पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Chandigarh
  • Fake Datesheet Viral, First Exam From July 14, The Fourth Semester Of BA B.Com B.Sc Examination Was Shown In This Date Sheet.

पंजाब यूनिवर्सिटी:फर्जी डेटशीट वायरल, 14 जुलाई से पहला एग्जाम, इस डेट शीट में बीए बीकॉम बीएससी के चौथे सेमेस्टर के एग्जाम दिखाए गए

चंडीगढ़एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • कुछ ही दिनों के भीतर अब फर्जी नोटिफिकेशन का दूसरा मामला, पुलिस में दी शिकायत

पंजाब यूनिवर्सिटी की फर्जी डेटशीट मंगलवार की देर रात से वायरल है। इस डेट शीट में बीए बीकॉम बीएससी के चौथे सेमेस्टर के एग्जाम दिखाए गए हैं। सोशल मीडिया के विभिन्न मंच पर चल रही इस डेट शीट में एग्जाम कोड और सब्जेक्ट कोड भी लिखे गए हैं। डेटशीट हूबहू यूनिवर्सिटी की ओर से जारी होने वाली डेटशीट से मिलती-जुलती हैं। इसे लेकर यूनिवर्सिटी के पास लगातार सवाल आ रहे हैं क्योंकि यूनिवर्सिटी ने फिलहाल सिर्फ फाइनल ईयर के एग्जाम लेने का फैसला किया है और इंटरमीडिएट स्टूडेंट्स के एग्जाम को लेकर कोई डिसीजन नहीं है।

पीयू ने अपने ऑफिशियल सोशल मीडिया हैंडल्स पर इस बारे में क्लेरीफिकेशन दिया है और इसके साथ ही पुलिस में इसके खिलाफ केस दर्ज करने के लिए भी लिखा है। चीफ ऑफ यूनिवर्सिटी सिक्योरिटी प्रो. अश्विनी कौल का कहना है कि उन्होंने सेक्टर 11 के थाने, साइबर सेल और एसएसपी ऑफिस में शिकायत दर्ज करवा दी है। उल्लेखनीय है कि कुछ ही दिनों के भीतर यह फर्जी नोटिफिकेशन का दूसरा मामला है। इससे पहले कंट्रोलर ऑफ एग्जामिनेशन (सीओई) प्रो. परविंदर सिंह के फर्जी साइन वाला नोटिफिकेशन जारी हुआ था।

चंडीगढ़ पुलिस अभी तक उस मामले का पता भी नहीं लगा पाई है। फर्जी डेट शीट में पहला एग्जाम एनवायर्नमेंट स्टडीज का बताया है। जिसमें एक सेक्शन ट्रैफिक और एक वूमेन एंड चाइल्ड क्राइम से जुड़ा होता है। 18 जुलाई को इस एग्जाम के बाद सोमवार 20 को केमिस्ट्री का एग्जाम बताया है। एग्जाम का समय दोपहर 2:00 से शाम को 4:00 बजे यानी 2 घंटे का है।

गाइडलाइंस में स्पष्ट किया कि एग्जाम 2 घंटे के ही होंगे इसलिए फर्जी डेटशीट बनाने वाले ने इसमें समय 2 घंटे का रखा है। सीओई प्रो. सिंह का कहना है कि उनके पास यह जानकारी आई थी और दिन भर एग्जामिनेशन ब्रांच के हेल्पलाइन नंबर पर इससे संबंधित जानकारियां मांगी।

अब चीफ ऑफ यूनिवर्सिटी सिक्योरिटी ने मांगी मदद
पीयू टीचर्स को फर्जी ई-मेल आने का सिलसिला रुक नहीं रहा। अब चीफ ऑफ यूनिवर्सिटी सिक्योरिटी का एडिशनल चार्ज संभाल रहे प्रो. अश्विनी कौल के नाम से टीचर्स को ई-मेल गई है कि तुरंत उनको कॉल करें, उन्हें मदद की जरूरत है। यह ईमेल न तो प्रो. कौल की ईमेल है और न ही उन्होंने इसे कभी एक्सेस किया है। प्रो. कौल ने बताया कि उनको डिपार्टमेंट के व्हाट्सएप ग्रुप में किसी कुलीग ने ईमेल डालकर कारण पूछा कि यह क्या माजरा है। प्रो. कौल ने कहा कि यह गंभीर मामला है और पुलिस को इस तरह के अपराधियों की जल्द तलाश करनी चाहिए।

खबरें और भी हैं...