पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Chandigarh
  • By December, 600 Cycles Will Be Run In Many Sectors Of The First Phase Of The City, Half An Hour Will Cost 5 Rupees.

स्मार्ट सिटी:दिसंबर तक शहर के फर्स्ट फेज के कई सेक्टर्स में 600 साइकिलें चलेंगी, आधे घंटे के 5 रुपए लगेंगे

चंडीगढ़एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • साइकिल चलाने के लिए कंपनी स्मार्ट कार्ड बनाएगी, स्मार्ट कार्ड धारक एक डॉकिंग स्टेशन से दूसरे डॉकिंग स्टेशन तक साइकिल से जा सकेगा
Advertisement
Advertisement

(राजबीर सिंह राणा) शहर के फर्स्ट फेज के सेक्टर 1,2, 3, 4, 9, 10, 11, 12, 14, 15, 16, 17, 22, 23, 24, 25, मिल्क कॉलोनी धनास, हाउसिंग बोर्ड धनास, खुड्‌डा लाहौरा कॉलोनी के डॉकिंग स्टेशन से 600 साइकिल चलेंगी। इन साइकिलों को स्मार्ट बाइक मोबिलिटी लिमिटेड कंपनी द्वारा चलाया जाएगा। 
पहले फेज में पहली जुलाई से 31 दिसंबर तक साइकिल चलानी हैं। साइकिल चलाने वाले से कंपनी आधा घंटा के पांच रुपए लेगी। इसके लिए स्मार्ट सिटी लिमिटेड के सीईओ केके यादव वीरवार को स्मार्ट बाइक कंपनी के एमडी से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से डिस्कस करेंगे। स्मार्ट बाइक मोबिलिटी कंपनी शहर में चलाई जाने वाले साइकिलों के पार्ट्स को कई देशों से खरीदकर  यहीं असेंबल करेंगी। 
इनमें से कुछ पार्ट्स चाइना से भी लाए जाने थे। लेकिन गलवान वैली में चीन और भारत की सेना की बीच चल रही तनातनी के बीच चाइना से सामान खरीदने पर बैन है। वैसे भी देश में चाइना के सामान को लेकर गुस्सा है। इसी को देखते हुए अब साइकिल चलाने वाली कंपनी को चाइना के सस्ते सामान के बजाए जर्मनी, जापान, दक्षिण कोरिया से महंगा सामान खरीदना होगा या फिर इंडिया से बना सामान ही साइकिलों में फिट करना होगा। हालांकि इसमें स्मार्ट सिटी का कोई हस्तक्षेप नहीं है। कंपनी अपने फायदे के लिए सस्ता सामान किसी भी यूरोपीय देश से खरीद कर  साइकिल के पार्ट्स में सामान ला सकती है। उससे यहां साइकिल असेंबल कर सकती है।

स्मार्ट कार्ड से ऐसे कटेंगे रुपए
स्मार्ट बाइकि मोबिलटी कंपनी का स्मार्ट सिटी लिमिटेड के साथ एमओयू हुआ है कि वह शहर में चार फेज के जरिए 617 डॉकिंग सेंटर से  5 हजार साइकिल्स चलाएगी। पहला फेज पहली जुलाई से शुरू होना था और 31 दिसंबर तक चलेगा। कंपनी पहले फेज के सेक्टर में बने डॉकिंग स्टेशन से ही 600 साइकिल चलाएगी।  इसमें कंपनी साइकिल चलाने वाले से 30 मिनट के पांच रुपए लेगी।

हालांकि कंपनी सभी के समार्ट कार्ड बनाएगी। साइकिल चलाने के लिए उस कंपनी से स्मार्ट कार्ड बनवाना होगा। स्मार्ट कार्ड धारक एक डॉकिंग स्टेशन से लेकर दूसरे डॉकिंग स्टेशन पर साइकिल खड़े करेंगे तब उन्हें स्टेशन पर लगे टैग से स्मार्ट कार्ड टच करना होगा। तभी उनके खाते से आधे घंटे के हिसाब से पांच रुपए कंपनी के अकाउंट में चले जाएंगे। स्मार्ट कार्ड बनवाने के लिए आधार कार्ड या किसी अन्य आइडेंटिफिकेशन को देना होगा।

स्मार्ट सिटी का कोई लिंक नहीं

स्मार्ट सिटी लिमिटेड के सीईओ केके यादव का कहना है कि साइकिल शेयरिंग बेस पर फर्स्ट फेज में 1 जुलाई से 31 दिसंबर तक शुरू किए जाने हैं। इसके लिए कंपनी के एमडी से वीरवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से चर्चा करेंगे। कंपनी ने साइकिल के पुर्जे चाइना या किसी अन्य देश से खरीदकर यहां साइकिल असेंबल करने हैं। चाइना से बैन लगने पर किसी अन्य देश से कंपनी ले आएगी। इससे स्मार्ट सिटी का कोई लिंक नहीं है।

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - अपने जनसंपर्क को और अधिक मजबूत करें। इनके द्वारा आपको चमत्कारिक रूप से भावी लक्ष्य की प्राप्ति होगी। और आपके आत्म सम्मान व आत्मविश्वास में भी वृद्धि होगी। नेगेटिव- ध्यान रखें कि किसी की बात...

और पढ़ें

Advertisement