्रक्रिया शुरू कर दी। बूथों पर पुलिसकर्मियों को वीडियो रिकॉर्डिंग के लिए कैमरे दिए जाएगा। आपाकालीन स्थिति में स्मार्ट कैमरे भी उपयोग कर सकेंगे।