संक्रमण से लड़ाई में सेना का सहयोग:कोरोना संक्रमण से बचाव को लेकर पंजाब यूनिवर्सिटी के होस्टल में सेना बनाएगी 100 बेड का अस्पताल

चंडीगढ़6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पंजाब यूनिवर्सिटी के इंटरनेशनल हॉस्टल में सेना कोविड अस्पताल बनाएगी। डेमाे फोटो - Dainik Bhaskar
पंजाब यूनिवर्सिटी के इंटरनेशनल हॉस्टल में सेना कोविड अस्पताल बनाएगी। डेमाे फोटो

चंडीगढ़ में बढ़ते कोरोना संक्रमण और अस्पतालों में बेड की समस्या के चलते अब पंजाब यूनिवर्सिटी के इंटरनेशनल होस्टल को अस्पताल के तौर पर बदला जाएगा। यहां पर 100 बेड के अस्पताल को आर्मी तैयार करेगी और इसमें चंडीगढ़ प्रशासन आर्मी का सहयोग करेगा। वेस्टर्न कमांड चंडी मंदिर की तरफ से ये प्रपोजल चंडीगढ़ प्रशासन को दिया गया था।

प्रशासन की तरफ से खाली एरिया के बजाय एक पूरी बिल्डिंग आर्मी को अस्पताल के तौर पर तैयार करने के लिए दी जाएगी। यहां पर ऑक्सीजन और बाकी सभी जरूरी सुविधाएं रहेंगी। प्रशासक वीपी सिंह बदनोर ने कहा है कि वेस्टर्न कमांड चंडी मंदिर कि अथॉरिटी के साथ इसको लेकर जल्दी फाइनल कर लिया जाएगा, ताकि जल्द ही अस्पताल को शुरू कर दिया जाए। इस अस्पताल में पूर्व सैन्य कर्मियों या उनके परिवार वालों के लिए भी सुविधाएं रहेंगी।

कम्यूनिटी सेंटर, भवनों में भी बनेंगे कोविड सेंटर

शहर में कोरोना मरीजों की बढ़ती संख्या देख अब चंडीगढ़ के कम्यूनिटी सेंटर और कुछ भवनों में भी मिनी कोविड सेंटर शुरू किए जाएंगे। इन मिनी कोविड सेंटर्स में 10 से 15 बेड की सुविधा रहेगी। यहां के लिए रिटायर्ड डॉक्टर और एडिशनल हेल्थ स्टाफ की सेवाएं ली जाएंगी।

शहर में रोजाना 600 से 700 में आ रहे संक्रमित

शहर में रोजाना कोरोना संक्रमण के 600 से 700 के बीच कोरोना संक्रमित मरीज आ रहे है। पिछले 24 घंटों में 772 नए मरीज मिले है। जिसके चलते अब शहर के अस्पतालों में मरीजों के लिए बेड नहीं मिल रहे है। इसी दिक्कत को दूर करने और अस्पतालों पर दबाव कम करने के लिए संस्था और एसोसिएशन को कोविड केयर सेंटर बनाने के लिए प्रशासन की ओर से कहा जा रहा है। इसके लिए प्रशासन की ओर से जमीन देने के लिए भी कहा गया है। शहर में आज तक कोरोना संक्रमण के 41 हजार 122 मरीज सामने आए है जिसमें से 34 हजार 357 मरीज ठीक हो गए है। फिलहाल शहर में 6 हजार 306 एक्टिव मरीज है और आज तक 457 मरीजों की मौत हो चुकी है।