• Hindi News
  • Local
  • Chandigarh
  • Banking Services May Be Affected In Chandigarh On 27th, If The Demands Of Public Sector Bank Employees Are Not Accepted, There Will Be A Strike

चंडीगढ़ में 27 को बंद रहेंगे सभी बैंक:हड़ताल पर जा सकते हैं कर्मचारी; मांगों को लेकर आज सेक्टर-17 में किया विरोध प्रदर्शन

चंडीगढ़6 महीने पहले
सेक्टर 17 बैंक स्कवायर में विरोध प्रदर्शन करते बैंक कर्मी।

यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियंस (UFBU)की चंडीगढ़ ट्राईसिटी इकाई की तरफ से आज सेक्टर 17 में प्रदर्शन किया जा रहा है। वहीं यूनियन की तरफ से 27 जून को हड़ताल भी प्रस्तावित है। यदि यह हड़ताल होती है तो शहरवासियों के बैंक से जुड़े कामो में दिक्कत आ सकती है। बैंक कर्मियों द्वारा कहा गया कि उनकी लंबित मांगों को पूरा किया जाना चाहिए। एनपीएस को हटाना उनकी प्रमुख मांग है।

इसके अलावा सप्ताह में पांच दिन वर्किंग की भी मांग है। सरकार के समक्ष यह मांगें रखी गई थी मगर अभी तक कोई हल नहीं निकला है। 23 को संबंधित अथॉरिटी के साथ एक मीटिंग रखी गई है। यदि कोई हल नहीं निकलता तो 27 जून को एक दिन की हड़ताल प्रस्तावित है। यदि उसके बाद भी मांगे नहीं मानी जाती तो अगली रणनीति तैयार की जाएगी।

UFBU के ट्राईसिटी संयोजक बैंक कर्मी संजय शर्मा ने कहा कि उनकी मांगों को सरकार लगातार नजरअंदाज करती आ रही है। ऐसे में उनके पास प्रदर्शन के अलावा कोई चारा नहीं रह गया है। आज सुबह 10.30 बजे सेक्टर 17 बैंक स्क्वायर में यह प्रदर्शन शुरु हुआ है। इसमें लगभग 250 बैंक कर्मी प्रदर्शन कर अपनी मांगों को लेकर नारेबाजी कर रहे हैं। इसके बाद दोपहर को 2 से 3 बजे तक एसबीआई बैंक के सामने एक प्रदर्शन किया जाएगा। इस प्रदर्शन में पब्लिक सेक्टर के लगभग सभी बैंकों के कर्मी शामिल हैं। बैंकों की कुल 9 एसोसिएशन और यूनियंस UFBU के बैनर तले यह प्रदर्शन कर रही हैं।

संयोजक संजय शर्मा ने कहा कि सरकार को न्यू पैंशन स्कीम(एनपीएस) को हटा कर पुरानी पेंशन पॉलिसी को लागू करना चाहिए। जिसमें डीए आदि की सुविधाएं भी शामिल हैं। इसके अलावा सीएसबी और लक्ष्मी विला बैंक की वेज सेटलमेंट होने के बाद कर्मियों को एरियर देना चाहिए।