कोरोना वैक्सीनेशन की तैयारी:18 से 44 साल एजग्रुप के लिए प्रशासन ने सीरम इंस्टीट्यूट काे भेजा 1 लाख डाेज का ऑर्डर

चंडीगढ़6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
इन्होंने टीका लगवाकर अपनी जिम्मेदारी निभाई। अब बारी आपकी। - Dainik Bhaskar
इन्होंने टीका लगवाकर अपनी जिम्मेदारी निभाई। अब बारी आपकी।
  • प्रशासन खरीदकर लगाएगा वैक्सीन, पैसा लिया जाएगा या नहीं अभी तय नहीं
  • काेविन एप स्लाे, रजिस्ट्रेशन करवाने वाले युवाओं काे आ रही दिक्कत

एक मई से 18 से 44 साल एजग्रुप काे काेराेना वैक्सीन लगाने का अभियान शुरू हाेने जा रहा है। केंद्र से मिले दिशा निर्देश के बाद हेल्थ डिपार्टमेंट ने सीरम इंस्टीट्यूट काे एक लाख वैक्सीन का ऑर्डर भेज दिया है। प्रशासन काे अब केंद्र से नहीं बल्कि सीधे कंपनी से वैक्सीन खरीदनी हाेगी।

सीरम इंस्टीट्यूट ने हेल्थ डिपार्टमेंट से कहा है कि वह एक दाे राेज में वैक्सीन चंडीगढ़ काे भेजेगा। लेकिन कितनी भेजेगा अभी उसने बताया नहीं है। डायरेक्टर हेल्थ सर्विसेज और वैक्सीनेशन प्राेग्राम की नाेडल |ऑफिसर डॉ. अमनदीप कंग ने बताया कि 18 से 44 साल एजग्रुप के लिए अलग से वैक्सीन की डाेज आने पर लगाई जाएगी। अभी हमारे पास करीब 95 हजार डाेज हैं,जाे कि 45 साल या उससे अधिक उम्र के लाेगाें के लिए है,यह डाेज उन्हीं लाेगाें काे लगाई जाएगी।

दूसरी तरफ वैक्सीन लगवाने काे तैयार युवा मंगलवार रात 12 बजे से ही काेविन एप पर रजिस्ट्रेशन करवाने में जुटे हुए हैं। लेकिन साइट के स्लाे हाेने की वजह से रजिस्ट्रेशन करवाने में दिक्कत अाई। देर रात तक युवा वैक्सीन लगवाने के लिए रजिस्ट्रेशन में जुटे रहे। जिन लाेगाें का रजिस्ट्रेशन नहीं हाे पायेगा उन्हें पहले दिन वैक्सीन की डाेज लगवाने में आयेगी दिक्कत ।

ये ही प्राेसिजर

अगर काेई 18 साल से 44 साल एजग्रुप का है ताे वह अपना रजिस्ट्रेशन करवा सकता है। इसमें उसे अपना माेबाइल नंबर और आधार नंबर देना हाेगा। इसके बाद प्रशासन वैक्सीन के लिए स्लाॅट ओपन करेगा। स्लाॅट ओपन हाेने के बाद ही अपाॅइंटमेंट मिलेगी। फिर वैक्सीन लगवा सकेंगे। लेकिन अभी ताे रजिस्ट्रेशन में ही दिक्कत आ रही है। सेक्टर-37 के जयंत ने बताया कि वह सुबह से रजिस्ट्रेशन के लिए ट्राई कर रहा है, लेकिन उसका रजिस्ट्रेशन नही हाे पाया।

शुरुआत में कम नंबर में हाे पायेगी वैक्सीनेशान

डॉ. कंग ने बताया कि चूंकि अभी वैक्सीन नहीं आई है। इसलिए शुरु में 700 या 800 लाेगाें काे वैक्सीन की डाेज दी जाएगी। उन्हाेंने कहा कि चूंकि अभी हमने एक लाख वैक्सीन का ऑर्डर सीरम इंस्टीट्यूट काे भेजा है। इंस्टीट्यूट वैक्सीन भेजने के बाद क्या रेट फिक्स करेगा। अभी बताया नहीं गया है। दूसरा इस एजग्रुप से पैसा लेकर वैक्सीन लगाई जाएगी या पहले की तरह फ्री में वैक्सीन लगेगी अभी यह भी यह भी तय नहीं हुआ है।

हालांकि पंजाब और हरियाणा ने ताे इस एजग्रुप काे फ्री में वैक्सीन लगाने काे कह दिया है। लेकिन चंडीगढ़ यूटी है और केंद्र की गाइडलाइन फाॅलाे करता है,ऐसे में इस एजग्रुप काे वैक्सीन फ्री में वैक्सीन लगेगी या पैसे लेकर यह अभी तय नहीं हुआ है। डॉ. कंग ने बताया कि प्राईवेट सेंटर पर इस एजग्रुप काे फिलहाल वैक्सीन नहीं लगाई जाएगी।

क्या हाेगा प्राेसेस

1. जिसे अपाॅइंटमेंट मिलेगी उसे अपना जिस माेबाइल से रजिस्ट्रेशन करवाया उस पर आया हुआ मैसेज दिखाना हाेगा। साथ ही उसे अपना आधार कार्ड ही वैक्सीनेशन सेंटर पर लेकर आना हाेगा। यह दिखाने के बाद ही उसे वैक्सीनेशन सेंटर में एंट्री मिलेगी। 2. उसके बाद उसे वेटिंग एरिया में बैठाया जाएगा। 3. फिर वैक्सीनेशन एरिया में उसका ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन क्राॅस चैक किया जाएगा। 4. उसके बाद उसे वैक्सीन लगेगी। 5. वैक्सीन लगने के बाद उसे 15 से 20 मिनट ऑबजर्वेशान एरिया में बैठना हाेगा। 6. सेंटर पर एक इमरजेंसी एरिया भी है, जहां पर किसी काे वैक्सीन लगवाने के बाद अगर काेई दिक्कत हाेती है ताे उसे वहां पर प्राथमिक इलाज दिया जाएगा।

खबरें और भी हैं...