• Hindi News
  • Local
  • Chandigarh
  • CHB Cut The Reserve Price By 20 To 50 Percent To Sell Its Commercial Property, People Buying The Property Will Also Get A Chance To See This Time, All The Properties Have Been Fixed For Inspection.

चंडीगढ़ हाउसिंग बोर्ड की नई स्कीम:कॉमर्शियल प्रॉपर्टी के रिजर्व प्राइज में 20 से 50 फीसदी की कटौती, खरीदने वाले लोगों को प्रॉपर्टी देखने का भी मिलेगा मौका; CHB ने तय किया शेड्यूल

चंडीगढ़3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

चंडीगढ़ हाउसिंग बोर्ड (CHB) ने अपनी कॉमर्शियल प्रॉपर्टी को बेचने के लिए रिजर्व प्राइज में सीधे तौर पर 20 से 50 फीसद की कटौती कर दी है। इस बार की सबसे खास बात यह है कि खरीदने वाले लोगों को इस बार प्रॉपर्टी देखने का मौका मिल रहा है और जो लोगों को पसंद आएगी उसके लिए बिड दी जा सकती है। CHB ने सभी प्रॉपर्टी को इंस्पेक्शन के लिए दिन निर्धारित किया है।

फ्री होल्ड रेजिडेंशियल यूनिट को हर शनिवार को सुबह 10 से पांच बजे तक देखा जा सकता है। लीज होल्ड रेजिडेंशियल यूनिट को हर बुधवार और लीज होल्ड कॉमर्शियल यूनिट को हर शुक्रवार मौके पर जा देख सकते हैं। प्रत्येक प्रॉपर्टी पर इंस्पेक्शन के लिए स्टीकर पेस्ट किया गया है ताकि इसकी पहचान हो सके। हर जगह साइट ऑफिस भी इंस्पेक्शन पर बनाए गए हैं।

CHB वेबसाइट पर दी गई मैप लोकेशन
गूगल मैप लोकेशन CHB वेबसाइट पर दी गई है। इस लोकेशन के जरिए प्रॉपर्टी को देखने पहुंचा जा सकता है। यहां सीएचबी के साइट ऑफिस पर स्थित टीम लोगों की मदद भी करेगी। इस नए ई-टेंडर में 15 सितंबर सुबह 10 बजे से ई-बिड जमा होनी शुरू होंगी। आठ अक्तूबर सुबह दस बजे तक यह बिड सब्मिट होगी। इसके बाद बिड 8 अक्तूबर की सुबह सवा 10 बजे ओपन होगी। CHB के अधिकारियों ने बताया कि पहले की तरह ट्रांसपेरेंट तरीके से टेंडर प्रक्रिया संपन्न होगी। अंतिम समय तक जो सबसे अधिक बिड सब्मिट करेगा उसे फाइनल माना जाएगा। आखिरी वक्त तक बिड को कभी भी कम या ज्यादा किया जा सकेगा।

कैसे करें रजिस्ट्रेशन
इच्छुक प्रतिभागी सीएचबी की वेबसाइट www.chbonline.in पर विजिट कर विस्तृत प्रक्रिया जान सकता है। नियम शर्तें और प्रापर्टी की सभी जानकारी सूची यहां दी गई है। बिड सब्मिट करने के लिए https://etenders.chd.nic.in पर रजिस्टर्ड कराना होगा। ई-मेल आईडी, मोबाइल नंबर और डिजिटल सिग्नेचर बेसिक जरूरत रजिस्ट्रेशन के लिए रहेगी। 18 वर्ष से ऊपर कोई भी इसमें हिस्सा ले सकता है। फिर चाहे वह एनआरआई, पीआईओ हो।

खबरें और भी हैं...