पंजाब में ओमिक्रॉन का खतरा:ढाई गुना बढ़ी कोविड टेस्टिंग; संदिग्ध मरीजों के लिए अलग वार्ड; शादी सीजन में NRIs के आने से चिंता

चंडीगढ़2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

पंजाब में कोविड के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन के खतरे पर सरकार ने हाईअलर्ट कर दिया है। राज्य सरकार ने कोविड की टेस्टिंग को ढाई गुना बढ़ा दिया है। पहले पंजाब में नियमित तौर पर डेली 16 से 17 हजार टेस्ट हो रहे थे। इन्हें अब बढ़ाकर 40 हजार किया जा रहा है।

वहीं, ओमिक्रॉन वैरिएंट से पीड़ित संदिग्ध मरीजों के लिए अलग वार्ड बनाए जाएंगे। पंजाब में चिंता इसलिए ज्यादा है क्योंकि शादी सीजन के कारण बड़ी संख्या में NRI यहां आए हुए हैं।

सेहत मंत्रालय देख रहे डिप्टी CM ओपी सोनी ने कहा कि कोविड की तीसरी संभावित लहर से निपटने के लिए हम पूरी तैयारी कर रहे हैं। जरूरी दवाओं और इक्विपमेंट्स की खरीद की जा रही है।

साउथ अफ्रीका समेत इन 11 देशों पर नजर

ओमिक्रॉन वैरिएंट की एंट्री रोकने के लिए पंजाब में साउथ अफ्रीका समेत 11 देशों से आने वाले यात्रियों की मॉनीटरिंग की जा रही है। इनमें ब्राजील, बांग्लादेश, बोत्सवाना, चीन, मॉरीशश, न्यूजीलैंड, जिंबाब्वे, सिंगापुर, हॉन्गकांग और इजराइल शामिल हैं। जहां इस वैरिएंट के कन्फर्म या संदिग्ध केस मिले हैं।

संदिग्ध या कन्फर्म केस वाले देशों के यात्रियों की मॉनिटरिंग की जाएगी
संदिग्ध या कन्फर्म केस वाले देशों के यात्रियों की मॉनिटरिंग की जाएगी

पंजाब ने यह बनाया नियम

पंजाब केंद्रीय सेहत मंत्रालय की गाइडलाइंस पर ही चल रहा है। जो भी यात्री विदेश से आएगा, उन्हें 7 दिन के कंपलसरी इंस्टीट्यूशनल क्वारैंटाइन में रहना होगा। चाहे उनका कोविड टेस्ट निगेटिव ही क्यों न हो। 8वें दिन फिर कोविड टेस्ट होगा। अगर फिर भी निगेटिव आएगा तो घर भेज दिया जाएगा लेकिन घर पर 7 दिन आइसोलेट रहना होगा।

पंजाब में NRIs से चिंता इसलिए.. पूरी गैदरिंग, मास्क पर सख्ती नहीं

दुनिया के बहुत से देशों में पंजाबी बसे हुए हैं। येअक्सर अपने गांव आते-जाते रहते हैं। इन दिनों शादियों का सीजन चल रहा है। ऐसे में कई NRIs पंजाब आए हुए हैं। वह सिर्फ शादी समारोह ही नहीं बल्कि लोगों से भी मुलाकात कर रहे हैं। इस दौरान पंजाब में पूरी गैदरिंग हो रही हैं। कहीं भी अब मास्क को लेकर सख्ती नहीं है। ऐसे में अगर किसी को कोविड हुआ तो हालात बिगड़ सकते हैं। हालांकि उनकी कोविड जांच की गई लेकिन ओमिक्रॉन के बाद बढ़ी सख्ती नहीं थी।