पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

स्वच्छता अभियान:प्रशासन ने कहा -गारबेज कलेक्टर्स को एडजस्ट करेंगे, हेल्पर या ड्राइवर का काम दिया जा सकता है

चंडीगढ़2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अपनी मांगों को लेकर प्रोटेस्ट करते गारबेज कलेक्टर। 			फोटो: भास्कर - Dainik Bhaskar
अपनी मांगों को लेकर प्रोटेस्ट करते गारबेज कलेक्टर। फोटो: भास्कर
  • हाईकोर्ट ने लिखित में जवाब मांगा, याची पक्ष ने कहा- प्रशासन के पास उनके पुनर्वास की योजना नहीं

चंडीगढ़ में लोगों के घरों से रेहड़ी में कूड़ा ले जाने वालों को चंडीगढ़ प्रशासन ने एडजस्ट करने की बात हाईकोर्ट में बुधवार को कही। प्रशासन की तरफ से कहा गया कि मोटराइज्ड गारबेज कलेक्शन के काम में इन्हें हेल्पर या ड्राइवर का काम दिया जा सकता है। याची पक्ष की तरफ से कहा गया कि प्रशासन के पास उनके पुनर्वास को लेकर कोई योजना नहीं है।

उनकी संख्या 3000 है, जबकि ज्यादा से ज्यादा 300 लोग ही एडजस्ट किए जा सकते हैं। जस्टिस लिसा गिल ने इस पर चंडीगढ़ प्रशासन से लिखित में जवाब तलब करते हुए मामले पर 25 जनवरी के लिए अगली सुनवाई तय की है। सेक्टर-56 निवासी शमशेर सिंह व 28 अन्य लोगों की तरफ से याचिका दायर कर कहा गया कि वे बीते 15-20 साल से लोगों के घरों से रेहड़ी में कूड़ा ले जाने का काम करते हैं।

चंडीगढ़ नगर निगम ने उनकी जगह मोटराइज्ड गारबेज कलेक्शन का फैसला लिया है। इसमें नगर निगम की गाड़ी लोगों के घरों से सूखा व गीला कचरा अलग अलग लेकर जाएगी। याचिका में कहा गया कि कोविड-19 के कठिन दौर में उनकी आय का एकमात्र साधन छीना जा रहा है, जबकि यह फैसला लेते हुए उन्हें अपनी बात रखने का मौका तक नहीं दिया गया।

याची पक्ष की तरफ से कोर्ट में कहा गया कि लोगों के घरों से कूड़ा ले जाने वालों में ज्यादातर अनुसूचित जाति या पिछड़ी जाति से जुड़े आर्थिक रूप से कमजोर लोग शामिल हैं। ऐसे में इनकी आय का साधन न छीना जाए और प्रभावित लोगों को अपनी बात रखने का मौका दिया जाए।

गारबेज कलेक्टर्स ने एमसी ऑफिस के आगे फेंका कूड़ा, कमिश्नर का पुतला फूंका

चंडीगढ़| गारबेज कलेक्टर का एक धड़ा निगम की ओर से चलाई गई गाड़ियों के विरोध में एमसी ऑफिस के सामने भूख हड़ताल पर बैठा है। उनकी मांग है कि पहले की तरह रेहड़ी से ही डोर टू डोर कूड़ा उठाएं न कि एमसी की गाड़ियां चलें। विरोध स्वरूप बुधवार दोपहर को निगम कमिश्नर के रेजिडेंस के आगे कूड़ा फेंकने के लिए चले, लेकिन पुलिस ने सेक्टर 16-17 लाइट पाॅइंट पर बैरिकेड्स लगाकर उन्हें रोक लिया।

इसके बाद उन्होंने कमिश्नर का पुतला फूंका और एमसी ऑफिस आगे कूड़ा फेंक दिया। गारबेज कलेक्टर की कूड़ा फेंकने की चेतावनी का पता चलते ही पुलिस ने बुधवार सुबह ही निगम कमिश्नर और होम सेक्रेटरी के रेजिडेंस के आगे सेक्टर-16 में दो-दो जगह बेरिकेडिंग कर दी थी।

गारबेज कलेक्टर पंजाब एंड हरियाणा में गए हुए हैं। वहां पर बुधवार को सुनवाई थी। गारबेज कलेक्टर को उम्मीद थी कि कोर्ट से उन्हें स्टे मिल जाएगी। लेकिन कोर्ट ने सुनवाई 25 जनवरी को रख दी।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आप अपने व्यक्तिगत रिश्तों को मजबूत करने को ज्यादा महत्व देंगे। साथ ही, अपने व्यक्तित्व और व्यवहार में कुछ परिवर्तन लाने के लिए समाजसेवी संस्थाओं से जुड़ना और सेवा कार्य करना बहुत ही उचित निर्ण...

    और पढ़ें