• Hindi News
  • Local
  • Chandigarh
  • Corona Positive Including Wife And Maid Returned From South Africa; Samples Sent For Investigation Of New Variants From Genome Sequencing

चंडीगढ़ में ओेमिक्रॉन का 'खतरा':साउथ अफ्रीका से लौटा व्यक्ति पत्नी औैर मेड समेत कोरोना पॉजिटिव; जीनोम सीक्वेंसिंग से वैरिएंट का पता चलेगा

चंडीगढ़7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कोविड के बढ़ते खतरे को देख चंडीगढ़ में टेस्टिंग बढ़ाने के आदेश दे दिए गए हैं। (फाइल फोटो) - Dainik Bhaskar
कोविड के बढ़ते खतरे को देख चंडीगढ़ में टेस्टिंग बढ़ाने के आदेश दे दिए गए हैं। (फाइल फोटो)

चंडीगढ़ में भी कोविड के ओमिक्रॉन वैरिएंट का खतरा बढ़ गया है। साउथ अफ्रीका से लौटा एक व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव हो गया। उसके साथ पत्नी और मेड की रिपोर्ट भी पॉजिटिव निकली। हालांकि अभी यह पुष्टि नहीं हुई है कि उनमें साउथ अफ्रीका के ओमिक्रॉन वैरिएंट है या नहीं। यह ओमिक्रॉन है या डेल्टा वैरिएंट, इसके लिए चंडीगढ़ सेहत विभाग जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए सैंपल दिल्ली भेज रहा है।

फिलहाल दंपती और उनकी मेड को एहतियातन घर से सेक्टर 32 स्थित GMCH शिफ्ट कर दिया गया है। जहां उन्हें दूसरे कोरोना मरीजों से अलग आइसोलेट किया गया है। परिवार के 2 मेंबरों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। कुछ सदस्यों की रिपोर्ट का इंतजार है।

इंडिया आने पर निगेटिव थी रिपोर्ट
चंडीगढ़ के सेक्टर 36 के रहने वाले 39 वर्षीय व्यक्ति 21 नवंबर को साउथ अफ्रीका से लौटे थे। दिल्ली एयरपोर्ट पर उनका RT-PCR टेस्ट हुआ था। इसमें रिपोर्ट निगेटिव आने पर चंडीगढ़ भेज दिया गया। यहां उन्हें 7 दिन के लिए होम क्वारैंटाइन किया गया था। 8वें दिन उनका फिर RT-PCR टेस्ट किया गया तो वह पॉजिटिव आ गया।

इसका पता चलते ही उन्हें GMCH में शिफ्ट कर दिया गया। इसके बाद परिवार के टेस्ट भी लिए गए तो पत्नी और मेड पॉजिटिव मिले। उन्हें भी इंस्टीट्यूशनल क्वारैंटाइन के लिए अस्पताल भेजा गया है।

सेक्टर 32 स्थित मेडिकल कॉलेज, जहां मरीज को शिफ्ट किया गया है।
सेक्टर 32 स्थित मेडिकल कॉलेज, जहां मरीज को शिफ्ट किया गया है।

परिवार में पहले से थे कोरोना जैसे लक्षण
सेहत विभाग की शुरूआती जांच में यह भी सामने आया है कि यह पुरुष भले ही साउथ अफ्रीका से आया हो, लेकिन उनके परिवार में पहले से ही कोरोना जैसे लक्षण थे। यह संभव है कि उक्त व्यक्ति चंडीगढ़ पहुंचने के बाद पॉजिटिव हुआ हो। इंडिया आने से पहले साउथ अफ्रीका में 2 बार और दिल्ली एयरपोर्ट पर एक बार उनका टेस्ट निगेटिव आया था।

अब कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग की टेंशन
सेहत विभाग के पास अब कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग की टेंशन हो गई है। कोरोना पॉजिटिव पुरुष इन 7 दिनों में किसी से नहीं मिला, लेकिन परिवार के सदस्यों की मुलाकात दूसरे लोगों से हो सकती है। इसलिए उनकी कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग की जा रही है। इसके अलावा फ्लाइट में साथी पैसेंजर्स की जानकारी लेकर भी उनकी पहचान की जा रही है।

केस के बाद अलर्ट हुआ सेहत विभाग
इस केस के सामने आने के बाद चंडीगढ़ के हेल्थ सेक्रेटरी यशपाल गर्ग ने रिव्यू मीटिंग की। जिसमें फैसला हुआ कि GMSH-16, सेक्टर 22, 45, मनीमाजरा स्थित सब डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल और GMCH 32 की ओपीडी में कोविड टेस्ट होंगे। एडमिशन के वक्त रैपिड एंटीजन टेस्ट या RT-PCR होगा। वहीं, OPD में सभी मरीजों का रैपिड टेस्ट होगा।

लक्षण वाले मरीजों का RT-PCR टेस्ट होगा। वहीं, बिना लक्षण वालों का रैपिड टेस्ट होगा। जिसमें डॉक्टर चाहें तो उनका RT-PCR टेस्ट करवा सकते हैं। हेल्थ और वेलनेस सेंटर में भी ओपीडी मरीजों की कोविड टेस्टिंग के प्रबंध किए जाएंगे। PGI में भी ओपीडी और भर्ती होने वाले मरीजों के कोविड टेस्ट बढ़ाने के लिए कहा गया है।

खबरें और भी हैं...