पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Chandigarh
  • Chandigarh Administration Said Private Hospitals Can Also Set Up PSA Gas Plant To Make Oxygen From The Air

कोरोना की तीसरी लहर से पहले की तैयारी:चंडीगढ़ में अब प्राइवेट अस्पताल भी लगवा सकेंगे हवा से ऑक्सीजन बनाने वाला PSA गैस प्लांट, प्रशासन देगा तकनीकी सहयोग

चंडीगढ़10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
शहर के निजी अस्पताल भी अब पीएसए प्लांट लगा सकेंगे। डेमो फोटो - Dainik Bhaskar
शहर के निजी अस्पताल भी अब पीएसए प्लांट लगा सकेंगे। डेमो फोटो

कोरोना संक्रमण की संभावित तीसरी लहर में ऑक्सीजन की कमी न हो इसको ध्यान में रखते हुए अब प्राइवेट अस्पताल भी अपने यहां हवा से ऑक्सीजन गैस बनाने वाले प्रेशर स्विंग एडसॉर्प्शन (पीएसए) प्लांट लगा सकते हैं। इसे लेकर सेक्रेटरी हेल्थ यशपाल गर्ग की अध्यक्षता में एक मीटिंग हुई, जिसमें डायरेक्टर हेल्थ सर्विसेज डॉ. अमनदीप कंग, मेडिकल सुपरिनटेंडेंट वीरेंद्र नागपाल ने भी हिस्सा लिया। इसमें 13 प्राइवेट अस्पताल के नुमाइंदे मौजूद थे।

सेक्रेटरी हेल्थ यशपाल गर्ग ने बताया कि प्राइवेट हॉस्पिटल अपने खर्च पर यह प्लांट लगाएंगे। अस्पताल अपनी जरूरत के मुताबिक 100 लीटर प्रति मिनट से 500 लीटर प्रति मिनट का प्लांट लगा सकते हैं। प्रशासन की तरफ से अस्पताल द्वारा प्लांट लगवाने के लिए जरूरी तकनीकी जानकारी मुहैया करवाई जाएगी। जो अस्पताल लिक्विड ऑक्सीजन सिलेंडर से अपना काम चलाना चाहते हैं तो वो भी कर सकेंगे। प्रशासन ने इनके समक्ष प्रस्ताव रखा है। 15 दिनों के भीतर प्राइवेट अस्पताल प्रशासन को बताएंगे कि प्लांट लगवाने के इच्छुक हैं या नहीं।

प्राइवेट हॉस्पिटल काे पीएसए ऑक्सीजन तकनीक प्रेजेंटेशन दिखाई
इस मौके पर जीएमएसएच-16 के मेडिकल ऑफिसर डॉ. मनजीत सिंह ने प्रेशर स्विंग एडसॉर्प्शन ऑक्सीजन प्लांट लगाने काे लेकर टेक्निकल प्रेजेंटेशन दी। इसमें उन्होंने बताया कि कितने लीटर प्रति मिनट ऑक्सीजन जेनरेशन के प्लांट के लिए कितनी जगह और किस तकनीक की जरूरत होती है। प्लांट लगाने के लिए किस-किस डिपार्टमेंट से परमिशन लेने की जरूरत होती है।अस्पताल चाहें तो प्लांट अस्पताल की छत पर भी लगा सकते हैं। इस दौरान यह तय किया गया कि अगले महीने इच्छुक अस्पताल प्रबंधकों के साथ फिर मीटिंग होगी। इसमें वे अपनी सहमति के बारे में बताएंगे। वहीं सभी अस्पताल के प्रतिनिधियों ने इस सुविधा की परमिशन देने संबंधी प्रशासन के फैसले का स्वागत किया।

खबरें और भी हैं...