पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Chandigarh
  • Chandigarh Administration Removed Many Restrictions On The Coming Down Of Corona Case, In The Second Way People Are Still Negligent In The Vegetable Market

अस्पतालों में कोविड बेड खाली पड़े:चंडीगढ़ प्रशासन ने कोरोना मामले कम आने पर कई पाबंदियों को हटाया, दूसरी तरह अभी भी सब्जी मंडी में लोग बरत रहे लापरवाही

चंडीगढ़14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
सब्जी मंडी में काफी संख्या में लोग आ रहे। सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क नहीं लगा रहे। संक्रमण को लेकर लापरवाही बरत रहे। - Dainik Bhaskar
सब्जी मंडी में काफी संख्या में लोग आ रहे। सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क नहीं लगा रहे। संक्रमण को लेकर लापरवाही बरत रहे।

शहर में कोरोना संक्रमण के मामले कम आने पर प्रशासन की ओर से कई तरह की पाबंदियों को हटाया गया है और आने वाले दिनों में कई अन्य पाबंदियों को हटाया जाने वाला है। लेकिन शहर में लोग सोशल डिस्टेंसिंग का बिल्कुल नहीं ख्याल रख रहे और संक्रमण के प्रभाव को कम करने में अपना योगदान नहीं दे रहे। जिससे शहर में कोरोना संक्रमण जल्दी खत्म नहीं हो सकता।

अस्पतालों के नामकोविड बेड विद ऑक्सीजन बेड की संख्याइस समय भरे हुएइस समय खाली बेड
पीजीआई373180193
जीएमसीएच-3216610957
जीएमसीएच-48833449
जीएमएसएच-16242106136
सीएच-4542735
पंजाब यूनिवर्सिटी हॉस्टल(आर्मी)100991
इडन अस्पताल (प्राइवेट)532
सिटी अस्पताल (प्राइवेट)936
लेंडमार्क अस्पताल (प्राइवेट)331617
मुकुट अस्पताल (प्राइवेट)13310
हिलिंग अस्पताल1257

शहर के अस्पतालों में कोविड मरीजों की संख्या हुई कम
शहर के सरकारी और प्राइवेट अस्पतालों में अब कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या तेजी से कम हो रही है। कोरोना लहर के समय जहां पहले बेड नहीं मिल रहे थे अब इन अस्पतालों में कई-कई बेड खाली पड़े हुए है। पंजाब यूनिवर्सिटी के इंटरनेशनल हॉस्टल में आर्मी की ओर से बनाए गए 100 बेड के अस्पताल में केवल 9 मरीज दाखिल है जबकि 91 सीटें खाली पड़ी है। इसी तरह पीजीआई में कोविड बेड विद ऑक्सीजन की 373 बेड है जिनमें से 180 भरे है और 193 बेड पूरी तरह से खाली है। यह जानकारी प्रशासन की ओर से दी गई है।

सब्जी मंडी में सैकड़ों लोग
शहर की सेक्टर-26 की मंडी आम लोगों के लिए बंद है, लेकिन यहां शनिवार को हजारों लोग मौजूद थे। रेहड़ी-फड़ियां भी लगीं और आम लोग भी फल-सब्जियां लेने आए। वीकएंड लॉकडाउन में इतने लोग अलाउड नहीं है। इसके बावजूद यहां भीड़ जुटी रही। कुछ लोगों ने मास्क भी नहीं लगाया था, उचित दूरी की पालना तो यहां हो ही नहीं सकती। यहां पर पुलिस कर्मचारियों की संख्या तो बहुत दिखी लेकिन वे कुर्सियों पर बैठ कर आराम करती हुई दिखी।

सब्जी मंडी में रोजाना इस तरह से लाेगों की भीड़ लगी रहती है लेकिन इस पर कोई कंट्रोल नहीं रख रहा है। सेक्टर-26 की मंडी में ट्राईसिटी से लोग सब्जी खरीदने आते है। अगर कोई संक्रमित मरीज मंडी में आ गया तो वह कई लोगों को प्रभावित कर सकता है। प्रशासन ने जिस तरह से कोरोना संक्रमण के प्रभाव को रोकने के लिए काफी प्रयास किया अब उसी तरह से सब्जी मंडी में जमा होने वाले लोगों को भी रोकने की जरूरत है।

शहर में पिछले 24 घंटों में आए 163 मामले
शहर में काेराेना संक्रमण की सेकंड सर्ज की पीक खत्म हाेने के बाद अब केसेज कम हाेने शुरू हाे गए हैं। पिछले 24 घंटों में सेकंड सर्ज में सबसे कम 163 मरीज पाॅजिटिव पाए गए। शहर में एक्टिव मरीजाें का आंकड़ा जाे 10 दिन पहले 10 हजार के आसपास पहुंच गया था। वह अब 2500 से नीचे आ गया है। शहर में आज तक 2466 एक्टिव केस रह गए है। पिछले 24 घंटे में 3076 सैंपल टेस्ट किए गए।

कम हो रही मरीजों की संख्या
शहर में अब तक 59 हजार 740 मरीज पौजीटिव हाे चुके हैं। इनमें से 56 हजार 534 मरीज ठीक हाे चुके हैं। शहर में अब तक 740 लाेग काेराेना संक्रमण के चलते जान गंवा चुके हैं। सबसे ज्यादा मरीज मनीमाजरा से आ रहे थे, लेकिन शनिवार काे यहां 19 केस पॉजिटिव पाए गए। माैलीजागरां में 8, सेक्टर-26 में 8, सेक्टर-49, सेक्टर-55 व खुड्‌डा लाहौरा में 6-6, मलाेया और धनास से पांच, सेक्टर-51 में सात मरीज पॉजिटिव मिले।

खबरें और भी हैं...