पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

ये कैसी मनमानी:दाे घंटे एडमिट किया, सिर्फ ऑक्सीजन लगाई, बिल बना दिया 17500 रुपए

चंडीगढ़4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सेक्टर-19 स्थित केयर पार्टनर हार्ट सेंटर के इंचार्ज मनवीर सिंह के मुताबिक हमारे यहां अभी तक डायरेक्टर हेल्थ सर्विसेज ऑफिस से इस बारे में कोई जानकारी नहीं मांगी गई है। मेरी जानकारी में यह मामला नहीं है। ओवरचार्जिंग हमने नहीं की है।  - Dainik Bhaskar
सेक्टर-19 स्थित केयर पार्टनर हार्ट सेंटर के इंचार्ज मनवीर सिंह के मुताबिक हमारे यहां अभी तक डायरेक्टर हेल्थ सर्विसेज ऑफिस से इस बारे में कोई जानकारी नहीं मांगी गई है। मेरी जानकारी में यह मामला नहीं है। ओवरचार्जिंग हमने नहीं की है। 

मेरे पिता काे 23 अप्रैल काे काेराेना हुआ। हम लाेग उन्हें उसी दिन सुबह 9 बजे मैक्स हाॅस्पिटल ले गए, लेकिन वहां जवाब मिला कि हमारे पास ICU बेड खाली नहीं है। इसके बाद हमें सेक्टर-19 स्थित केयर पार्टनर हार्ट सेंटर में ICU बेड मिल गया।

केयर पार्टनर हाॅस्पिटल ने कहा कि 50 हजार जमा करा दीजिए। जह उन्हें बताया कि अभी उनके पास 20 हजार रुपए हैं तो वहां रिसेप्शन पर बैठे कर्मचारी ने कहा कि आपको अकाउंट नंबर भेज रहे हैं, 20 हजार रुपए इसमें ट्रांसफर कर दाे।

इसके बाद मरीज को केयर पार्टनर हाॅस्पिटल ले गए। यहां पर फर्स्ट फ्लाेर पर एक 10 बाई 10 के कमरे में, जहां दाे मरीज पहले थे, वहां पिता जी को लिटा दिया और ऑक्सीजन लगा दी। पिता की यहां किसी ने देखभाल नहीं की। रोज का खर्च बता दिया 35 हजार।

एंबुलेंस भी नहीं दी

आराेप है कि हाॅस्पिटल ने दाे घंटे में सिर्फ ऑक्सीजन लगाई। इंश्याेरेंस कवर देने से भी मना किया तो दिया ताे उसी दिन उन्हाेंने पिता जी काे IVY हाॅस्पिटल में शिफ्ट करवाने की बात की। 17500 रुपए का बिल बनाया गया। जब उनसे IVY हाॅस्पिटल ले जाने के लिए एंबुलेंस मांगी ताे मना कर दिया गया।

हम किसी तरह IVY हाॅस्पिटल पहुंचे। ऑक्सीजन सेचुरेशन 95 था। पिता जी का यहां 18 दिन इलाज चला। उन्हें रेमडेसिविर इंजेक्शन और प्लाज्मा की डोज एकसाथ दे दी गई। इससे तबीयत बिगड़ गई और वे वेंटिलेटर पर चले गए। 10 मई काे पिता की कार्डियक अरेस्ट के चलते माैत हाे गई। 7 लाख रुपए बिल बना दिया गया।

  • 14000 रु. ICU बेड
  • 2500 रु. वेंटिलेटर के
  • 500 रु. ऑक्सीजन सर्विस के
  • 200 रु. ECG के

मामले की नहीं है जानकारी

सेक्टर-19 स्थित केयर पार्टनर हार्ट सेंटर के इंचार्ज मनवीर सिंह के मुताबिक हमारे यहां अभी तक डायरेक्टर हेल्थ सर्विसेज ऑफिस से इस बारे में कोई जानकारी नहीं मांगी गई है। मेरी जानकारी में यह मामला नहीं है। ओवरचार्जिंग हमने नहीं की है।

खबरें और भी हैं...