कोरोना इफैक्ट / चंडीगढ़ की हवा हिल स्टेशन जितनी साफ हुई; शहर में गाड़ियां न चलने के कारण हर घंटे एयर क्वालिटी इंडेक्स हो रहा है ठीक

चंड़ीगढ़ में एयर क्वालिटी इंडेक्स सही होने के बाद हवा साफ हो गई है। चंड़ीगढ़ में एयर क्वालिटी इंडेक्स सही होने के बाद हवा साफ हो गई है।
X
चंड़ीगढ़ में एयर क्वालिटी इंडेक्स सही होने के बाद हवा साफ हो गई है।चंड़ीगढ़ में एयर क्वालिटी इंडेक्स सही होने के बाद हवा साफ हो गई है।

  • कोरोना के चलते कर्फ्यू लगा हुआ है, लोगों घरों में कैद हैं और गाड़ियां पार्किंग में
  • पहले एयर क्वालिटी इंडेक्स इस समय सैटेस्फेक्टरी या पूअर कैटेगरी में होता

दैनिक भास्कर

Mar 26, 2020, 07:11 AM IST

चंडीगढ़. जिस साफ हवा के लिए आप हिल स्टेशन जाते हैं, उतनी साफ हवा अब अपने शहर की है। पिछले चार दिनों से शहरों में कम गाड़ियां ही निकली हैं। अब इसका असर चंडीगढ़ के एयर क्वालिटी इंडेक्स पर दिख रहा है। हर घंटे चंडीगढ़ की हवा की क्वालिटी बेहतर से बेहतर होती जा रही है। कोरोना के चलते कर्फ्यू लगा हुआ है, लोगों घरों में कैद हैं और गाड़ियां पार्किंग में। असर ये कि नेचर खुद को रिबूट कर रही है। एयर क्वालिटी इंडेक्स जो इस समय सिर्फ सैटेस्फेक्टरी या पूअर कैटेगरी में होता था, वह अब बेहतर होता जा रहा है।

इसका पता इससे चलता है कि चंडीगढ़ का एयर क्वालिटी इंडेक्स (एक्यूआई) बुधवार शाम तक ही 33 तक पहुंच गया। इसे आप ऐसे समझ सकते हैं कि अगर एक्यूआई 50 तक हो तो इसका मतलब ये कि शहर की हवा साफ है और इसको गुड कैटेगरी में माना जाता है। हिल स्टेशन का एक्यूआई भी करीब इतना ही या इससे भी कम रहता है।

हवा अभी और साफ होगी

एक्सपर्ट्स के मुताबिक हवा अभी और साफ होगी, क्योंकि बीच में बारिश हो जाती है और 21 दिन इसी तरह से गाड़ियां बंद रहती हैं तो हवा की क्वालिटी और बेहतर होती जाएगी। ये इसलिए भी हेल्थी हवा इस वक्त चंडीगढ़ की इस वक्त है क्योंकि पर्टिकुलेट मैटर्स 2.5 यानि आदमी के बालों से भी 100 गुना छोटे कणों का लेवल अब कंट्रोल में हैं। दरअसल ये कण ही सबसे ज्यादा खतरनाक होते हैं, क्योंकि ज्यादातर बिमारियां इसी कैटेगरी के पाॅल्यूटेंट से ज्यादा होती है।

पिछले चार-पांच साल से लगातार बढ़ रहा चंडीगढ़ में एयर पाॅल्यूशन
चंडीगढ़ में लगातार एयर पाॅल्यूशन पिछले चार पांच साल से बढ़ रहा है। हाल ये कि चंडीगढ़ को भी बाकी 100 उन शहरों की लिस्ट में शामिल किया गया था जिनमें पर्टिकुलेट मैटर्स का लेवल लगातार तय लेवल से ज्यादा रहा। इसके चलते चंडीगढ़ प्रशासन ने एक्शन प्लान तैयार किया जिसको इंप्लीमेंट करने के लिए हाल ही में मिनिस्ट्री ने 10 करोड़ रुपए भी प्रशासन को जारी किए हैं।

बुधवार को एयर क्वालिटी इंडेक्स: 33 

पीएम  एवरेज मैक्सिमम
2.5 24 39
10 34 62

नाइट्रोजन ऑक्साइड एवरेज 12 और मैक्सिमम 15

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना