पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

जन्मदिन पर आया सुखद संदेश:चंडीगढ़ के संदेश झिंगन चुने गए एआईएफएफ ‘फुटबॉलर ऑफ द ईयर’

चंडीगढ़15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
संदेश झिंगन - Dainik Bhaskar
संदेश झिंगन
  • स्टार डिफेंडर बुधवार को हो गए 28 साल के, इस अवॉर्ड को अभी तक का सबसे बड़ा गिफ्ट माना...

ऑल इंडिया फुटबॉल फेडरेशन (एआईएफएफ) ने 2020-21 मेन फुटबॉलर ऑफ द ईयर के लिए सिटी सॉकर स्टार संदेश झिंगन के नाम पर मुहर लगाई है। ये मुहर उनके बर्थडे के ही दिन लगी। स्टार डिफेंडर बुधवार को 28 साल के हो गए और उन्होंने इस अवॉर्ड को अभी तक का सबसे बड़ा गिफ्ट माना। ब्लू टाइगर्स के सेंटर बैक संदेश झिंगन को पिछले साल ही अर्जुन अवॉर्ड मिला था और इस बार उन्हें मेन फुटबॉलर ऑफ द ईयर चुना गया।

सेंट स्टीफंस एकेडमी के ट्रेनी रहे संदेश झिंगन ने चंडीगढ़ के लिए काफी फुटबॉल खेला है और वे इस समय नेशनल टीम के डिफेंस की जान हैं। अवॉर्ड मिलने की घोषणा होने के बाद संदेश ने कहा कि जब मुझे इस अवॉर्ड के बारे में पता चला तो ये मेरे लिए सपना सच होने जैसा था। मैं थोड़ा सरप्राइज जरूर था, लेकिन इसके साथ ही बहुत खुश भी था।

ये घोषणा मेरे बर्थडे के दिन हुई और ये मेरा सबसे बड़ा गिफ्ट है। मैं बहुत खुश हूं, खासकर मेरे परिवार, मेरे पेरेंट्स, मेरे पार्टनर और मेरे भाइयों के लिए। संदेश ने कहा कि नेशनल टीम के कोच इगोर स्टीमेक से उन्हें बहुत कुछ सीखने को मिला। कोच ने खास तौर पर झिंगन की ग्रोथ में अहम योगदान दिया।

उन्होंने कहा कि मुझे लगता है कि मैं एक गुड लर्नर हूं और मैं हर किसी से सीखने की कोशिश करता हूं। मैंने कोच इगोर से काफी कुछ सीखा है, मैंने अपनी गेम में कई छोटे-छोटे सुधार किए जिन्होंने मुझे ज्यादा प्रोफेशनल बनाया। कोच इगोर भी अपने समय के एक शानदार डिफेंडर रहे हैं और सबसे बड़े लेवल पर भी खेले हैं। उन्होंने वर्ल्ड कप और प्रीमियर लीग में खेला है, मैं रोजाना उनसे सीखने की कोशिश करता हूं। अगर मुझे सबसे बेहतरीन चीज बतानी हो तो मैं ये कहूंगा कि मैंने क्रॉस पर डिफेंड करना उनके साथ बेहतर किया।

पिछले बर्थडे पर चोटिल था, इस बार अवॉर्डी
झिंगन के लिए पिछला एक साल काफी मुश्किल रहा है, वे चोटिल हो गए थे और उन्होंने काफी मेहनत करने के बाद कमबैक किया। झिंगन ने कहा कि मुझे पिछले साल का बर्थडे याद है। मैं सुबह 3:45 बजे उठा और 4:00 बजे मैंने वर्कआउट शुरू किया। मैं अपने रिहैब पर काम कर रहा था और फील्ड पर वापसी करने को बेताब था। मैंने खुद को मोटिवेट किया और मेरा टारगेट अपने क्लब व देश की टीम से खेलना था। मैंने कई सबक सीखे, चोट तो लगती ही रहती है, आपको आगे बढ़ना है और कमजोर नहीं पड़ना।

अब एशिया कप में खेलना टारगेट...संदेश झिंगन ने वर्ल्ड कप क्वालिफायर और एएफसी एशिया कप जॉइंट क्वालिफायर में अच्छा प्रदर्शन किया। टीम ग्रुप-ई में तीसरे नंबर पर रही और अब टीम राउंड-3 में है। झिंगन ने कहा कि हमारा लक्ष्य चीन में होने वाले एशिया कप में शामिल होना है। हम इस बार इसे और बेहतर बनाना चाहते हैं और एशिया कप में पूरे जोश, दृढ़ संकल्प व उत्साह के साथ खेलेंगे। हमारे पास एशियन क्वालिफायर की कुछ अच्छी यादें हैं।

हम अभी संतुष्ट नहीं हो सकते हैं या किसी भी चीज को हल्के में नहीं ले सकते। हम ड्रॉ को लेकर पॉजिटिव रहेंगे और पिछली बार की तुलना में बेहतर प्रदर्शन करने का लक्ष्य रखेंगे। हम अपने सिर को ऊंचा करके एशियन कप के लिए मजबूती से क्वालिफाई करना चाहते हैं।

खबरें और भी हैं...