पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Chandigarh
  • During The Last 24 Hours Only 48 Infected Patients Were Reported In Chandigarh, Two Died, Many Restrictions Are Being Removed From Today

कोरोना संक्रमण का घटता प्रभाव:चंडीगढ़ में पिछले 24 घंटों के दौरान केवल 48 संक्रमित मरीज सामने आए,दो की मौत, आज से कई पाबंदियां हटाई जा रहीं

चंडीगढ़4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
शहर में संक्रमण के मामले कम आ रहे हैं। प्रशासन की ओर से अब शहर को अनलॉक करने को लेकर कई पाबंदियां हटाई जा रही हैं। डेमो फोटो - Dainik Bhaskar
शहर में संक्रमण के मामले कम आ रहे हैं। प्रशासन की ओर से अब शहर को अनलॉक करने को लेकर कई पाबंदियां हटाई जा रही हैं। डेमो फोटो
  • शहर में आज से सुबह 9 से शाम 4 बजे तक सभी दुकानों को खोलने की परमिशन मिली
  • इस महीने 18+ के लिए 50 हजार वैक्सीन डोज मिलेगी

शहर में कोरोना संक्रमण के मामलों में लगातार कमी आने के कारण अब प्रशासन ने लोगों को कई तरह की पाबंदियों से निजात दे दी है। प्रशासन की ओर से अब धीरे-धीरे शहर को अनलॉक किया जाने लगा है। शहर में अब सुबह 9 बजे से शाम 4 बजे तक सभी दुकानों को खोलने की परमिशन है। अभी शाम 6 बजे से सुबह 5 बजे तक कोरोना कर्फ्यू लागू रखा गया है।

शहर में बार्बर शाॅप्स खोल दी गई हैं। इसी तरह होटल्स, रेस्टोरेंट्स और ईटिंग प्वाइंट्स में किचन खोलने की परमिशन दी गई है, जहां से रात 10 बजे तक होम डिलीवरी की जा सकती है। स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स खोल दिए गए हैं, जहां पर प्लेयर्स आकर प्रैक्टिस करने लगे है। फिलहाल जिम, स्पा, मसाज सेंटर को खोलने की इजाजत नहीं दी गई है।

शहर में पिछले 24 घंटों में आए 48 नए मामले, 2 की मौत

शहर में कोरोना संक्रमण के मरीजों की संख्या रोज कम हो रही है। पिछले 24 घंटों के दौरान संक्रमण के करीब 48 मरीज मिले हैं, जबकि दो मरीजाें की मौत हुई है। शहर में अब संक्रमण के एक्टिव मरीजों की संख्या 740 रह गई है। आज तक शहर में 60 हजार 707 पॉजिटिव मरीज मिले हैं, जिनमें से 59 हजार 193 मरीज ठीक हो गए है। शहर में आज तक 774 संक्रमित मरीजों की मौत हो चुकी है। स्वास्थ्य विभाग की टीमें अभी भी शहर के विभिन्न स्थानों पर जाकर संदिग्ध मरीजों की जांच कर रही है, ताकि ज्यादा से ज्यादा संक्रमित मरीजों की पहचान कर उनका इलाज किया जा सके।

18 से 44 साल के लोगों के लिए आ रही वैक्सीन

शहर के अधिकतर सेक्टरों में स्लम में रहने वाली मेड काम करती हैं। यह मेड इस आशंका से वैक्सीन नहीं लगवा रही हैं कि वैक्सीन लगवाने से बीमार हाे जाते हैं। हेल्थ डिपार्टमेंट का कहना है कि 45साल से ज्यादा उम्र के लोगों के लिए वाॅक इन वैक्सीनेशन था। ऐसे में 45 साल से ज्यादा उम्र के लगभग 3 लाख आबादी में से स्लम में रहने वाले 20 से 25 फीसदी के आसपास लाेगाें ने वैक्सीन लगवा ली है। डिपार्टमेंट का यह भी मानना है कि 18 से 44 साल के उम्र के लोगों काे स्लाॅट बुक कराना पड़ता है, यहां बहुत से ऐसे लाेग जिन्हें स्लाॅट बुक कराना नहीं आता। ऐसे में उनकी सुविधा के लिए हेल्थ डिपार्टमेंट की ANM की ड्यूटी लगाई जा रही है कि वह स्लम में घर-घर जाकर सर्वे करें कि 45 साल से ज्यादा एज ग्रुप के लाेगाें ने वैक्सीन लगवाई है या नहीं। डायरेक्टर हेल्थ सर्विसेज डाॅ. अमनदीप कंग ने बताया कि 18 से 44 साल के लोगों के लिए डिपार्टमेंट के पास 27 हजार वैक्सीन की डाेज आ रही है। इसके बाद जून के महीने में 24 हजार वैक्सीन और आएंगी। कुल मिलाकर जून में 50 हजार डाेज आएंगी।

अभी तक शहर में 3 लाख 82 हजार से ज्यादा ने वैक्सीन लगवाई

शहर में स्वास्थ्य विभाग की ओर से लोगों को कोरोना संक्रमण से बचाने के लिए रोज वैक्सीन की डोज शहर के विभिन्न स्थानों पर लगाई जा रही है। शहर में अभी तक 3 लाख 82 हजार 598 विभिन्न एज ग्रूप के लोगों को वैक्सीन की डोज लग गई है। 24 हजार 826 हेल्थ केयर वर्कर्स ने पहली डोज और 14 हजार 442 ने दूसरी डोज लगवा ली है। फ्रंट लाइन वर्कर्स में 22 हजार 724 ने पहली डोज और 14 हजार 227 ने दूसरी डोज ले ली है। 18 से 44 साल के लोगों ने पहली डोज 73 हजार 83 और दूसरी डोज 8 लोगों ने लगवा ली है। 45 साल से 60 साल के लोगों में पहली डोज एक लाख 9 हजार 938 ने और 13 हजार 213 ने दूसरी डोज ले ली है। 60 साल से ज्यादा उम्र के 76 हजार 807 लोगों ने पहली डोज और 33 हजार 350 लोगों ने दूसरी डोज ले ली है।