पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

जल्द मिलेगी कोविड के मरीजों को सुविधा:डीआरडीओ सेक्टर-38बी में तैयार करेगा 20 बेडेड कोविड केयर सेंटर; प्रशासन की ओर से दी गई मंजूरी

चंडीगढ़एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सेक्टर-43 के स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स में 50 बेडेड कोविड केयर सेंटर शुरू किया जा रहा है। इसका काम शुरू कर दिया गया है। इसमें 40 बेड ऑक्सीजन की सुविधा वाले होंगे। - Dainik Bhaskar
सेक्टर-43 के स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स में 50 बेडेड कोविड केयर सेंटर शुरू किया जा रहा है। इसका काम शुरू कर दिया गया है। इसमें 40 बेड ऑक्सीजन की सुविधा वाले होंगे।
  • सेंटर में 80 प्रतिशत बेड में ऑक्सीजन की सुविधा उपलब्ध करवाने के निर्देश
  • 7 कोविड केयर सेंटरों में 350 बेड, इनमें से 280 में ऑक्सीजन की सुविधा
  • स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स में 50 बेडेड कोविड सेंटर का काम शुरू

सेक्टर-38बी में डिफेंस रिसर्च एंड डेवलपमेंट ऑर्गेेनाइजेशन (डीआरडीओ) की तरफ से 20 बेड का मिनी कोविड केयर सेंटर शुरू किया जाएगा। इसको लेकर प्रशासन की तरफ से डीआरडीओ को मंजूरी दे दी गई है। इसमें से 80 फीसदी बेड ऑक्सीजन फैसेलिटी के लिए साथ शुरू करने के लिए कहा गया है। .

हालांकि, ऑक्सीजन सिलेंडर्स रीफिल करने का इंतजाम खुद डीआरडीओ को ही करना होगा। शहर में मेडिकल ऑक्सीजन की शाॅर्टेज हो रही है जिसके चलते अब मिनी कोविड केयर सेंटरों को कहा गया है कि वे जो भी ऑक्सीजन बेड लगा रहे हैं उसके लिए खुद ही ऑक्सीजन का इंतजाम करना होगा।

निर्देश- जिन्हें ऑक्सीजन की जरूरत नहीं, उनको ही दाखिल करें

ऑक्सीजन की कमी बढ़ती जा रही है। इसलिए अब मिनी कोविड केयर सेंटर संचालकों को प्रशासन ने कहा है कि जब तक वे ऑक्सीजन का अरेंजमेंट्स नहीं कर लेते हैं तब तक सिर्फ उन मरीजों की देखभाल करें जिनको आॅक्सीजन की जरूरत नहीं है। शुक्रवार को 50 बेड के एक कोविड केयर सेंटर में ऑक्सीजन की कमी हो गई थी।

इमरजेंसी को देखते हुए इस सेंटर की फिलहाल जरूरत पूरी करने को लेकर कहा गया लेकिन साथ ही सेंटर संचालकों को कहा गया है कि वे फिलहाल उन्हीं मरीजों को यहां पर देखें जिनको ऑक्सीजन की रिक्वायरमेंट नहीं पड़ती। चंडीगढ़ को अभी 20 मीट्रिक टन ऑक्सीजन का ही कोटा केंद्र सरकार की तरफ से दिया गया है। लेकिन ये कोटा सिर्फ गवर्नमेंट और प्राइवेट हाॅस्पिटल में जरूरत को देखते हुए तय किया किया गया था।

करीब 7 मिनी कोविड केयर सेंटर चंडीगढ़ में शुरू करने को लेकर मंजूरी दी जा चुकी है, इनमें करीब 350 बेड हैं और इनमें से करीब 280 बेड ऑक्सीजन फैसेलिटी वाले हैं। इसके चलते जो कोटा चंडीगढ़ प्रशासन को ऑक्सीजन का मिल रहा है वह अब पूरा नहीं हो पा रहा है और उससे इन मिनी कोविड केयर सेंटरों को ऑक्सीजन नहीं मिल पा रही है। इसलिए इन्हें अपने आप ही ऑक्सीजन की अरेंजमेंट करनी होगी।

खबरें और भी हैं...