हुड्‌डा की सभा में मुलाना की हूटिंग:पूर्व सीएम बोले- जींद में रैली करेंगे; तारीख का ऐलान जल्द, किसान ने की हुड्‌डा से कांग्रेस नेता की शिकायत

चंडीगढ़6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जींद में मंच पर कांग्रेसी नेताओं के साथ भूपेंद्र सिंह हुड्‌डा - Dainik Bhaskar
जींद में मंच पर कांग्रेसी नेताओं के साथ भूपेंद्र सिंह हुड्‌डा

हरियाणा के पूर्व सीएम और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने जींद में बड़ी रैली करने का ऐलान किया है। रैली की डेट जल्द ही तय होगी। जींद में 'विपक्ष आपके समक्ष' कार्यक्रम के बाद उत्तम पैलेज में पहुंचे हुड्डा ने कहा कि वातावरण बदलने के लिए शीघ्र ही बांगर की धरती पर रैली की जाएगी। हुड्‌डा के कार्यक्रम से कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष कुमारी शैलजा और रणदीप सुरजेवाला समर्थकों ने पूरी तरह दूरी बनाए रखी।

इससे पहले 'विपक्ष आपके समक्ष' कार्यक्रम में राज्यसभा सांसद दीपेंद्र सिंह हुड्डा के बाद जब पूर्व प्रदेशाध्यक्ष फूलचंद मुलाना लोगों को संबोधित करने के लिए उठे। लोगों ने शौरगुल शुरू कर दिया। लोग उठकर जाने लगे तो मुलाना ने भाषण चंद मिनट में ही समाप्त कर दिया। उनके बाद भूपेंद्र सिंह हुड्डा उठे तो लोग शांत हुए। हरियाणा की भाजपा-जजपा सरकार पर हमला बोलते हुए हुड्‌डा ने कहा कि दोनों दलों ने अलग-अलग चुनाव लड़ा। भाजपा ने 75 पार का नारा दिया तो जजपा ने भाजपा यमुना पार का, पर अब दोनों बन गए यार।

विपक्ष आपके समक्ष के तहत आयोजित रैली को संबोधित करते पूर्व CM हुड्‌डा।
विपक्ष आपके समक्ष के तहत आयोजित रैली को संबोधित करते पूर्व CM हुड्‌डा।

जब सकपका गए कांग्रेस नेता

विपक्ष आपके समक्ष कार्यक्रम के दौरान भूपेंद्र हुड्डा ने जन समस्याएं सुनीं। इस बीच अधिंकांश समस्याएं बिजली, पानी, खाद से संबंधित रही। एक ऐसी भी समस्या आयी, जब एक किसान ने कहा कि आपके साथ बैठे कांग्रेस नेता प्रमोद सहवाग से समस्या है। इन्होंने मनोहरपुर से बरसाना रोड पर हैचरी लगाई हुई है जिसमें रखे जाने वाले मुर्गों के पंख किसान के खेत में आते हैं। सहवाग के पोल्ट्री फार्म की वजह से आसपास का वातावरण बदबूदार है। किसान खेती तक नहीं कर पाते। उसकी खेती में मुर्गों के पंख के कारण काफी नुकसान हो रहा है।

किसान की बात सुनकर हुड्‌डा के साथ बैठे प्रमोद सहवाग सकपका गए। भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने किसी तरह बात को संभाला। बता दें कि प्रमोद सहवाग जींद विधानसभा से चुनाव लड़ चुके हैं। मुर्गों के पंखों का मामला थाने में भी जा चुका है। कई बार पंचायतें भी हो चुकी है, मगर कोई हाल नहीं निकला है।

हुड्डा ने कहा 180 में से केवल 22 एसडीओ

हुड्‌डा ने कहा कि सरकार कह रही है कि हरियाणावियों को 75 प्रतिशत नौकरी प्राइवेट फैक्ट्री में देंगे। सरकार ने बिजली बोर्ड में 180 एसडीओ भर्ती किए। जिसमें 22 हरियाणा के थे। एक बार 80 किए, दो केवल दो हरियाणा के भर्ती किए। हुड्‌डा ने कहा कि ये कैसी सरकार बन गई। भाजपा कह रही थी अबकी बार 75 पार। जजपा कह रही थी भाजपा युमना पार। अब ये दोनों बन गए यार। दोनों को लोगों से जो वायदे किए थे वो निभाने चाहिए।

कांग्रेस के विपक्ष आपके समक्ष कार्यक्रम में पहुंचे लोग।
कांग्रेस के विपक्ष आपके समक्ष कार्यक्रम में पहुंचे लोग।

जिए तो जिए कैसे जिए

पूर्व सीएम ने कहा कि मेरे एक दोस्त ने चार लाइनें लिखी है जो आपको सुना रहा हूं जिए तो कैसे जिए... खेती का खाद महंगा, खाने का तेल महंगा, चूल्हे की आग महंगी, सरिया और सीमेंट महंगी जीवन की सांस महंगी, नारियल और ककड़ी महंगी श्मशान की लड़की महंगी, जिए तो कैसे जिए...

हुड्डा ने कहा कि जींद का आशीर्वाद होगा तो वह किसी के रोकने से नहीं रुकेंगे। विधानसभा में लोगों की समस्याओं को उठाना है। पूरे हरियाणा में संघर्ष करेंगे। इस दौरान उनके साथ मंच पर कांग्रेस विधायक गीता भुक्कल, राज्यसभा सांसद दीपेंद्र हुड्‌डा, पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष फूलचंद मुलाना, शंकुलता खटक भी उपस्थित थी। प्रदेश में कांग्रेस के 31 विधायक हैं और इनमें से 23 एमएलए हुड्‌डा के साथ कार्यक्रम में नजर आए।

जींद की धरती को मानते हैं शुभ

हरियाणा में जींद की धरती को राजनीति के लिए शुभ माना जाता है। इनेलो चौधरी देवीलाल की जयंती जींद में ही मनाती है। खुद पूर्व सीएम ओपी चौटाला भी जींद के नरवाना और उचाना से चुनाव लड़ते रहे हैं। ऐसे में हरियाणा के नेता अपनी राजनीति की शुरुआत बांगड की धरती से करते हैं।

खबरें और भी हैं...