पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

वॉटर टैरिफ के खिलाफ युवा कांग्रेस का प्रदर्शन:युवा कांग्रेसियों ने कहा- आज चंडीगढ़ की जनता त्राही-त्राही कर रही है और हमारी सांसद किरण खेर घर बैठे बांसुरी बजा रही हैं

चंडीगढ़6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
करीब 50 कांग्रेस युवा नेताओं ने प्रोटेस्ट किया। पानी के मटके फोड़े। मटके फोड़ने के पीछे का लाॅजिक यही था कि पानी इतना महंगा हो गया है कि मटकियों में भी नहीं भरा जा सकता। इसलिए अब इन्हें फोड़ना ही बेहतर है। 45 मिनट्स तक चले इस प्रदर्शन के बाद पुलिस 12 नेताओं को ट्रक में भरकर पुलिस स्टेशन ले गई और बाद में छोड़ दिया। (फोटो-अश्विनी राणा)
  • अलग-अलग स्लैब्स के तहत 50 से 200 प्रतिशत तक बढ़े वॉटर टैरिफ
  • चंडीगढ़ युवा कांग्रेस के नेताओं ने नगर निगम के बाहर धरना प्रदर्शन किया

अलग-अलग स्लैब्स के तहत 50 से 200 प्रतिशत तक बढ़े वॉटर टैरिफ के विरोध में बुधवार को युवा कांग्रेस के नेताओं ने चंडीगढ़ नगर निगम के बाहर धरना प्रदर्शन किया। बीजेपी के खिलाफ प्रदर्शन करते हुए युवा नेताओं ने सांसद किरण खेर, चंडीगढ़ प्रशासन और नगर निगम को आढ़े हाथों लिया। कार्यकर्ताओं का कहना था कि जब पिछले 9 साल में वॉटर टैरिफ नहीं बढ़ाया गया तो अब क्या जरूरत आ पड़ी। वो भी तब जब शहर कोविड-19 महामारी से जूझ रहा है। लोगों के रोजगार छिन गए हैं और लोगों के पास खाने के लिए दो वक्त की रोटी तक नहीं है। अब उनकी जेबों में जो थोड़ा बहुत बचा है,उसे भी खाली किया जा रहा है। ये शहरवासियों के साथ अन्याय है।

इंडियन यूथ कांग्रेस की नेशनल कोआर्डिनेटर और चंडीगढ़ युवा कांग्रेस की वाइस प्रेसिडेंट प्रीति केसरी ने कटाक्ष करते हुए कहा कि जब रोम जल रहा था तो नीरो बांसुरी बजा रहा था। आज वही हालात चंडीगढ़ के हैं। चंडीगढ़ में कोविड-19 महामारी का प्रकोप प्रतिदिन बढ़ रहा है, लोगों की नौकरियां चली गई हैं और खाने के लिए पैसे नहीं हैं।

इस बीच चंडीगढ़ की जनता पर जानबूझकर टैक्सेस का बोझ डाला जा रहा है। अगर सांसद किरण खेर केंद्र सरकार से फंड लाने में कामयाब हो तो चंडीगढ़ की जनता पर बोझ क्यों डालना पड़ेगा। प्रीति ने आगे कहा कि चंडीगढ़ नगर निगम भ्रष्टाचार का अड्‌डा बन चुका है। इसलिए नगर निगम कर्मचारियों को तनख्वाह तक देने के पैसे निगम के पास नहीं हैं। किरण खेर को चाहिए कि अब भी नींद से जाग जाएं और केंद्र से फंड लें ताकि नगर निगम अपने कर्मचारियों को सैलरी दे सके।

बता दें कि करीब 50 कांग्रेस युवा नेताओं ने प्रोटेस्ट किया। पानी के मटके फोड़े। मटके फोड़ने के पीछे का लाॅजिक यही था कि पानी इतना महंगा हो गया है कि मटकियों में भी नहीं भरा जा सकता। इसलिए अब इन्हें फोड़ना ही बेहतर है। 45 मिनट्स तक चले इस प्रदर्शन के बाद पुलिस 12 नेताओं को ट्रक में भरकर पुलिस स्टेशन ले गई और बाद में छोड़ दिया।

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज घर से संबंधित कार्यों को संपन्न करने में व्यस्तता बनी रहेगी। किसी विशेष व्यक्ति का सानिध्य प्राप्त हुआ। जिससे आपकी विचारधारा में महत्वपूर्ण परिवर्तन होगा। भाइयों के साथ चला आ रहा संपत्ति य...

और पढ़ें