• Hindi News
  • Local
  • Chandigarh
  • Advance Cardiac Center Pvt. Vijayvargiya Said Cardio Vascular Disease Is The Most Deadly In Kovid, It Is Causing The Most Deaths

वर्ल्ड हार्ट डे आज:एडवांस कार्डियक सेंटर के प्राे. विजयवर्गीय ने कहा- काेविड में कार्डियाे वेस्कुलर डिजीज सबसे घातक, इससे सबसे ज्यादा मौतें हो रहीं

चंडीगढ़2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

काेविड-19 का संघर्ष अभी खत्म नहीं हुआ है। साथ ही हम कभी भी अपने घर के और नजदीकियों के स्वास्थ्य के महत्व के बारे में ज्यादा जागरूक और चिंतित नहीं हैं। हृदय रोग (सीवीडी) कार्डियक वेस्कुलर डिजीज से सबसे ज्यादा माैतें हाे रही हैं और इसके कई संभावित जोखिम कारक हैं जैसे धूम्रपान, डायबिटीज, डायबिटीज, भागदाैड़ भरी लाइफ स्टाइल और मोटापा आदि हैं।

काेविड में इस बीमारी के लाेगाें काे ज्यादा दिक्कत हुई इसकी मृत्युदर भी इन्हीं मरीजाें की ज्यादा रही। यह बात पीजीआई के एडवांस कार्डियक सेंटर के प्राे. राजेश विजयवर्गीय ने कही। वे वर्ल्ड हार्ट डे के माैके पर पीजीआई में बाेल रहे थे। कहा कि लाइफ स्टाइल, अनियमित खानपान दिल संबंधी बीमारियाें काे बढ़ा रहा है।

सीवीडी वालों में काेविड संक्रमण दर भी ज्यादा
कार्डियोलॉजी विभाग, पीजीआई, चंडीगढ़ के प्रोफेसर राजेश विजयवर्गीय ने टिप्पणी की कि विश्व हृदय दिवस की डब्ल्यूएचओ थीम “हार्ट टू कनेक्ट” के रूप में मूल रूप से रोगियों के सभी स्तरों के लिए हृदय रोग की रोकथाम, शीघ्र निदान और अग्रिम प्रबंधन है। समाज, जिसमें वंचित लोग भी शामिल हैं।

राेजमर्रा की दिनचर्या में इन्हें शामिल करें
अपने खाने में राेजाना 200 ग्राम हरी सब्जियां, अनाज और फाइबर 20 ग्राम जरूरी रखें। राेजाना नमक का सेवन 5 ग्राम से कम करें। रेड मीट, डेयरी प्राेडक्ट, नारियल और तले और ज्यादा चिकनाई वाले खाद्य पदार्थाें का सेवन न करें। खासताैर पर पैक्ड फूड न लें।

राेजाना 30 से 45 मिनट की सैर, एक्सरसाइज करें

  • अपना लिपिड प्राेफाइल डाॅक्टर की सलाह के अनुसार समय-समय पर चैक करवाते रहें।
  • अपना बीपी कंट्राेल में रखें। 140/90 से ज्यादा आपका बीपी नहीं हाेना चाहिए।
  • वजन न बढ़ने दें। बाॅडी मास्क इंडेक्स भी चैक करवाते रहें।
  • घर में या वर्क प्लेस पर तनाव में काम न करें। तनाव भी कई बीमारियाें का कारण हाेता है।
  • बिना डाॅक्टर की सलाह के एस्पिरिन और स्टेटिन जैसी दवाएं नहीं लेनी चाहिए।

हार्ट काे दुरुस्त रखना है ताे इनका पालन करें

  • काेविड में दिल के मरीज समय पर दवा लें। खाने-पीने का ख्याल रखें। ज्यादा तली हुई चीजाें से परहेज करें। राेजाना 30 से 45 मिनट की वाॅक और एक्सरसाइज करें।
  • कोलस्ट्रॉल समय-समय पर चेक करवाते रहें।
  • काेविड प्राेटाेकाल का पालन न छाेड़ें। कहीं भी बिना मास्क के न जाएं। साेशल डिस्टेंसिंग का पालन करें। वायरस को लेकर अभी एहतियात बरतने की जरूरत है।
खबरें और भी हैं...