• Hindi News
  • Local
  • Chandigarh
  • CM Stresses On The Need To Be Prepared For Second Wave Of Covid In Punjab; 107 New Health Centers Started To Strengthen Health Infrastructure.

पंजाब में कोविड की दूसरी लहर का खतरा:सीएम ने कोरोना से लड़ने के लिए 107 नए स्वास्थ्य केन्द्रों का आगाज किया

चंडीगढ़2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
शनिवार को सीएम ने डॉक्टरों से कोविड 19 और राज्य में हेल्थ व वैलनेस क्लीनिक्स के विकास पर पंजाब सिविल सेक्रेटेरिएट  में बात की।  - Dainik Bhaskar
शनिवार को सीएम ने डॉक्टरों से कोविड 19 और राज्य में हेल्थ व वैलनेस क्लीनिक्स के विकास पर पंजाब सिविल सेक्रेटेरिएट  में बात की। 
  • कोविड के बढ़ते मामलों से निपटने के लिए दिल्ली को सहायता की पेशकश
  • कोविड के खिलाफ लोगों को भागीदार बनने के लिए अपील
  • मिशन फतेह के संकल्प के तौर पर ‘मास्क ही दवा है’ का ऐलान

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने राज्य में कोविड की दूसरी लहर के लिए तैयार करने की जरूरत पर जोर दिया है। इसके साथ ही राज्य में स्वास्थ्य ढांचे को और मजबूत करने के लिए 107 नए स्वास्थ्य केंद्रों का आगाज किया है। शनिवार को सीएम ने डॉक्टरों से कोविड-19 और राज्य में हेल्थ व वैलनेस क्लीनिक्स के विकास पर पंजाब सिविल सेक्रेटेरिएट में बात की।

इस दौरान सीएम ने राज्य में महामारी की रोकथाम में बेमिसाल काम कर रहे पंजाब के कोविड वॉरियर्स की सराहना की। पंजाब में कोविड की दूसरी लहर से निपटने के लिए पंजाब सरकार द्वारा हर संभव कदम उठाने का भरोसा देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा,‘‘दिल्ली सख़्त लड़ाई लड़ रही है और ज़रूरत पडऩे पर हम हर सहायता के लिए तत्पर हैं। मैं यह पहले कह चुका हूं’’।

मुख्यमंत्री ने कहा कि इस कठिन समय में सभी की सहायता करना राज्य सरकार की जिम्मेदारी है। लेकिन आम लोगों की भी यह जिम्मेदारी बनती है कि वह इस महामारी के खिलाफ राज्य सरकार का साथ देते हुए सभी सुरक्षा नियमों की पालन करें। उन्होंने आगामी उन महीनों तक जब तक कोविड की दवा नहीं आ जाती,‘मास्क ही दवा है’ को मिशन फतेह के संकल्प के तौर पर घोषित किया।

राज्य में स्वास्थ्य ढांचे की मज़बूती और राज्य के ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों में मरीजों के घरों तक स्वास्थ्य सेवाओं की पहुंच करवाने के लिए 107 तंदुरूस्त पंजाब स्वास्थ्य केन्द्रों का डिजीटल आगाज किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार स्वास्थ्य सुविधाओं की मज़बूती पर ध्यान केंद्रित कर रही है, ख़ासकर दूसरे और तीसरे दर्जे की सुविधाओं पर, जिसका उद्देश्य बिना देरी टेस्टिंग और इलाज के साथ कीमती जानें बचाना है। लोगों को भीड़-भाड़ वाले स्थानों पर न जाने, घरों के अंदर रहने, बड़े जलसे और सामाजिक समागम न करने के लिए अपील करते हुए मुख्यमंत्री द्वारा पूरी सावधानियां खासकर बार-बार हाथ साफ़ करने और मास्क पहनने के लिए ज़ोर दिया गया।