चंडीगढ़ MC के गोदाम में मिला लारवा:मलेरिया विभाग की चेतावनी के बावजूद नहीं कराई सफाई, टायरों-बाल्टियों में भरा था पानी

चंडीगढ़4 महीने पहले
चंडीगढ़ नगर निगम की MOH की कूड़ की नई बाल्टियों में लारवा मिलने के बाद इसमें छिड़काव करते मलेरिया विभाग के कर्मी।

चंडीगढ़ नगर निगम के MOH विभाग के इंडस्ट्रियल एरिया, फेज-1 स्थित गोदाम में कूड़ा उठाने वाली गाड़ियों में लारवा मिला है। चंडीगढ़ प्रशासन के हेल्थ विभाग के मलेरिया विभाग ने आज गोदाम में कूड़े की बाल्टियों, पुराने टायरों आदि में भरे गंदे और पुराने पानी को निकाला।

विभाग के इंस्पेक्टर कुलदीप सिंह का कहना है कि उनकी टीमें लगातार ऐसी जगहों पर चैंकिंग अभियान चला रही हैं और चालान भी जारी कर रही हैं। बता दें कि डेंगू को लेकर चंडीगढ़ प्रशासन एडवाइजरी भी जारी कर चुका है। इसके बावजूद निगम का स्वास्थ्य विभाग ही लापरवाही बरत रहा है।

इंस्पेक्टर कुलदीप सिंह ने बताया कि उनके अंतर्गत कबाड़ी बाजार, संजय लेबर कॉलोनी, इंडस्ट्रियल एरिया की फैक्ट्रियां, प्लॉट आदि का एरिया है। यहां पर लगातार चैकिंग की जा रही है। वहीं चंडीगढ़ के बाकी क्षेत्रों में भी टीमें कार्रवाई कर रही हैं।

कहने के बावजूद नहीं की कार्रवाई

इंस्पेक्टर कुलदीप ने कहा कि निगम के MOH विभाग को पहले भी कूड़े की बाल्टियों में खड़े पानी की निकासी और सफाई बरतने को लेकर कहा गया था। इसके बावजूद कोई कार्रवाई नहीं की गई। मलेरिया विभाग को लगभग 2 घंटे गोदाम की सफाई करने में लगे। कूड़े के नए प्लास्टिक डिब्बों में यह लारवा मिला।

उन्होंने बताया कि सभी बाल्टियों को खाली करवाया गया है। अभी तक उनके एरिया में एक ही डेंगू का केस आया है। महीना पहले विभाग को चेतावनी जारी की गई थी और आज विभाग ने MOH को नोटिस जारी किया है। बताया गया कि यहां पर 20 से 25 कंटेनर और 10 से 12 टायरों में लारवा पाया गया है।

कुलदीप सिंह के मुताबिक, वह MOH के अधिकारियों को कई बार कह चुके हैं। कूड़ा उठाने वाले डिब्बों को उलटा कर रखने के लिए कहा जा चुका है। वहीं शेड के नीचे रखे पुराने टायर और डिब्बे उठाने को भी कहा गया है। इसके बावजूद कोई उचित कदम नहीं उठाया गया और अब यहां लारवा पनप गया है।

खबरें और भी हैं...