पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मतदान:पवन बंसल ने कहा -बिहार समेत देशभर में चुनाव हो सकते हैं तो पीयू सीनेट के क्यों नहीं

चंडीगढ़एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • सीनेट के इलेक्शन टालने पर पूर्व रेल मंत्री ने सोशल मीडिया पर कहा...
  • पीयू ने 15 अगस्त को लेटर जारी कर टाले थे चुनाव, 31 अक्टूबर को पूरा होगा सीनेट का कार्यकाल

पंजाब यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर के इशारे पर काम करने का आरोप पूर्व रेल मंत्री पवन बंसल ने सोशल मीडिया पर लगाया है। सीनेट के इलेक्शन टालने पर पूर्व रेल मंत्री बंसल ने लिखा है कि यूनिवर्सिटी के इस लोकतांत्रिक ढांचे को अलविदा। 1984 से बाद से लगातार सीनेट मेंबर रहे बंसल सिर्फ एक बार सिंडिकेट के मेंबर रहे हैं।

उन्होंने लिखा है कि इस लोकतांत्रिक ढांचे को बचाने की जिम्मेदारी पंजाब के गवर्नर और यूटी के प्रशासक पर है। जब इंटर स्टेट ट्रैवल शुरू हो गया है, इस समय विधानसभा के सेशन चल रहा है। बिहार विधानसभा और 57 अन्य विधानसभा सीटों के इलेक्शन देश भर में हो रहे हैं तो सिर्फ पंजाब के सीनेटरों के जरिए कैसे कोविड फैलने का डर रहेगा। प्रशासनिक अधिकारियों और पीयू के वाइस चांसलर को इसका डर सता रहा है।

15 अगस्त काे लेटर जारी करके पीयू ने इलेक्शन टाल दिए थे। इससे पहले भाजपा से जुड़े सीनेटरों ने इलेक्शन को टालने के लिए चांसलर व उपराष्ट्रति वैंकेया नायडु को लेटर लिखा था। ये लेटर गवर्नर और पंजाब के सीएम को भी भेजा गया था।

पीयू ने इसी लेटर के आधार पर यूटी से तो राय मांगी लेकिन पंजाब सरकार से कोई राय नहीं मांगी गई है। हालांकि यूटी का कोई दखल पीयू में नहीं है। यहां तक कि कोर्ट में भी यूटी अधिकारी पीयू को इन्फ्रास्ट्रक्चर के लिए ग्रांट देने से मना कर चुकी है।

पीयू यूटी के करीब 21 कॉलेजों को एफिलिएट करती है लेकिन यूटी उनको बजट से कुछ नहीं देता। पीयू के निवासी नगर निगम इलेक्शन में वोट करते हैं लेकिन रेजिडेंशियल एरिया पर पार्षद एक पैसा भी खर्च नहीं करते। सिर्फ यूटी से ही राय मांगे जाने पर पहले भी कुछ सीनेटरों ने सवाल उठाया था। सूत्रों के अनुसार बोर्ड ऑफ गवर्नेंस के इंतजार तक पीयू इस सीनेट इलेक्शन काे टालना चाहती है। 31 अक्टूबर को इस सीनेट का कार्यकाल पूरा हो जाएगा।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- रचनात्मक तथा धार्मिक क्रियाकलापों के प्रति रुझान रहेगा। किसी मित्र की मुसीबत के समय में आप उसका सहयोग करेंगे, जिससे आपको आत्मिक खुशी प्राप्त होगी। चुनौतियों को स्वीकार करना आपके लिए उन्नति के...

और पढ़ें