• Hindi News
  • Local
  • Chandigarh
  • Chandigarh PGI Doctor Said 13 Lakh People Die In The Country Every Year Due To Tobacco Consumption, Fear Of Corona Infection Also

आज वर्ल्ड नो टोबैको डे:चंडीगढ़ PGI डॉक्टर ने कहा- तंबाकू सेवन करने से हर साल देश में 13 लाख लोगों की मौत, कोरोना संक्रमण का भी डर

चंडीगढ़6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
शहर के वैज्ञानिक डॉ. दविंदरपाल सिंह ने अपनी पतंग में तंबाकू सेवन करने वालों को उनके दुष्प्रभावों प्रति जागरूक किया। - Dainik Bhaskar
शहर के वैज्ञानिक डॉ. दविंदरपाल सिंह ने अपनी पतंग में तंबाकू सेवन करने वालों को उनके दुष्प्रभावों प्रति जागरूक किया।
  • शहर के वैज्ञानिक डॉ. सहगल ने पतंग पर तंबाकू सेवन करने से होने वाली बीमारियों को बता लोगों को जागरूक किया

चंडीगढ़ PGI के प्रोफेसर व निदेशक तंबाकू नियंत्रण केंद्र के डॉ. सोनू गोयल की ओर से लोगों को तंबाकू सेवन पर परहेज करने की सलाह दी है। उन्हाेंने कहा कि एक सर्वे के अनुसार तंबाकू सेवन करने वाले करीब 70 लाख लोगों की पूरे विश्व में हर साल मौत होती है जबकि पूरे भारत में करीब 13 लाख लोग मरते हैं।

उन्होंने कहा कि तंबाकू का सेवन करने वाले लोगों की उम्र 10 साल कम हो जाती है और उनकी मौत समय से पहले हो जाती है। नो टोबैको डे पर PGI की ओर से संदेश जारी करते हुए डॉ. गोयल ने कहा कि तंबाकू का सेवन करने वालों को हार्ड अटैक, हाइपरटेंशन, टीवी और कोरोना संक्रमण जैसे गंभीर रोग होने के ज्यादा चांस होते हैं।

PGI के डॉ. सोनू गोयल ने कहा तंबाकू सेवन से हर साल लाखों की संख्या में लोग मरते हैं। फाइल फोटो
PGI के डॉ. सोनू गोयल ने कहा तंबाकू सेवन से हर साल लाखों की संख्या में लोग मरते हैं। फाइल फोटो

डॉ. गोयल के अनुसार एक सर्वे के अनुसार भारत में करीब 28% लोग यानि 26 करोड़ लोग जिनकी उम्र 15 साल से उपर है वे तंबाकू का सेवन करते हैं। इनमें 42% पुरूष और 14% महिलाओं की संख्या है। उन्होंने बताया कि तंबाकू सेवन करने वालों के कारण कई अन्य लोग भी प्रभावित होते है जिनकी संख्या घर में 38% है और बाहर वर्क पैलेस में 30% है। डाॅ. गोयल के अनुसार तंबाकू का सेवन करने वालों की धमनियों, फेफड़ों व शरीर के विभिन्न हिस्सों में विपरीत प्रभाव पड़ता है, जिसके कारण हार्ड अटैक और कई तरह की बीमारियां होती है।

डॉ. गोयल के अनुसार तंबाकू सेवन वालों को इससे दूर करने के लिए तीन लोगों को प्रेरित करें और उन्हें तंबाकू छोड़ने की सलाह दें। इसी तरह उन तीन लोगों को आगे तीन लोगों को तंबाकू छोड़ने के लिए कहा जाए जिससे समाज में तंबाकू से फैलने वाली बीमारियों को रोका जा सके।

डॉ. सहगल ने बनाई पतंग

शहर के साइनटिस्ट डॉ. दविंदरपाल सिंह सहगल की ओर से लोगों का तंबाकू सेवन करने से होने वाले नुकसान के बारे में जागरूक करने के लिए एक पतंग पर इससे होने वाले दुष्प्रभाव को दिखाया गया है। उन्होंने कहा कि उनका मकसद यही होता है कि वे अपनी पतंगों के माध्यम से लोगों को हर बुराई प्रति जागरूक कर सके। डॉ. सहगल पिछले 40 सालों से पतंगों पर विभिन्न प्रकार के संदेश देते आ रहे है। उनकी बनाई गई कई अनोखी पतंगों के कारण उनका नाम लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड में दर्ज है।