• Hindi News
  • Local
  • Chandigarh
  • CM Channi Called The Chief Secretary To Review The Action On The Announcements; Bhagwant Mann And Sukhbir Raised Questions

'ऐलान मंत्री' कहे जाने पर CM चन्नी का एक्शन:चीफ सेक्रेटरी को बुलाकर घोषणाओं पर कार्रवाई का रिव्यू किया; भगवंत मान और सुखबीर ने उठाए थे सवाल

चंडीगढ़7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
चीफ सेक्रेटरी और अन्य अफसरों से फैसलों को रिव्यू करने के लिए मीटिंग करते CM चन्नी। - Dainik Bhaskar
चीफ सेक्रेटरी और अन्य अफसरों से फैसलों को रिव्यू करने के लिए मीटिंग करते CM चन्नी।

पंजाब में चुनाव के नजदीक ताबड़तोड़ घोषणाएं कर रहे CM चरणजीत चन्नी अब इन्हें लागू करवाने में जुट गए हैं। रविवार रात को उन्होंने चीफ सेक्रेटरी अनिरुद्ध तिवारी समेत बड़े अफसरों को तलब किया। जिनके बाद घोषणाओं पर हुई कार्रवाई का रिव्यू किया।

इससे पहले आम आदमी पार्टी (AAP) के पंजाब प्रधान भगवंत मान ने सीएम चन्नी को मुख्यमंत्री नहीं बल्कि 'ऐलान मंत्री' कह दिया था। वहीं, शिरोमणि अकाली दल (SAD) प्रधान सुखबीर बादल ने भी कहा था कि सीएम सिर्फ घोषणा कर रहे हैं, वह लागू नहीं हो रही।

बड़े फैसले, जिनकी चर्चा रही
चरणजीत चन्नी ने CM बनते ही पहले 2 किलोवाट तक के बिजली बिल बकाया माफ किए। फिर बिजली 3 रुपए सस्ती करने की घोषणा कर दी। इसके बाद रेत साढ़े 5 रुपए क्यूबिक फुट करने का ऐलान किया। इनके अलावा भी पंजाब में जगह-जगह करोड़ों के विकास कार्यों की घोषणा की। हालांकि विपक्षी दलों ने घेर लिया कि इनका नोटिफिकेशन नहीं हो रहा। बिजली सस्ती करने का नोटिफिकेशन भी बाद में जारी हुआ। सस्ती रेत के नोटिफिकेशन को लेकर भी सीएम चन्नी घिरे रहे।

AAP के पंजाब प्रधान सांसद भगवंत मान
AAP के पंजाब प्रधान सांसद भगवंत मान

भगवंत मान ने कहा था- पंजाब में 'ऐलान मंत्री' घूम रहा
कॉमेडियन से नेता बने AAP के सांसद भगवंत मान ने एक समागम में कहा कि पिछले 2-3 महीने से पंजाब में 'ऐलान मंत्री' घूम रहे हैं। जो बिना किसी नीति या मकसद के घोषणा करते रहते हैं। ऐलान तो 87 कर दिए लेकिन लागू 7 भी नहीं हुए, जिसके बाद विपक्षी दलों ने इसे मुद्दा बनाना शुरू कर दिया था।

नवजोत सिद्धू प्रेस कान्फ्रेंस में अपनी ही सरकार को घेर देते हैं
नवजोत सिद्धू प्रेस कान्फ्रेंस में अपनी ही सरकार को घेर देते हैं

सिद्धू भी घोषणाओं को लॉलीपॉप कह चुके हैं
सीएम चरणजीत चन्नी की चुनौती सिर्फ विपक्षी नहीं बल्कि अपनी पार्टी के प्रधान नवजोत सिद्धू भी हैं। वह सीएम चन्नी की घोषणाओं को कई बार लॉलीपॉप करार दे चुके हैं। अगर यह लागू नहीं की गई तो सिद्धू कभी भी इन घोषणाओं का पोस्टमार्टम करने बैठ सकते हैं। इसके संकेत भी वह कई बार दे चुके हैं।

खबरें और भी हैं...